1. home Hindi News
  2. national
  3. ima wrote a letter to union home minister amit shah regarding the attack on the doctor in assam demanded to take stern action ksl

असम में चिकित्सक पर हमले को लेकर IMA ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को लिखा पत्र, कड़ी कार्रवाई करने की मांग की

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (फाइल फोटो)
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (फाइल फोटो)
पीटीआई

नयी दिल्ली : इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिख कर स्वास्थ्य संबंधी हिंसा के खिलाफ एक प्रभावी और कड़ी कार्रवाई को मंजूरी देने का अनुरोध किया है. मालूम हो कि असम के होजई जिले में सोमवार को लोगों के एक समूह द्वारा एक डॉक्टर पर हमला किया गया था, जिसमें एक कोरोना मरीज की मौत हो गयी थी.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को लिखे गये पत्र में आईएमए ने कोरोना महामारी के प्रभावी प्रबंधन के लिए बधाई देते हुए कहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन देश के साथ खड़ा है.

साथ ही कहा है कि स्वास्थ्य देखभाल हिंसा, बिना कारण डॉक्टरों, स्वास्थ्य कर्मचारियों और स्वास्थ्य देखभाल प्रतिष्ठानों के खिलाफ निर्देशित हिंसक घटनाएं पिछले कुछ वर्षों में बढ़ी हैं. यह चिकित्सा जगत के लिए खतरा बन गयी है.

आईएमए ने कहा है कि पूरी चिकित्सा बिरादरी देश के साथ खड़ी है. कोरोना महामारी के दौरान अथक प्रयास ही नहीं कर रही बल्कि स्वास्थ्य संबंधी हिंसा से भी गंभीर खतरे का सामना कर रही है. मालूम हो कि असम में सोमवार को डॉ सेज कुमार पर बर्बर हमला हुआ था. वह होजल जिले के कोविड केयर सेंटर में कार्यरत हैं. यह बेहद अमानवीय हमला था.

आईएमए ने कहा है कि डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मचारियों को हिंसा के तनाव में काम करना मुश्किल हो रहा है. हेल्थकेयर कर्मियों पर हिंसा पूरे देश में एक खतरनाक घटना बन गयी है. समस्या का वास्तविक आकार काफी हद तक अज्ञात है.

भारत को स्वास्थ्य देखभाल हिंसा के खिलाफ एक व्यापक, समान और प्रभावी कानून की आवश्यकता है. आईएमए ने केंद्रीय गृहमंत्री से अनुरोध किया है कि स्वास्थ्य देखभाल हिंसा के खिलाफ एक प्रभावी और कड़ी कार्रवाई को मंजूरी दें.

चिकित्सा पेशा अन्य व्यवसायों से अलग होने के कारण, विशेष रूप से स्वास्थ्य देखभाल पेशेवरों और श्रमिकों के लिए हिंसा के खिलाफ एक मजबूत कार्रवाई करना जरूरी हो जाता है. साथ ही आईएमए ने असम घटना के दोषियों पर तत्काल सख्त कार्रवाई का अनुरोध किया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें