1. home Hindi News
  2. national
  3. exclusive lockdown one year how coronavirus changed lifestyle of indian read indepth story from janta curfew to second wave prt

Lockdown One Year : कोरोना ने बदल दिया लाइफ स्टाइल, जनता कर्फ्यू के बाद से कैसे बदली सोच, सेहत और संसार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Corona Virus Lockdown Again
Corona Virus Lockdown Again
Social Media

Corona Update- 17 नवंबर, 2019 को चीन के हुबेई प्रांत के वुहान शहर में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था. यह पहला मौका था जब पूरी दुनिया को अपनी जद में लेने के लिए एक नए किस्म का वायरस सिर उठा चुका था. इस आफत से अनजान पूरी दुनिया शायद यह समझ पाई थी कि जल्द ही उनकी जिंदगी अपने ही घरों में कैद हो जाने वाली है. चीन के लैब से निकलकर धीरे- धीरे यह वायरस इंसान से इंसान में फैलने लगा. और देखते ही देखते इस वायरस ने पूरी दुनिया में पैर पसार लिए. अमेरिका, रुस, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी समेत कई देशों की सीमा लांघते जनवरी 2020 में इसकी पहली दस्तक भारत में हुई. आजादी के बाद पहली बार भारत में ऐसा लॉकडाउन देखने को मिला. आज लॉकडाउन के एक साल होने के मौके पर आइए एक नजर डालते है बीते साल लॉकडाउन की खास बातों पर...

30 जनवरी, 2020 : भारत में कोरोना वायरस का पहला मामला केरल में 30 जनवरी, 2020 को सामने आया था. इसके बाद कोरोना के मामले में लगातार इजाफा होता गया. जिसके बाद मोदी सरकार ने देश में जनता कर्फ्यू का ऐलान किया. पीएम मोदी की इस अपील का ये असर हुआ की 120 करोड़ की आबादी एक दिन के लिए घरों में सिमट गई. पीएम मोदी की अपील के साथ ही भारतीय रेलवे, दिल्ली मेट्रो, सभी एयरलाइंस, मॉल, मूवी थियेटर्स, ट्रांसपोर्ट्स सर्विस ने भी जनता कर्फ्यू का समर्थन किया.

देश में लॉकडाउन, भारत बंदः अबतक देश में कोरोना फैल चुका था, और कोरोना के बढ़ते मामलों के देखते हुए 24 मार्च 2020 को पीएम मोदी ने अपने राष्ट्र के नाम संबोधन में देशव्यापी लॉकडाउन की बात कही. और उसी दिन रात 12 बजे से पूरे देश में 21 दिनों के लिए पूर्ण रूप से लॉकडाउन लागू कर दिया गया. यानी सड़के सुनसान, बाजार बंद, दुकाने बंद, ऑफिस बंद, लोगों को वर्क फ्रॉम होम दे दिया गया. स्कूल कॉलेज बंद कर दिए गए. लेकिन कोरोना की देश में दस्तक हो चुकी थी.

लॉकडाउन का पहला चरण (25 मार्च से 14 अप्रैल)- 24 मार्च देर रात पूरे देश में लॉकडाउन की घोषणा की गई. अब लोग अपने घरों में कैद थे. दफ्तर, स्कूल-कॉलेज सभी घर में ही सिमट गया. ऑनलाइन पढ़ाई होने लगी. सार्वजनिक जगहों को बंद दिया गया. कोरोना को लेकर जारी गाइडलाइन का सख्ती से पालन होने लगा.

  • 24 मार्च 2020: कोरोना के 564 मामले सामने आये. देश कोरोना से 10 लोगों की मौत हो गई.

  • 26 मार्च 2020 : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 170 हजार करोड़ रुपये के प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा की.

  • 27 मार्च 2020 : रिजर्व बैंक ने लोन भुगतान से राहत देने की घोषणा की.

  • 29 मार्च रेलवे ने स्पेशल ट्रेनें चलाने की घोषणा की. इसका मकसद था कोरोना काल में लोग सुरक्षित अपने घरों में पहुंच जाएं.

  • 31 मार्च 2020 : दिल्ली का निजामुद्दीन इलाके में तबलीगी मरकज के धार्मिक आयोजन में बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित मिले.

  • 5 अप्रैल हेल्थ वर्कर और कोरोना वॉरियर्स के सम्मान में लोगों ने घरों में दीये बिजली बंद कर दीए जलाए.

  • 10 अप्रैल 2020 : पीएम मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक की. जिसमें कोरोना महामारी से उपजे हालात पर चर्चा की गई.

  • 14 अप्रैल 2020- मोदी सरकार ने लॉकडाउन की अवधि 3 मई तक के लिए बढ़ाया.

लॉकडाउन का दूसरा चरण: (15 अप्रैल से 3 मई 2020)- 14 अप्रैल के बाद भी देश में लॉकडाउन नहीं हटाया गया. लॉकडाउन के बाद भी कोरोना के मामलों में तेजी से इजाफा हो रहा था. जिसे देखते हुए सरकार ने लॉकडाउन की अवधी को 3 मई के लिए बढ़ा दी. इस बीच देशभर में कोरोना से मौत का आंकड़ा एक हजार पार कर गया था.

  • 16 अप्रैल 2020 - लॉकडाउन के क्षेत्रों को कई जोन में बांट दिया गया. कोरोना संक्रमित इलाकों को रेड, ऑरेंज जोन और ग्रीन जोन में बांट दिया. गया.

  • 20 अप्रैल 2020 : सरकार ने डेयरी, खेती-बाड़ी से जुड़े व्यवसाय, कृषि संबंधित काम करने की छूट दी.

  • 24 अप्रैल 2020 : पीएम नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री सीतारमण ने अन्य मंत्रियों के साथ दूसरे आर्थिक पैकेज को लेकर बैठक की.

  • 25 अप्रैल 2020 : केंद्र की मोदी सरकार ने शहरों में दुकानों को खोलने की इजाजत दे दी.

  • 29 अप्रैल 2020: गृह मंत्रालय ने राज्यों में आवाजाही के लिए गाइडलाइंस जारी किए.

लॉकडाउन का तीसरा चरण- 4 मई 2020 से 17 मई 2020- इस अवधि में लॉकडाउन को 14 दिनों के एक फिर बढ़ाया गया. मई की शुरूआत में देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 42,505 पहुंच गया था. जिसमें 1391 की मौत हो चुकी थी.

  • 1 मई 2020 : केंद्र सरकार ने कुछ राहतों के साथ तीसरी बार देश में लॉकडाउन की मियाद बढ़ायी. गाइडलाइंस में ग्रीन और ऑरेंज जोन को राहत दी गई थी. रेड जोन में पहले की ही तरह सख्ती थी.

  • 1 मई 2020 : श्रमिक स्पेशल विशेष ट्रेनें शुरू की गईं.

  • 7 मई 2020 : वंदे भारत मिशन शुरू किया गया. जिसके तहत विदेशों में फंसे भारतीय लोगों को वतन लाया गया.

  • 13 मई 2020 : पीएम मोदी के ऐलान के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 20 लाख करोड़ के दूसरे बड़े वित्त पैकेज की घोषणा की.

  • 15 मई 2020 : वित्त मंत्री ने तीसरे राहत पैकेज की घोषणा की. इसमें कृषि क्षेत्र के लिए 11 ऐलान किए गए.

  • 16 मई 2020 : वित्त मंत्री ने चौथे आर्थिक पैकेज की घोषणा की.

  • 17 मई 2020 : लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ाया गया.

इंडिया अनलॉक 

अनलॉक एक: 1 जून 2020 से 30 जून 2020 के बीच सरकार ने लॉकडाउन के तहत जो गाइडलाइन बनाए थे उसे लॉकडाउन 5 के बदले अनलॉक एक भी कहा जा सकता है. अनलॉक वन में सरकार ने गाइडलाइन के साथ कई चीजें खोल दी थी. इस दिन से पूरे देश में कहीं भी लोग आने जाने के लिए स्वतंत्र हो गए. अनलॉक-1 के तहत 8 जून से सभी धार्मिक स्थल, होटल, रेस्टोरेंट और शॉपिंग मॉल खुल गए.

  • 1 जून 2020 : रेलवे ने स्पेशल ट्रेनों की संख्या बढ़ाई.

  • 8 जून 2020 : अनलॉक 1.0 की शुरूआत हुई. शॉपिंग मॉल, मंदिर, धार्मिक स्थल, होटल और रेस्टोरेंट खोले गए.

  • 11 जून 2020 : भारत में संक्रमितों का आंकड़ा 3 लाख के कगार पर पहुंच गया. 8 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई.

  • 25 जून 2020 : सीबीएसई ने बोर्ड की बची हुई परीक्षाएं कैंसिल कर दी.

अनलॉक-2.0

जुलाई से देश में अनलॉक-2.0 की प्रक्रिया शुरू की गई. लॉकडाउन सिर्फ रेड जोन में लगा था. अन्य सभी क्षेत्रों अनलॉक की स्थिति थी. हालांकि अभी भी रात 10 बजे से सबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू था.

  • रेड जोन में लॉकडाउन

  • एक राज्य से दूसरे राज्य में आवाजाही की अनुमति

  • शैक्षणिक संस्थान, सिनेमा हॉल, पार्क 31 जुलाई तक बंद रहने का आदेश

अनलॉक 0.3

  • अगस्त के महीने में अनलॉक 0.3 के तहत नाइट कर्फ्यू को भी हटा दिया

  • 5 अगस्त 2020 : से जिम और योग केंद्रों को फिर से खोलने की अनुमति माल गई

  • 15 अगस्त 2020 :सोशल डिस्टेंसिंग के साथ राष्ट्रीय पर्व मनाने की इजाजत.

  • 30 अगस्त 2020 : दिल्ली मेट्रो ने दो मेट्रो लाइनों के साथ अपना परिचालन शुरू किया

अनलॉक 0.4

  • गृह मंत्रालय की ओर से अनलॉक 4.0 के लिए गाइलाइंस जारी किए गए.

  • 30 सितंबर 2020 : तक कंटेनर जोन में लागू रहेगा.

  • 7 सितंबर 2020 : मेट्रो रेल को श्रेणीबद्ध तरीके से फिर से खोलने की अनुमति.

16 जनवरी 2021 : कोरोना की वैक्सीन : कोरोना महामारी को काबू करने के लिए पूरी दुनिया के साथ साथ भारत में भी वैक्सीन की तलाश तेज कर दी. भारत में टीकाकरण अभियान के पहले चरण की शुरुआत 16 जनवरी 2021 से हुई थी. पहले चरण में हेल्थ वर्कर्स और कोरोना वॉरियर्स को वैक्सीन दी गई थी. 14 लाख लोगों को टीके की दूसरी डोज भी दी जा चुकी है. 1 मार्च 2021 से वैक्सीनेशन का दूसरा फेज शुरू हुआ. इस चरण में आम लोगों को वैक्सीन लग रही है. इसी चरण में पीएम मोदी समेत कई मंत्री वैक्सीन लगवा चुके हैं.

कोरोना की दूसरी लहर : देश में नये केस में कमी आने ने बाद अब एक बार फिर कोरोना की दूसरी लहर आ गयी है. जहीं फरवरी महीने में नए संक्रमितों की संख्या घटकर 8 हजार पहुंच गई थी वो मार्च आते आते 40 हजार के आंकड़े को पार कर गई है. फिलहाल देश में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 1,16,86,796 हुई. जबकि देश में अबतक कोरोना से कुल 1,60,166 लोगों की मौत हो गई है. वहीं, देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 3,45,377 हो गई है. यानी एक बार फिर देश में कोरोना की दूसरी लहर ने जोर शोर से रफ्तार पकड़ ली है. ऐसे में फिर लगने लगा है कि कही एक बार फिर देश में लॉकडाउन की नौबत न आ जाए.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें