1. home Home
  2. national
  3. fighter plane tejas latest updates defence minister rajnath singh inaugurate lca in bengaluru fighter jet indian air force rafel prt

तेजस के तेज से पस्त होंगे दुश्मनों के इरादे, रक्षामंत्री ने कहा- खुद करेंगे अपने स्वाभिमान की रक्षा

cहम कब तक देश की सुरक्षा के लिए दूसरे देशों पर निर्भर रहेंगे, हम लंबे समय तक​ निर्भर नहीं रह सकते. हम सभी का ये संकल्प है जो भी बनाना होगा उसे खुद बनाने की कोशिश करेंगे और सीमा और अपने स्वाभिमान की सुरक्षा करेंगे.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
तेजस करेगा दुश्मनों के दांत खट्टे
तेजस करेगा दुश्मनों के दांत खट्टे
File

हम कब तक देश की सुरक्षा के लिए दूसरे देशों पर निर्भर रहेंगे, हम लंबे समय तक​ निर्भर नहीं रह सकते. हम सभी का ये संकल्प है जो भी बनाना होगा उसे खुद बनाने की कोशिश करेंगे और सीमा और अपने स्वाभिमान की सुरक्षा करेंगे. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बेंगलुरु में हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स की लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट की दूसरी प्रोडक्शन लाइन के उद्घाटन के मौके पर यह बात कही है.

बता दे, आज यानी 2 फरवरी को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बेंगलुरु में हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स की लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट की दूसरी प्रोडक्शन लाइन का उद्घाटन किया है. उद्घाटन के मौके पर उन्होंने आत्मनिर्भर भारत पर जोर देते हुए कहा कि हम सीमा और अपने स्वाभिमान की सुरक्षा खुद करेंगे. रक्षा मंत्री ने ये भी कहा कि हम कब तक देश की सुरक्षा के लिए दूसरे देशों पर निर्भर रहेंगे.

गौरतलब है कि भारत के दुश्मनों को अबतक राफेल का ही डर सता रहा था. लेकिन अब वो तेजस के तेज से भी नेस्तनाबूत होंगे. इसी कड़ी में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड के दूसरे लाइट कॉम्बेट एयरक्राफ्ट (Light Combat Aircraft ) के प्रोडक्शन लाइन का उद्घाटन किया है. बता दें, वायुसेना को तेजस की लाइट कॉम्बेट एयरक्राफ्ट की डिलीवरी मार्च 2024 में शुरू होगी.

गौरतलब है कि तेजस स्वदेश में बना एक हल्का व कई तरह की भूमिकाओं वाला जेट लड़ाकू विमान है. इसे हिन्दुस्तान एरोनाटिक्स लिमिटेड ने विकसित किया है. यह सिंगल सिटर एक इंजन वाला विमान है. इसके पहले संस्करण के बाद अब अत्याधुनिक हथियारों और तकनीक से लैस दूसरे संस्करण की तैयारी चल रही है. तेजस मार्क 2 में ज्यादा शक्तिशाली इंजन, अधिक मारक क्षमता, इलेक्ट्रॉनिक युद्ध प्रणाली होंगी. तेजस मार्क 2 कई उन्नत तकनीकों से लैस होगा.

बता दें, तेजस 1350 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भर सकता है. इस लड़ाकू विमान पर दो आर-73 एयर-टू-एयर मिसाइल फिट हो सकते हैं. इसका वजन 12 टन है, और इसकी लंबाई 13.2 मीटर है. यह विमान स्वदेशी कार्बन फाइबर से बना है. इसके कारण बजन के हिसाब से यह बेहद हल्का है. वहीं तेजस मार्त 2 को और घातक बनाने की कवायद हो रही है.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें