1. home Hindi News
  2. national
  3. farmers tractor rally violence live updates delhi police taking strict action on republic day 2021 delhi and up police cordon ghazipur singhu and tikri border rakesh tikait yogendra yadav avd

Kisan Andolan LIVE Update : क्या खत्म हो जाएगा किसान आंदोलन ? गाजीपुर बॉर्डर पर भारी पुलिस बल तैनात, राकेश टिकैत अड़े

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
राकेश टिकैत बोले, दम है तो खाली करा लो बॉर्डर
राकेश टिकैत बोले, दम है तो खाली करा लो बॉर्डर
pti photo

delhi Violence LIVE Updates, delhi violence live news, Farmers Tractor Rally Violence, delhi police taking strict 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के दिन ट्रैक्टर परेड में फैली हिंसा के बाद किसान आंदोलन कमजोर पड़ता नजर आ रहा है. हिंसा के बाद कई किसान संगठनों ने जहां आंदोलन से अपना हाथ खींच लिया है, वहीं दिल्ली पुलिस इस मामले में अब एक्शन में आ गयी है. पुलिस ने दिल्ली हिंसा मामले में अब तक 33 एफआईआर दर्ज किये हैं और राकेश टिकैत, योगेंद्र यादव और मेधा पाटकर समेत 37 किसान नेताओं के खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी किया गया है. किसान आंदोलन से जुड़ी हर अपडेट के लिए बने रहे https://www.prabhatkhabar.com/ के साथ...

email
TwitterFacebookemailemail

किसान नेता ने कहा, दिल्ली पुलिस के नोटिसों से डरेंगे नहीं

ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा के बाद पुलिस की कार्रवाई पर संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा, हम दिल्ली पुलिस द्वारा भेजे गए नोटिसों से डरेंगे नहीं. सरकार 26 जनवरी की हिंसा के लिए हमें दोषी ठहराकर कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन को खत्म करने का प्रयास कर रही है, यह स्वीकार्य नहीं है. असली दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय, पुलिस शांति से विरोध कर रहे किसानों को गिरफ्तार कर रही है.

email
TwitterFacebookemailemail

भारतीय किसान यूनियन (एकता) ने MSP पर कानून बनाने की मांग की

आंदोलन से नाम वापस लेने वाले भारतीय किसान यूनियन (एकता) ने केंद्रीय कृषि मंत्री को सौंपे गए अपने ज्ञापन में MSP पर एक कानून बनाने की मांग की और सरकार से अनुरोध किया कि वह किसानों के साथ बातचीत कर एक प्रस्ताव निकाले. उन्होंने यह भी मांग की कि यूपी में किसानों को कम दर पर बिजली उपलब्ध कराई जाए.

email
TwitterFacebookemailemail

प्रियंका गांधी का ट्वीट - 'गाजीपुर, सिंघू बॉर्डर पर किसानों को धमकाया जा रहा'

बॉर्डर से किसानों को हटाये जाने पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने लिखा, हिंसक तत्वों पर सख्त कार्यवाही की जाए, लेकिन जो किसान शांति से महीनों से संघर्ष कर रहे हैं, उनके साथ देश की जनता की पूरी शक्ति खड़ी है. उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा, कल आधी रात में लाठी से किसान आंदोलन को खत्म करने की कोशिश की. आज गाजीपुर, सिंघू बॉर्डर पर किसानों को धमकाया जा रहा है. यह लोकतंत्र के हर नियम के विपरीत है. कांग्रेस किसानों के साथ इस संघर्ष में खड़ी रहेगी. किसान देश का हित हैं. जो उन्हें तोड़ना चाहते हैं- वे देशद्रोही हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

टिकैत ने कहा, पुलिस चाहे गोली मार दे, बॉर्डर नहीं खाली करेंगे

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा, चाहे पुलिस उन्हें गोली मार दे, लेकिन वो बॉर्डर खाली नहीं करेंगे. इधर प्रशासन लगातार प्रदर्शनकारियों से बॉर्डर खाली करने का आग्रह

email
TwitterFacebookemailemail

गाजीपुर में पुलिस और किसान आमने-सामने, राकेश टिकैत बोले, दम है तो खाली करा लो बॉर्डर

गाजीपुर में पुलिस और किसान आमने-सामने आ गये हैं. प्रशासन ने प्रदर्शनकारियों को बॉर्डर खाली करने के लिए नोटिस दिया है, तो किसान नेता राकेश टिकैत ने साफ कर दिया है कि वो बॉर्डर खाली नहीं करेंगे. उन्होंने प्रशासन को चुनौती दी है और कहा खाली करा लो बॉर्डर. टिकैत ने पुलिसवालों को गद्दार बताया और कहा, उनकी बात केवल सरकार से होगी.

email
TwitterFacebookemailemail

राकेश टिकैत को मिला आरएलडी प्रमुख अजित सिंह का साथ

राकेश टिकैत से आरएलडी प्रमुख अजित सिंह ने कहा, चिंता मत कीजिए सब साथ हैं. उन्होंने कहा, किसानों के लिए जीवन और मरण की स्थिति बन गयी है.

email
TwitterFacebookemailemail

दो और किसान संगठनों ने आंदोलन खत्म किया

दिल्ली हिंसा के बाद किसान आंदोलन में फूट पड़ गयी है. बुधवार को दो किसान संगठनों के आंदोलन समाप्त करने की घोषणा के बाद आज दो और किसान संगठनों ने आंदोलन खत्म करने का ऐलान कर दिया है. आंदोलन समाप्त करने वाले किसान संगठनों में बीकेयू (एकता) और बीकेयू (एकता) शामिल हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

गाजीपुर में प्रदर्शनकारियों को बॉर्डर खाली करने का नोटिस

गाजीपुर में प्रदर्शनकारी किसानों को प्रशासन की ओर से नोटिस जारी किया गया है. धारा 133 के तहत प्रदर्शनकारियों को नोटिस जारी किया गया है. प्रशासन ने किसानों को बॉर्डर खाली करने के लिए कहा. वहीं दूसरी ओर प्रदर्शनकारी किसानों ने प्रशासन के खिलाफ कोर्ट में अर्जी देने का फैसला किया है.

email
TwitterFacebookemailemail

जब तक सांस चलेगी तब तक लड़ेंगे

बॉर्डर खाली करने के आदेश के बीच किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा, जबरदस्ती से किसान आंदोलन बंद नहीं होगा. जब तक सांस चलेगी तब तक लड़ेंगे. अभी हमारी कोई योजना नहीं है. अभी हम मीटिंग करेंगे. पता नहीं सरकार क्या-क्या षड्यंत्र करती है.

email
TwitterFacebookemailemail

प्रदर्शनकारी किसानों को यूपी गेट खाली करने का दिया अल्टीमेटम

योगी सरकार के आदेश के बाद गाजियाबाद प्रशासन ने प्रदर्शनकारी किसानों को गुरुवार आधी रात तक यूपी गेट खाली करने का अल्टीमेटम दे दिया है.

email
TwitterFacebookemailemail

गाजीपुर बॉर्डर पर वज्र वाहन तैनात, वाटर कैनन भी तैयार

गाजीपुर बॉर्डर पर वज्र वाहन तैनात कर दिया गया है. इसके साथ ही वाटर कैनन भी वहां तैनात कर दिया गया है. बॉर्डर पर भारी संख्या में पुलिस बल और आरएएफ के जवानों की तैनाती की गयी है.

email
TwitterFacebookemailemail

गाजीपुर बॉर्डर में धारा 144 लागू

गाजीपुर बॉर्डर जहां किसाने नेता राकेश टिकैत जमे हुए हैं, वहां भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. वहां धारा 144 लागू कर दिया गया है. यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक्शन लेते हुए सभी बॉर्डरों को खाली कराने का आदेश दे दिया है. जिसके बाद यहां कार्रवाई की जा रही है.

email
TwitterFacebookemailemail

किसान नेता नरेश टिकैत ने धरना समाप्त करने का संकेत दिया

भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकैत ने आंदोलन खत्म करने के संकेत दिये हैं. उन्होंने कहा, हम धरना तो समाप्त कर देंगे. धरना स्थल (गाजीपुर बॉर्डर) पर पानी, बिजली अन्य सुविधाएं बंद कर दिए गए हैं. अब हम वहां क्या करेंगे? उठ ही जाएंगे.

email
TwitterFacebookemailemail

किसान नेता राकेश टिकैत ने अनशन का ऐलान किया

किसान नेता राकेश टिकैत ने अनशन का ऐलान कर दिया है. उन्होंने रोते हुए कहा कि अगर कृषि कानून वापस नहीं लिया जाता है, तो वो आत्महत्या कर लेंगे. गाजीपुर बॉर्डर से भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा, प्रशासन ने पानी हटा दिया, बिजली काट दी, सारी सुविधा हटा दी. उन्होंने कहा, जब तक सरकार से बात नहीं होगी धरणा प्रदर्शन समाप्त नहीं होगा. उन्होंने इसके बाद फैसला लिया है कि जब तक गांव के लोग ट्रैक्टरों से पानी नहीं लाएंगे, पानी नहीं पीऊंगा.

email
TwitterFacebookemailemail

क्या खत्म हो जाएगा किसान आंदोलन ?

26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के दिन ट्रैक्टर परेड में फैली हिंसा के बाद किसान आंदोलन कमजोर पड़ता नजर आ रहा है. हिंसा के बाद कई किसान संगठनों ने जहां आंदोलन से अपना हाथ खींच लिया है, वहीं दिल्ली पुलिस इस मामले में अब एक्शन में आ गयी है. पुलिस ने दिल्ली हिंसा मामले में अब तक 33 एफआईआर दर्ज किये हैं और राकेश टिकैत, योगेंद्र यादव और मेधा पाटकर समेत 37 किसान नेताओं के खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी किया गया है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें