1. home Hindi News
  2. national
  3. india test fired vertically launched short range surface to air missile vl srsam says drdo mtj

भारत ने सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल VL-SRSAM का किया सफल परीक्षण

भारत ने सतह से हवा में मार करने वाले मिसाइल का परीक्षण किया है. इसे नौसेना के युद्धपोतों पर तैनात किया जायेगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल VL-SRSAM का सफल परीक्षण
सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल VL-SRSAM का सफल परीक्षण
DRDO

भुवनेश्वर: भारत ने सतह से हवा में मार करने वाली एक मिसाइल का सफल परीक्षण किया है. वर्टिकली लांच्ड शॉर्ट रेंज सरफेस टू एयर मिसाइल (VL-SRSAM) को मंगलवार को ओड़िशा के तट से लांच किया गया. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

डीआरडीओ ने बताया कि सतह से हवा में मार करने वाली यह मिसाइल छोटी दूरी की मिसाइल है. VL-SRSAM मिसाइल 15 किलोमीटर दूर स्थित अपने दुश्मन को मार गिराने में सक्षम है. डीआरडीओ ने भारतीय नौसेना के लिए VL-SRSAM को विकसित किया है.

डीआरडीओ ने कहा है कि Vertically Launched Short Range Surface to Air Missile (VL-SRSAM) को भारतीय नौसेना के युद्धपोतों पर तैनात किया जायेगा. इससे नौसेना की मारक क्षमता भी बढ़ेगी और उसका सुरक्षा कवच भी मजबूत होगा. विस्तृत समाचार की प्रतीक्षा है...

  • भारतीय रक्षा एवं अनुसंधन संगठन ने विकसित की है मिसाइल

  • VL-SRSAM मिसाइल स्वदेश में विकसित की गयी है

  • रडार और इन्फ्रारेड को चकमा देने में सक्षम है VL-SRSAM

स्वदेश में विकसित इस मिसाइल का फरवरी में भी सफल परीक्षण किया गया था. डीआरडीओ का कहना है कि नौसेना में इसके शामिल हो जाने के बाद भारतीय सेना को समुद्री क्षेत्र में होने वाले कई हमलों को नाकाम करने में मदद मिलेगी.

फरवरी में VL-SRSAM के दो परीक्षण हुए थे

तब दो-दो मिसाइल का परीक्षण किया गया था, जिसमें दोनों बार मिसाइल ने टार्गेट को मार गिराया था. फरवरी में VL-SRSAM के न्यूनतम और अधिकतम रेंज का परीक्षण किया गया था. ट्रायल के दौरान वेपन कंट्रोल सिस्टम (WCS) को तैनात रखा गया था.

मिसाइल की लांचिंग के दौरान डीआरडीओ के सीनियर साइंटिस्ट्स के साथ-साथ डीआरडीओ के अलग-अलग लैब डीआरडीएल, आरसीआई, हैदराबाद और आरएंडडी इंजीनियर्स पुणे के वैज्ञानिक मौजूद थे.

ये है VL-SRSAM की विशेषता

डीआरडीओ ने कहा है कि भारतीय नौसेना के लिए उसने जो VL-SRSAM विकसित किया है, उसकी कई खूबियां हैं. नौसेना को समुद्री खतरों से बचाने के लिए बनायी गयी यह मिसाइल रडार या इन्फ्रारेड सेंसर को चकमा देने में भी सक्षम है.

Posted By: Mithilesh Jha

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें