1. home Hindi News
  2. national
  3. indian railway news pm modi flag off 8 trains today to connectivity to statue of unity know what special in vistadome coach smb

पीएम मोदी ने 8 नयी ट्रेनों को दिखाई हरी झंडी, विस्टाडोम कोच में प्लेन जैसी सुविधाओं का आनंद ले सकेंगे यात्री

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
PM Narendra Modi
PM Narendra Modi
ANI PIC

Indian Railway प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को देश के अलग-अलग शहरों को 'स्टेचू ऑफ यूनिटी' से जोड़ने वाली 8 नयी ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई. पीएम मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए केवड़िया को देश के विभिन्‍न हिस्‍सों से जोड़ने वाली आठ ट्रेनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. स्टेचू ऑफ यूनिटी के लिए आज जो आठ जोड़ी ट्रेनें रवाना हुईं, उनमें से कई लग्जरी हैं और इनमें प्लेन जैसी सुविधाएं हैं. साथ ही प्रधानमंत्री ने गुजरात में विभिन्न रेलवे परियोजनाओं का उद्घाटन किया. इसके अलावा उन्होंने ब्रॉडगेज लेन का भी उद्घाटन किया.

भारतीय इतिहास में ये पहली बार हुआ है कि किसी खास जगह के लिए एक साथ आठ ट्रेनें अलग-अलग आठ जगहों से रवाना हुईं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केवड़िया रेलवे स्टेशन का उद्घाटन भी किया. साथ ही अहमदाबाद से केवड़िया के लिए चलने वाली ट्रेनों में विस्टाडोम वाले कोच लगे हैं. जिससे यात्रा के दौरान यात्रियों को एक अलग आनंद मिलेगा. विस्टाडोम कोच में बैठकर आप अंदर से बाहर का नजारा आसानी देख सकते हैं. इस ट्रेन में पारदर्शी छत होती है. ये ट्रेन गुजरात के केवड़िया स्थित विश्व की सबसे ऊंचे मूर्ति स्टेच्यू ऑफ यूनिटी तक आने-जाने के लिए यात्रियों को बेहतर लग्जरी सुविधा प्रदान करेगी.

पीएम मोदी ने वाराणसी, दादर, अहमदाबाद, हजरत निजामुद्दीन, रीवा, चेन्नई और प्रतापनगर से केवड़िया को जोड़ने के लिए ये ट्रेनें शुरू कीं. इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि रेलवे के इतिहास में संभवत: पहली बार ऐसा हो रहा है जब एक साथ देश के अलग-अलग कोने से एक ही जगह के लिए इतनी ट्रेनों का हरी झंडी दिखाई गई हो. केवड़िया जगह भी तो ऐसी है, इसकी पहचान देश को एक भारत, श्रेष्ठ भारत का मंत्र देने वाले सरदार पटेल की दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा से है. वहीं, इस मौके पर केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि सरदार पटेल ने देश को जोड़ा और भारतीय रेल सरदार पटेल की प्रतिमा को देश से जोड़ने जा रही है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय रेलवे में नयी सोच और नयी तकनीक के साथ काम चल रहा है. भारतीय रेल में सरदार पटेल के विजन का संगम है. पीएम ने कहा कि स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने के लिए स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी से भी ज्यादा पर्यटक आ रहे हैं. लोकार्पण के बाद करीब 50 लाख लोग स्टैच्यू ऑफ यूनिटी देख चुके हैं. इसी के साथ ही केवड़िया में रोजगार के अवसर आएंगे. नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज केवड़िया विश्व के सबसे बड़े पर्यटक क्षेत्र के रूप में उभर रहा है. इस रेल कनेक्टिविटी का लाभ स्टैच्यू ऑफ यूनिटी देखने आने वाले पर्यटकों को मिलेगा.

पीएम मोदी ने कहा कि केवड़िया की पहचान एक भारत-श्रेष्ठ भारत का मंत्र देने वाला. केवड़िया रेल कनेक्टिविटी से आदिवासी भाई बहनों का जीवन भी बदलने जा रहा है. देश में रेल नेटवर्क के आधुनिकीकरण के साथ ही आज देश के उन हिस्सों को रेलवे से जोड़ा जा रहा है जो अभी जुड़े नहीं थे. आज पहले से कहीं ज्यादा तेजी के सा​थ पुराने रेल रूट का चौड़ीकरण और बिजलीकरण किया जा रहा है, रेल ट्रैक को ज्यादा स्पीड के लिए सक्षम बनाया जा रहा है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि छोटा सा खूबसूरत केवड़िया इस बात का बेहतरीन उदाहरण है कि कैसे प्लान तरीके से पर्यावरण की रक्षा करते हुए इकोनॉमी और इकोलॉजी दोनों का तेजी से विकास किया जा सकता है.

विस्टाडोम कोच में क्या है खास

- विस्टाडोम कोच पूरी तरह से एसी होते हैं

- अंदर सभी आधुनिक सुविधाएं मौजूद

-बड़े व चौड़े शीशे की खिड़किया

- शीशे की छत

- छत को छाया देने के लिए लगाए गए हनीकांब ब्लाइंड्स, इंटीरियर यात्रियों के लिए खास

- कोच में यात्रियों के लिए आरामदायक सीट

- मॉडर्न टॉयलेट और उच्च स्तरीय एलईडी लाइटिंग की सुविधा

- साइड की खिड़कियां सामान्य कोच से काफी बड़ी

- दरवाजे काफी हाईटेक और ऑटोमैटिक

- कोच में फ्रीज, ओवन, ज्यूसर ग्राइंडर, हॉट केस जैसी सुविधाएं

- यात्रियों को मिलेगी हाईस्पीड वाई-फाई की सुविधा

- 180 डिग्री तक घूम सकती हैं ट्रेन की सीटें

- सीटें घुमाने की सुविधा के साथ ही इसमें एक खाली स्पेस भी, यात्री खड़े होकर भी कर सकेंगे यात्रा

- विस्टाडोम टूरिस्ट कोच 180 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से दौड़ने में सक्षम

Upload By Samir Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें