1. home Hindi News
  2. national
  3. maharashtra government to put these four demands in meeting with pm modi including shortage of corona vaccine aml

कोरोना वैक्सीन की किल्लत सहित पीएम मोदी के साथ बैठक में ये चार मांग रखेगी महाराष्ट्र सरकार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सीएम उद्धव ठाकरे.
सीएम उद्धव ठाकरे.
PTI Photo
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज कोरोना पर राज्य के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे.

  • कोरोना वैक्सीन के अधिक डोज की डिमांंड के साथ महाराष्ट्र करेगी चार मांग.

  • महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना वैक्सीन के वितरण में केंद्र पर लगाया भेदभाव का आरोप.

मुंबई : महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार (Uddhav Thackarey Government) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के साथ आज होने वाली बैठक में चार मांग रख सकती है. इसमें पहली मांग कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) की होगी. बता दें कि मुंबई के करीब 26 टीकाकरण केंद्रों पर कोरोना वैक्सीन की किल्लत हो गयी है और ये बंद हो गये हैं. इसके अलावा 26 और इसी कारण से बंद होने की कगार पर हैं. महाराष्ट्र के स्वास्थ्य राजेश टोपे ने इस बाबत स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन से बात भी की है.

एक अंग्रेजी न्यूज पेपर की खबर के मुताबिक आज की बैठक में महाराष्ट्र सरकार नरेंद्र मोदी के सामने वैक्सीन की किल्लत का मुद्दा उठाएगी. इसके साथ ही महाराष्ट्र की ओर से तीन और मांगे भी प्रधानमंत्री के सामने रखने की चर्चा है. महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पीएम मोदी से हर महीने करीब डेढ़ करोड़ वैक्सीन की डोज की मांग करेंगे. महाराष्ट्र के विभिन्न टीकाकरण केंद्रों पर रोजाना करीब 4 लाख लोगों को टीका लगाया जा रहा है.

टोपे के अनुसार मुख्यमंत्री ठाकरे सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन की सप्लाई को बढ़ाने के लिए भी केंद्र से मांग कर सकती है. इसके अलावा सरकारी अस्पतालों में खासकर पुणे आदि शहरों में बिस्तरों की संख्या बढ़ाने की मांग भी की जा सकती है. इसके साथ-साथ कोरोनावायरस संक्रमण के इलाज में प्रभावी दवा रेमेडेसिविर की कीमतों को नियंत्रित करने की मांग भी उद्धव ठाकरे प्रधानमंत्री से कर सकते हैं.

टोपे ने कहा कि इस संख्या को बढ़ाकर 6 लाख डोज प्रतिदिन करने की तैयारी है. उन्होंने कहा ऐसा होने पर महाराष्ट्र को हर सप्ताह करीब 40 लाख और हर महीनें करीब 1.6 करोड़ वैक्सीन के डोज की आवश्यकता होगी. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार महाराष्ट्र के साथ भेदभाव कर रही है. हमारे यहां सबसे ज्यादा एक्टिव मामले हैं और 57 हजार से अधिक लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है. इसके बावजूद केंद्र हमारे साथ भेदभाव कर रहा है.

राजेश टोपे ने कहा कि इस संबंध में उन्होंने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से बात भी की है. इसपर डॉ हर्षवर्धन ने वैक्सीन के डोज बढ़वाने का आश्वासन भी दिया है. बता दें कि मुंबई में कुल 120 टीकाकरण केंद्र हैं. इसमें से 73 प्राइवेट हैं. 26 प्राइवेट टीकाकरण केंद्र बंद हो चुके हैं और 26 और आज शाम तक टीका खत्म होने के कारण बंद हो सकते हैं. इसी प्रकार नवी मुंबई में 23 टीकाकरण केंद्र बंद हो गये हैं. प्रधानमंत्री आज शाम 6:30 बजे राज्य के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें