1. home Hindi News
  2. national
  3. farmers tractor rally violence latest updates republic day delhi tractors march three farm law kisan tractor rally photos and videos hinsa todfod amh

Farmers Tractor Rally : किसानों की ट्रैक्टर परेड में जमकर बवाल, 8 बसें, 17 गाड़ियां तोड़ीं, 22 एफआईआर दर्ज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Farmers Tractor Rally
Farmers Tractor Rally
pti

दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड (Farmers Tractor Rally) के दौरान जमकर बवाल हुआ जिसके कारण सर्दी में भी देश की राजधानी का माहौल गर्म नजर आ रहा है. आंदोलन के दौरान पुलिस के साथ आंदोलनकारियों की झड़पें हुईं जिसका वीडियो (Kisan Tractor Rally video) सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. प्रदर्शन के दौरान पब्लिक प्रोपर्टी को भी नुकसान पहुंचाया गया. पीटीआई की खबर के अनुसार इस बवाल के बाद पुलिस ने छह अलग-अलग थानों में 22 एफआईआर दर्ज की हैं.

दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी में किसानों की ट्रैक्टर परेड के मामले में 22 प्राथमिकी दर्ज की. दिल्ली पुलिस ने जानकारी दी कि किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के संबंध में अभी तक 22 प्राथमिकियां दर्ज की गई है. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पूर्वी जिले में तीन प्राथमिकी दर्ज की गयी है. द्वारका में तीन तथा शाहदरा जिले में एक मामला दर्ज किया गया है.

उन्होंने बताया कि और प्राथमिकी दर्ज होने के आसार हैं. इससे पहले दिन में, तीन कृषि कानूनों के खिलाफ हजारों किसानों ने पुलिस के अवरोधकों को तोड़ दिया और पुलिस के साथ झड़प की, वाहनों में तोड़ फोड़ की और लाल किले पर धार्मिक झंडे फहरा दिये. पुलिस ने बयान जारी कर बताया कि इस हिंसा में पुलिस के 86 जवान हो गये हैं. हिंसा स्थल पर एक प्रदर्शनकारी का ट्रैक्टर पलट गया जिससे उसकी मौत हो गयी.

बयान में कहा गया है कि संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से गणतंत्र दिवस के मौके पर किसान ट्रैक्टर रैली का आयोजन किया गया था. प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड के संबंध में मोर्चा के साथ दिल्ली पुलिस की कई दौर की बैठक हुई थी. बयान के अनुसार मंगलवार को सुबह करीब 8:30 बजे छह हजार से सात हजार ट्रैक्टर सिंघू सीमा पर एकत्र हुए. पहले से निर्धारित रास्तों पर जाने के बदले उन्होंने मध्य दिल्ली की ओर जाने पर जोर दिया. बार बार आग्रह के बावजूद निहंगों की अगुवाई में किसानों ने पुलिस पर हमला किया और पुलिस के अवरोधकों को तोड़ दिया.

गाजीपुर एवं टीकरी सीमा से भी इसी तरह की घटना की खबरें हैं. इसमें कहा गया है कि आइटीओ पर गाजीपुर एवं सिंघू सीमा से आये किसानों के एक बड़े समूह ने लुटियन जोन की तरफ जाने का प्रयास किया. जब पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोका तो किसानों का एक वर्ग हिंसक हो गया. उन्होंने अवरोधक तोड़ दिये तथा वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को कुचलने का प्रयास किया. पुलिस भीड़ को हटाने में कामयाब रही.

8 बसें, 17 गाड़ियां तोड़ीं: जानकारी के अनुसार प्रदर्शन के दौरान आंदोलनकारियों ने डीटीसी की 8 बसों को बुरी तरह क्षतिग्रस्त करने का काम किया. इन बसों में ट्रैक्टर से टक्कर मारी गईं जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. बसों के शीशे भी तोड़ने का काम प्रदर्शकारियों ने किया. यही नहीं इस प्रदर्शन के दौरान 17 ऐसे वाहनों को भी निशाना बनाया गया, जो सड़क पर थीं और आम लोग उसे ड्राइव कर रहे थे.

भाषा इनपुट केे साथ

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें