1. home Hindi News
  2. national
  3. cyclonic storm amfan less in odisha heavy loss in west bengal ndrf chief sn pradhan

Cyclone Amphan : चक्रवाती तूफान 'अम्‍फान' से ओडिशा में कम, पश्चिम बंगाल में भारी नुकसान

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्‍ली : भीषण चक्रवाती तूफान ‘अम्फान' (cyclonic storm amfan ) ने कोलकाता समेत पश्चिम बंगाल (West Bengal ) के कई हिस्सों में भारी तबाही मचाया. तूफान के कारणस अब तक कम से कम 72 लोगों की मौत हो चुकी है और हजारों मकान नष्ट हो गए. निचले इलाकों में पानी भर गया है. हालांकि चक्रवात के कारण ओडिशा को ज्‍यादा नुकसान नहीं हुआ है.

NDRF के डीजी एसएन प्रधान ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बताया दिन में बुधवार को ओडिशा में अम्फान चक्रवात हिट किया था और दोपहर को पश्चिम बंगाल में. ओडिशा में दोपहर और शाम तक NDRF की टीमें तैनात कर दी गई थीं. उन्‍होंने बताया अम्‍फान से पश्चिम बंगाल में नुकसान ज्यादा हुआ है. इसका भी ग्राउंड सर्वे भारत सरकार की टीम द्वारा किया जाएगा. मुख्य सचिव बंगाल ने अतिरिक्त 4 NDRF की टीमों की मांग की है. अभी उनके पास 21 टीमें हैं.

प्रधान ने बताया चक्रवात के कारण ओडिशा में नुकसान कम हुआ है. 24 से 48 घंटों में ओडिशा के जिलों में जीवन सामान्य हो जाएगा. SDRF फंड का आदान-प्रदान MHA टीम के ग्राउंड सर्वे के बाद निर्धारित किया जाएगा.

प्रधान ने बताया चक्रवात के कारण ओडिशा में नुकसान कम हुआ है. 24 से 48 घंटों में ओडिशा के जिलों में जीवन सामान्य हो जाएगा. SDRF फंड का आदान-प्रदान MHA टीम के ग्राउंड सर्वे के बाद निर्धारित किया जाएगा.

वहीं ओडिशा में 2लाख लोग शेल्टर होम्स में थे इनमें से काफी लोगों ने देर शाम और आज सुबह से लौटना शुरू कर दिया है क्योंकि वहां स्थिति सामान्य हो गई है और वातावरण भी ठीक है.

'अम्फान' से हुई मामूली तबाही के बाद ओडिशा सरकार ने मौसम विज्ञान विभाग की तारीफ की

ओडिशा में आए चक्रवाती तू्फान 'अम्फान' से हुई मामूली तबाही के एक दिन बाद बृहस्पतिवार को राज्य सरकार ने भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) की जमकर तारीफ की. राज्य सरकार ने कहा कि समय के साथ ही विभाग मौसम को लेकर बेहतर अनुमान जताने में सक्षम होता जा रहा है. सरकार ने सटीक अनुमान के लिए विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय माहपात्रा को धन्यवाद दिया.

ओडिशा के मुख्य सचिव एके त्रिपाठी ने कहा कि चक्रवात का उतार-चढ़ाव, हवा की गति के साथ-साथ समुद्र में इसके चरित्र और प्रभाव को लेकर मौसम विभाग का अनुमान बिल्कुल 'सटीक' रहा, जिसके चलते राज्य को आपदा का सामना करने के लिए जरूरी तैयारियां करने में काफी सहायता मिली. उन्होंने कहा कि प्राकृतिक आपदा का सटीक अनुमान जीवन और संपत्ति दोनों को ही बचाने का महत्वपूर्ण हथियार साबित होता है. त्रिपाठी ने कहा, आईएमडी इस क्षेत्र में मूल्यवान है और इसका पूर्वानुमान समय के साथ बेहतर हो रहा है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें