1. home Hindi News
  2. national
  3. ghulam nabi azad praised prime minister narendra modi g23 leaders kapil sibal anand sharma told congress party weak avd

गुलाम नबी आजाद ने की पीएम मोदी की तारीफ, कहा दी बड़ी बात, एक दिन पहले कांग्रेस को दी थी नसीहत

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
अचानक गुलाम नबी आजाद को क्यों अच्छे लगने लगे पीएम मोदी
अचानक गुलाम नबी आजाद को क्यों अच्छे लगने लगे पीएम मोदी
pti photo
  • जी 23 के नेताओं ने कांग्रेस पार्टी को बताया कमजोर

  • गुलाम नबी आजाद ने प्रधानमंत्री मोदी की जमकर तारीफ की

  • संसद से रिटायर होते समय भी आजाद ने पीएम मोदी की तारीफ की थी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और हाल ही में राज्य सभा से रिटायर हुए गुलाब नबी आजाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ की है. कांग्रेस पार्टी से नाराज बताए जा रहे 'ग्रुप-23' के नेताओं में शामिल आजाद ने तारीफ करते हुए उन्होंने जमीन से जुड़ा हुआ नेता बता दिया.

आजाद ने कहा, लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सीखना चाहिए कि कामयाबी की बुलंदियों पर जाकर भी कैसे अपनी जड़ों को याद रखा जाता है. उन्होंने, चाय बेचने की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि पीएम मोदी ने अपनी असलियत नहीं छिपाई.

उन्होंने जम्मू-कश्मीर में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि बहुत से नेताओं की बुहत सी बातें अच्छी लगती हैं. मैं गांव से हूं और मुझे इसका फक्र होता है. उन्होंने मोदी की तारीफ करते हुए कहा, हमारे पीएम मोदी भी कहते हैं गांव से हैं, कहते हैं कि बर्तन मांजता था, चाय बेचता था. उन्होंने आगे कहा, निजी तौर पर हम उनके खिलाफ हैं, लेकिन वो अपनी असलियत नहीं छिपाते. आजाद ने कहा, यदि आपने अपनी असलियत छिपाई तो आप मशीनरी दुनिया में जी रहे होते हैं.

मालूम हो इससे पहले आजाद ने राज्यसभा से रिटायरमेंट के समय भी प्रधानमंत्रील नरेंद्र मोदी की तारीफ की थी. उस दौरान पीएम मोदी ने भी आजाद की जमकर तारीफ की थी और उसकी विदाई में रो पड़े थे. गुलाम नबी आजाद का 15 फरवरी को संसद के उच्च सदन में कार्यकाल पूरा हुआ था.

गौरतलब है कि कांग्रेस में नेतृत्व परिवर्तन और संगठनात्मक फेरबदल की मांग करने वाले वरिष्ठ नेताओं गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा और कपिल सिब्बल समेत ‘जी-23' के नेता शनिवार को जम्मू-कश्मीर में एक मंच पर एकत्र हुए और उन्होंने कहा कि पार्टी कमजोर हो रही है और वे इसे मजबूत करने के लिए एक साथ आये हैं.

सिब्बल ने कहा, यह सच बोलने का मौका है और मैं सच बोलूंगा. हम यहां क्यों इकट्ठे हुए हैं? सच्चाई यह है कि हम देख सकते हैं कि कांग्रेस कमजोर हो रही है. हम पहले भी इकट्ठा हुए थे और हमें एक साथ मिलकर कांग्रेस को मजबूत करना है. इस कार्यक्रम में समूह (जिसे अब ‘जी-23' कहा जाता है) के भूपेंद्र सिंह हुड्डा, मनीष तिवारी, विवेक तन्खा और राज बब्बर जैसे कई अन्य कांग्रेसी नेता भी शामिल हुए.

Posted By - Arbind kumar mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें