1. home Hindi News
  2. national
  3. madhya pradesh by election 2020 latest updates kamal nath attack on bjp and cm shivraj singh chouhan eci kamal nath amh

Madhya Pradesh by Election 2020 : भाजपा ने ऐसे गिराई थी मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार! कांग्रेस नेता कमलनाथ ने लगाए ये गंभीर आरोप

By Agency
Updated Date
Madhya Pradesh by Election 2020
Madhya Pradesh by Election 2020
prabhat khabar

Madhya Pradesh by Election 2020 : मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव (MP By Poll) को लेकर सूबे में बयानों का दौर तेज हो चला है. प्रदेश में मुख्य मुकाबला भाजपा (BJP) और कांग्रेस (Congress) के बीच है. दोनों ही पार्टियों के नेता मतदाताओं को आकर्षित करने का कोई भी मौका गंवाना नहीं चाहते हैं. इसी बीच कांग्रेस नेता कमलनाथ (kamal nath attack on cm shivraj singh chouhan) ने दावा किया है कि मध्यप्रदेश में मार्च में कांग्रेस की सरकार गिराकर सत्ता में आई भाजपा ने वास्तव में उससे चार माह पहले ही कांग्रेस के विधायकों के साथ ‘‘सौदेबाजी'' शुरू कर दी थी.

ग्वालियर में मंगलवार को उपचुनाव की एक रैली को संबोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा, मैंने सरकार के लिये सौदेबाजी नहीं की क्योंकि मैंने हमेशा स्वच्छ राजनीति की है. कांग्रेस सरकार गिराने के (मार्च माह) चार महीने पहले से ही सौदेबाजी चल रही थी. उन्होंने कहा कि संविधान निर्माता बाबा साहब अंबेडकर ने भी नहीं सोचा होगा कि सौदेबाजी के कारण एक-दो नहीं बल्कि 28 सीटों पर उपचुनाव होंगे.

उन्होंने कहा कि इसमें से ज्यादातर सीटें ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में हैं. उनके अनुसार इस राजनीतिक सौदेबाजी ने ग्वालियर-चंबल को कलंकित किया है और तीन नवंबर को जो मतदान होगा, उससे मध्यप्रदेश के भविष्य और स्वच्छ राजनीति का आचरण तय होगा.

ग़ौरतलब है कि मार्च में कांग्रेस के 22 विधायकों द्वारा त्यागपत्र देने के बाद भाजपा में शामिल होने से कांग्रेस की कमलनाथ सरकार गिर गयी थी और इसके बाद शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में भाजपा की सरकार सत्ता में आई. भोपाल में प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा कि कमलनाथ का बयान चेहरा बचाने वाला कार्य है, दरअसल वह सत्ता में रहते हुए अपनी पार्टी के विधायकों को साथ रखने में विफल रहे थे. मध्यप्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं. इनमें से 16 सीटें ग्वालियर-चंबल इलाके में हैं. उपचुनाव के तहत तीन नवंबर को मतदान और दस नवंबर को मतों की गणना होगी.

नए कृषि क़ानूनों से किसानों का नुकसान होगा: इधर, कांग्रेस नेता एवं राजस्थान के पूर्व उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मंगलवार को कहा कि केन्द्र सरकार ने कोरोना महामारी के बीच बिना किसी से परामर्श किए नए कृषि कानून बनाए हैं जिनसे न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की व्यवस्था समाप्त हो जाएगी और किसानों का नुकसान होगा. मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव में कांग्रेस उम्मीदवारों के पक्ष में पायलट ग्वालियर-चंबल इलाके में प्रचार करने के लिए दो दिन के चुनावी दौरे पर पहुंचे हैं.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें