1. home Hindi News
  2. national
  3. india china dispute indias historic step 50 thousand soldiers deployed on the border of china india china border news pkj

भारत का ऐतिहासिक कदम, चीन की सीमा पर तैनात किये 50 हजार सैनिक

india china dispute India's historic step 50 thousand soldiers deployed on the border of China india china border news चीन भारतीय सीमा पर लगातार घुसपैठ की कोशिश करता रहा है भारत और चीन के सैनिकों के बीच कई झड़प भी हुई. भारत सरकार लगातार इस गतिरोध को खत्म करने की कोशिश करती रही है लेकिन चीन ने भारत की बातचीत के जरिये मुद्दा हल करने की रणनीति पर खुलकर साथ नहीं दिया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
india china dispute
india china dispute
file

भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर कई दौर की बातचीत हुई लेकिन इस बातचीत से भारत और चीन की सीमा पर विवाद सुलझता नजर नहीं आ रहा है. भारत अब चीन को लेकर अपना लहजा सख्त कर रहा है. ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट की मानें तो भारत ने अपनी सीमा पर कम से कम 50,000 अतिरिक्त सैनिकों को तैनात किया है.

चीन भारतीय सीमा पर लगातार घुसपैठ की कोशिश करता रहा है भारत और चीन के सैनिकों के बीच कई झड़प भी हुई. भारत सरकार लगातार इस गतिरोध को खत्म करने की कोशिश करती रही है लेकिन चीन ने भारत की बातचीत के जरिये मुद्दा हल करने की रणनीति पर खुलकर साथ नहीं दिया. भारत अब चीन सीमा पर अपनी स्थिति और मजबूत कर रहा है. भारत ने यह स्पष्ट कर दिया है कि वह इस मामले पर किसी भी तरह का छल कपट बर्दाश्त नहीं करेगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपना पूरा ध्यान चीन के साथ सीमा विवाद को खत्म करने में लगाया है.

इस रिपोर्ट में यह भी जानकारी दी गयी है कि भारत ने चीन के साथ अपनी सीमा के साथ तीन अलग-अलग क्षेत्रों में सैनिकों और लड़ाकू जेट स्क्वाड्रनों को स्थानांतरित कर दिया है. इस बड़े ऐतिहासिक बदलाव के साथ ही भारत के अब लगभग 200,000 सैनिक चीन की सीमा पर तैनात हैं. पिछले साल ही सैनिकों की संख्या में 40 फीसदी बढ़ोतरी की गयी थी. सैनिकों के साथ- साथ हथियार और तकनीकी तौर पर भी खुद को इस इलाके में मजबूत कर रहा है. सैनिकों को एयरलिफ्ट करने के लिए अधिक हेलीकॉप्टर शामिल किये गये हैं.

चीन ने भी अपनी सीमा पर सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी है. चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने तिब्बत में विवादित सीमा के साथ लड़ाकू जेट और नये हवाई क्षेत्रों के लिए निर्माण कार्य शुरू किया है. चीन अपनी सैन्य ताकत को इस इलाके में मजबूत कर रहा है इसके लिए बम-प्रूफ बंकरों को जोड़ रहा है. पिछले कुछ महीनों में लंबी दूरी की तोपखाने, टैंक, रॉकेट रेजिमेंट और दो इंजन वाले लड़ाकू विमान इनमें शामिल हैं.

भारत और चीन कई बार लद्दाख से उत्तरी क्षेत्र में आमने सामने रहे. इन इलाकों में भी सेना की बढ़ोतरी की गयी है. इन इलाकों में 20,000 सैनिकों के बढ़त की खबर आ रही है. भारत ने दक्षिणी तिब्बती पठार पर भी सैनिकों को तैनात किया है ताकि किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए यह तैयार रहें .

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें