1. home Hindi News
  2. national
  3. guwahati bikaner express accident latest update train deralied between mainaguri domohani mtj

यूपी, बिहार, बंगाल के रास्ते राजस्थान से असम जाने वाली ट्रेन मैनागुड़ी-डोमोहनी के बीच डीरेल, ये है अपडेट

यूपी, बिहार, बंगाल के रास्ते राजस्थान से असम जाने वाली ट्रेन मैनागुड़ी-डोमोहनी के बीच डीरेल हो गयी. पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे ने इस पर ताजा अपडेट दिया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Train Accident: गुवाहाटी-बीकानेर एक्सप्रेस हादसे में राहत कार्य पूरा
Train Accident: गुवाहाटी-बीकानेर एक्सप्रेस हादसे में राहत कार्य पूरा
PTI

सिलीगुड़ी/कोलकाता (जितेंद्र पांडेय/कुंदन): राजस्थान से उत्तर प्रदेश, बिहार और बंगाल के रास्ते असम के गुवाहाटी जाने वाली बीकानेर-गुवाहाटी एक्सप्रेस 15633 अप गुरुवार को पश्चिम बंगाल में दुर्घटनाग्रस्त हो गयी. ट्रेन दुर्घटना (Train Accident) अलीपुरदुआर रेल डिवीजन के मैनागुड़ी व दोमोहनी रेलवे स्टेशनों के बीच हुई. इसमें 5 लोगों की मौत हो गयी और 20 लोग घायल हो गये. 40 लोगों को राहत एवं बचाव दल ने सुरक्षित निकाला.

पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे (North-East Frontier Railway) की मुख्य जनसंपर्क अधिकारी गुनीत कौर ने बताया है कि दुर्घटना शाम को करीब 5 बजे के आसपास डोमोहानी और न्यू मयनागुड़ी के बीच हुई. 5 लोगों की मौत हो गयी और 20 अन्य घायल हुए. मृतकों के निकट परिजनों को 5-5 लाख रुपये के मुआवजा का ऐलान किया गया है, जबकि गंभीर रूप से घायलों को 1-1 लाख रुपये दिये जायेंगे. घायलों को 25-25 हजार रुपये देने का ऐलान किया गया है.

गुनीत कौर ने बताया कि दुर्घटना की हाई-लेवल जांच के आदेश दिये गये हैं. पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे की सीपीआरओ ने कहा है कि राहत एवं बचाव अभियान लगभग पूरी हो चुकी है. हमारी टीमों ने सभी प्रभावित लोगों तक मदद पहुंचा दी है. यात्रियों को दूसरी ट्रेन से उनके गंतव्य के लिए रवाना किया जा रहा है. घायल हुए 20 लोगों को जलपाईगुड़ी के अस्पताल ले जाया गया है.

बताया गया है कि दुर्घटना की खबर मिलते ही रेलवे के अधिकारी, दमकल की टीम, स्थानीय प्रसाशन व ग्रामीण पहुंच गये. सभी ने राहत एवं बचाव कार्य शुरू कर दिया. घायलों को आनन-फानन में पास के स्वस्थ्य केंद्र पहुंचा गया, लेकिन बाद में उन्हें एंबुलेंस से जलपाईगुड़ी भेज दिया गया है. जिस वक्त ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त हुई, उसकी रफ्तार करीब 40 किलोमीटर प्रति घंटे थी.

इंजन समेत पांच डिब्बे उस वक्त बेपटरी हो गये, जब ट्रेन 40 किलोमीटर की रफ्तार से चल रही थी. कई डिब्बे एक-दूसरे पर चढ़ गये. इसमें नीचे वाला डिब्बा पूरी तरह से दब गया, जबकि जो बोगी दूसरे डिब्बे पर चढ़ा था, उसका भी निचला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया है. दुर्घटना के कारणों के बारे में अभी तक स्पष्ट जानकारी नहीं मिल पायी है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें