1. home Home
  2. national
  3. jammu kashmir encounter top commander of lashkar was killed in the encounter there was a reward of 10 lakhs three terrorists were killed jammu kashmir militant encounter pkj

जम्मू कश्मीर: मुठभेड़ में मारा गया 10 लाख का ईनामी लश्कर का टॉप कमांडर, तीन आतंकी हुए ढेर

सुरक्षा जवानों ने जिन आतंकियों को मार गिराया है उनमें लश्कर का टॉप कमांडर मुदासिर पंडित भी शामिल है. उसके दो साथी भी इस मुठभेड़ में मारे गये. आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ कल से जारी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
jammu kashmir encounter news today
jammu kashmir encounter news today
pti file photo

जम्मू-कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में तीन आतंकवादियों को मार गिराया है. जम्मू और कश्मीर पुलिस ने कहा कि रविवार शाम तंत्रपोरा ब्राथ गांव में शुरू हुई मुठभेड़ के बाद सुरक्षाबलों को यह सफलता मिली है. सुपोर के तंत्रपोरा ब्राथ गांव में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बलों को यह सफलता मिली है.

सुरक्षा जवानों ने जिन आतंकियों को मार गिराया है उनमें लश्कर का टॉप कमांडर मुदासिर पंडित भी शामिल है. उसके दो साथी भी इस मुठभेड़ में मारे गये. आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ कल से जारी है.

सुरक्षाबलों की यह बड़ी सफलता है क्योंकि जिस लश्कर के टॉप कमांडर को मार गिराया गया है उस पर कई संगीन मामले दर्ज थे हाल में ही उसने तीन पुलिसकर्मियों के साथ- साथ दो पार्षद और आम नागरिकों की भी हत्या कर दी थी. इसके अलावा इन इलाकों में तांडव मचाने के लिए उसने कई आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम दिया था.

इस अभियान को सेना और जम्मू कश्मीर पुलिस के साथ साथ केंज्रीय रिजर्व पुलिस बल ने साथ मिलकर अंजाम दिया है. 12 जून को सोपोर में पुलिस पर हुए आतंकी हमले में दो पुलिसकर्मी और दो आम नागरिक मारे गये थे इसके बाद से ही सुरक्षा बल लगातार आतंकियों की तलाश में अभियान चल रहे थे.

इस हमले के पीछे लश्कर का हाथ था और लश्कर का टॉप कमांडर मुदासिर पंडित इस हमले में शामिल था. इस हमले के बाद से ही सुरक्षा बल उनकी तलाश में थे कई जगहों पर फ़याज़ अहमद वार और मुदासीर पंडित के पूरे सोपोर टाउन में जगह-जगह पोस्टर लगाये गये थे . इनकी तस्वीरों के साथ पकड़ने में मदद करने वाले को 10 लाख रुपये का इनाम देने का भी ऐलान किया गया था. मारे गए आतंकियों में एक पाकिस्तानी नागरिक भी शामिल है जिसका नाम असरार उर्फ अब्दुल्ला है. साल 2018 से उत्तर कश्मीर में एक्टिव था इसके बाद यह आतंकियों के साथ मिल गया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें