1. home Home
  2. national
  3. farmer leader rakesh tikait statement on lapse in pm security rts

PM की सुरक्षा में सेंध पर राकेश टिकैट का बयान, कहा- सहानुभूति पाने का सस्ता तरीका खोजने की कोशिश

पंजाब में बुधवार यानी कल भारतीय इतिहास में वह हुआ जो विरले ही देखने को मिलता है. दरअसल पीएम मोदी की सुरक्षा में बड़ी लापरवाही सामने आई है. वहीं, इस मामले में किसान नेता राकेश टिकैट ने कहा कि यह पीएम मोदी का स्टंट है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
किसान नेता राकेश टिकैट
किसान नेता राकेश टिकैट
ANI

Rakesh tikait on Lapse in PM security: पंजाब में पीएम मोदी(Modi) की सुरक्षा में चूक मामले में कांग्रेस और बीजेपी आमने-सामने है. कोई इसे कांग्रेस की साजिश बता रहा है तो कोई बस छोटी सी लापरवाही. इस बीच कृषि कानूनों की वापसी को लेकर आंदोलनरत रहे किसान नेता राकेश टिकैट का भी बयान सामने आया है. उन्होंने बुधवार यानी कल हुई पूरी घटना को पीएम मोदी का एक सोचा समझा स्टंट बताया है. उन्होंने साफ कहा कि कांग्रेस और बीजेपी बस अपनी राजनीति कर रहे हैं. पीएम मोदी ने जनता की सहानुभूति पाने के लिए यह किया है तो वहीं कांग्रेस भी बस अपना बचाव कर रही है.

मीडिया से बातचीत में भारतीय किसान यूनियन(BKU) के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि जब पीएम पंजाब आ रहे थे तो उन्होंने सुरक्षा को लेकर क्या इंतजाम किए थे? उनके बचने की खबर से साफ हो जाता है कि यह एक स्टंट था. यह जनता की सहानुभूति हासिल करने का सस्ता तरीका खोजने की कोशिश थी. बता दें कि प्रधानमत्री मोदी ने वापस आते वक्त बठिंडा एयरपोर्ट पर अधिकारियों से कहा था कि ”अपने मुख्यमंत्री को धन्यवाद कहना कि मैं जिंदा लौट आया”.

राकेश टिकैट ने कहा कि केंद्र सरकार का कहना है कि सुरक्षा में चूक हुई और पंजाब सरकार का कहना है कि प्रधानमंत्री वहां नहीं गए क्योंकि उनकी रैली में कुर्सियां खाली थी. दोनों केवल अपना बचाव करने की कोशिश कर रहे हैं. प्रधानमंत्री को वहां नहीं जाना चाहिए था. उन्होंने साफ कहा कि पीएम सुरक्षा के बिना वहां कैसे चले गए.

बता दें कि पंजाब में बुधवार को पीएम मोदी की सुरक्षा में बड़ी लापरवाही सामने आई है. प्रधानमंत्री का काफिला फिरोजपुर के रास्ते शहीद स्मारक जाते वक्त फ्लाईओवर में 20 मिनट तक फंसा रहा. उस रास्ते में कुछ आंदोलनकारी लगातार प्रदर्शन कर रहे थे. स्थानीय पुलिस को भी उनपर सख्ती न बरतने के आदेश दिए गए थे. इस दौरान कोई भी बड़ी घटना घट सकती थी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें