1. home Hindi News
  2. national
  3. isis new faction named lashkar e khalsa afghan terrorists will give training pyu

भारत में हमले के लिए ISI ने बनाया 'लश्कर-ए-खालसा', अफगान आतंकी देंगे ट्रेनिंग

लश्कर ए खालसा गुट में पंजाब और हरियाणा के स्थानीय अपराधियों को भी शामिल करने की तैयारी चल रही है, जिसके लिए उन्हें ड्रग्स की कमाई का लालच दिया जा रहा है. वहीं, खबर है कि लश्कर ए खालसा के जरिये जम्मू-कश्मीर में भी हमले करने की साजिश रची जा रही है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
ISI ने भारत में हमले के लिए नये नाम से आतंकी गुट बनाया
ISI ने भारत में हमले के लिए नये नाम से आतंकी गुट बनाया
twitter

पंजाब: पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI ने भारत में हमले के लिए नये नाम से आतंकी गुट बनाया है. गुट का नाम लश्कर-ए-खालसा रखा है. जानकारी के मुताबिक, लश्कर-ए-खालसा में अफगान आतंकियों को शामिल किया गया है, जिन्हें आरपीजी (RPG) समेत सभी आधुनिक हथियार चलाने का अनुभव है. लश्कर ए खालसा गुट में पंजाब और हरियाणा के स्थानीय अपराधियों को भी शामिल करने की तैयारी चल रही है, जिसके लिए उन्हें कमाई का लालच दिया जा रहा है. वहीं, खबर है कि लश्कर ए खालसा के जरिये जम्मू काश्मीर में भी हमले करने की साजिश रची जा रही है.

पंजाब अलर्ट, जम्मू काश्मीर पर भी आतंकियों की नजर

मोहाली में हुए हमले के बाद पंजाब हाई अलर्ट पर है. सूत्रों के अनुसार पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI लश्कर ए खालसा के जरिए मोहाली के बाद अब जम्मू काश्मीर में भी हमले की साजिश कर रहा है. इन्हें अफगान के आतंकियों द्वारा ट्रेनिंग दी जाएगी. वहीं, मोहाली में हुए हमले के बाद मुख्यमंत्री भगवंत मान ने रिपोर्ट तलब की है.

80 मीटर दूर से इंटेलिजेंस बिल्डिंग में दागा गया था ग्रेनेड

पंजाब के मोहाली में इंटेलिजेंस बिल्डिंग के हेडक्वार्टर में सोमवार को हुए हमले के बाद चौकाने वाली खबर सामने आई है. जानकारी के अनुसार इंटेलिजेंस बिल्डिंग की तरफ दो संदिग्ध लोगों को जाते हुए देखे गये थे. जिन्होंने बिल्डिंग के करिब 80 मीटर दूर से ग्रेनेड (rocket propelled grenade) दागा था.

बिल्डिंग पर हमले के बाद भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है. इंटेलिजेंस बिल्डिंग की तरफ जाने वाले सभी रास्तों को बंद कर दिया गया है. हालांकि पंजाब पुलिस ने इस घटना की अबतक पुष्टि नहीं की है. पुलिस का कहना है कि धमका छोटा था. जांच के बाद ही स्पष्ट तौर पर कुछ कहा जा सकेगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें