1. home Hindi News
  2. national
  3. india china tension latest update indian army chief mm narvane visit leh ladakah lac says india is ready to deal with any situation upl

India China Tension: लद्दाख में सेना प्रमुख बोले- LAC पर स्थिति नाजुक और गंभीर, किसी भी हालत से मुकाबले के लिए तैयार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
 सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे
सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे
File

India China Tension, Army Chief General Manoj Mukund Naravane: पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीन के साथ जारी तनाव के बीच सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे लद्धाख दौरे पर पहुंचे हैं. उन्होंने माना है कि एलएसी पर स्थिति गंभीर और नाजुक है. मौजूदा हालात को देखते हुए सेना प्रमुख ने कहा कि 'एलएसी पर स्थिति थोड़ी तनावपूर्ण है.

स्थिति को ध्यान में रखते हुए, हमने अपनी सुरक्षा के लिए एहतियातन तैनाती ले ली है, ताकि हमारी सुरक्षा और अखंडता सुरक्षित रहे.' न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए आर्मी चीफ ने कहा कि कल लेह पहुंचने के बाद मैंने अलग-अलग जगहों पर ऑफिसर्स से बात की और स्थिति का जायजा लिया. जवानों का मनोबल बहुत ऊंचा है वो हर चुनौती का सामना करने को तैयार हैं. मैं यकीनन कह सकता हूं कि हमारे जवान न केवल भारतीय सेना बल्कि देश का भी नाम रोशन करेंगे.

उन्होंने कहा कि चीन से सटी सीमा पर तैनात भारतीय जवानों का हौसला सातवें आसमान पर है और वो किसी भी परिस्थिति से निपटने को पूरी तरह तैयार हैं. उन्होंने जोर देते हए कहा कि एलएसी पर तैनात फौजी जवानों का मनोबल बेहद ऊंचा है. कहा कि वो बहुत प्रेरित हैं. उनका मनोबल ऊंचा है और सामने पैदा होने वाली सभी तरह की परिस्थितियों से निपटने को पूरी तरह तैयार हैं.

नरवणे ने कहा, हम दोबारा कहना चाहते हैं कि हमारे अधिकारी और जवान दुनिया में सबसे शानदार हैं और वो न केवल आर्मी बल्कि राष्ट्र को गौरवान्वित करेंगे. सेना प्रमुख ने कहा कि बीते दो-तीन माह से हालात तनावपूर्ण हैं. हम सैन्य स्तर और राजनयिक स्तर पर चीन के साथ वार्ता में जुटे हैं. उन्होंने कहा कि वार्ता से हम आपसी विवाद को सुलझा सकते हैं. हम यह भरोसा देते हैं कि हमारा रूख नहीं बदलेगा. हम अपनी सुरक्षा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

सेना ने दिया चीन को करारा जवाब

बता दें कि पूर्वी लद्दाख में चुशूल सेक्टर के सामने चीन की बढ़ती सैन्य तैनातियों के मद्देनजर भारत ने भी भारी संख्या में अपने फौजी अग्रिम मोर्चों पर तैनात कर दिए हैं ताकि भविष्य में चीनी सेना के किसी भी दुस्साहसिक प्रयासों का मुंहतोड़ जवाब दिया जा सके. इलाके में दोनों देशों ने एक-दूसरे के आमने-सामने भारी संख्या में फौजियों, टैंकों, हथियारयुक्त वाहनों और हॉवित्जर तोपों में तैनात कर रखा है.

29-30 अगस्त की मध्य रात्रि में पैंगोंग शो झील के दक्षिण किनारे चीनी सेना घुसपैठ की नापाक हरकत की थी, जिसे भारतीय जवानों ने नाकाम कर दिया था. यही नहीं, भारतीय जवान इस इलाके की कुछ ऊंचाई वाली चोटियों पर अपनी स्थिति मजबूत कर ली है.

Posted By; Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें