1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus pandemic ban on international flight increased dgca imposes ban till 31 march 2021 aml

Coronavirus: इंटरनेशनल फ्लाइट के उड़ान पर रोक बढ़ी, डीजीसीए ने 31 मार्च तक लगायी पाबंदी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
31 मार्च तक वाणिज्यिक उड़ान सेवाएं निलंबित रहने का डीजीसीए का फैसला.
31 मार्च तक वाणिज्यिक उड़ान सेवाएं निलंबित रहने का डीजीसीए का फैसला.
File
  • DGCA ने अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों पर रोक बढ़ा दी है.

  • 31 मार्च 2021 तक नहीं चलेंगे इंटरनेशनल फ्लाइट.

  • 26 जून 2020 से लगी थी इंटरनेशनल फ्लाइट पर रोक.

नयी दिल्ली : भारत सहित दुनिया के कई देशों में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) के टीकाकरण चल रहा है. इसके बावजूद कई जगहों पर कोरोना (Coronavirus) के नये मामले फिर से बढ़ने लगे हैं. ऐसे में अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों पर पाबंदी की अवधि बढ़ा दी गयी है. विमानन नियामक डीजीसीए (DGCA) ने इसकी घोषणा कर दी है. पहले यह पाबंदी 28 फरवरी तक के लिए थी, जिसे बढ़ाकर 31 मार्च 2021 कर दिया गया है.

कोरोनावायरस महामारी के कारण अनुसूचित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का परिचालन पिछले साल 23 मार्च से निलंबित है. नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने एक परिपत्र में कहा, ‘सक्षम प्राधिकरण ने 26 जून, 2020 के परिपत्र की वैधता बढ़ा दी है....' इसके तहत भारत से आौर भारत के लिए अनुसूचित अंतरराष्ट्रीय यात्री सेवाएं 31 मार्च, 2021 तक 23.59 मिनट तक निलंबित रहेगी.

हालांकि चुनिंदा मार्गों पर अंतरराष्ट्रीय अनुसूचित उड़ानों को सक्षम प्राधिकरण द्वारा मामला-दर-मामला आधार पर अनुमति दी जा सकती है. परिपत्र के अनुसार पाबंदी मालवाहक उड़ानों और डीजीसीए की मंजूरी वाले उड़ानों पर लागू नहीं होगी. बता दें कि भारत में कोरोना के ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीकी स्ट्रेन के भी पॉजिटिव मरीज मिले हैं. ऐसे में इन उड़ानों को अभी निलंबित रखा गया है.

देश में शनिवार को लगातार तीसरे दिन कोविड-19 के 16,000 से अधिक मामले आने से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,10,79,979 हो गयी है, जबकि अब तक 1,07,63,451 लोग ठीक हो चुके हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा शनिवार की सुबह आठ बजे अद्यतन किये गये आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में संक्रमण के कुल 16,488 मामले आए. संक्रमण से 113 और लोगों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या 1,56,938 हो गयी है.

आंकड़ों के मुताबिक, देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,59,590 है जो कि संक्रमण के कुल मामलों का 1.44 प्रतिशत है. संक्रमण से अब तक 1,07,63,451 लोग स्वस्थ हो चुके हैं जिससे ठीक होने की दर 97.14 प्रतिशत हो गयी है जबकि मृत्यु दर 1.42 प्रतिशत है. देश में शुक्रवार को संक्रमण के 16,577 मामले और बृहस्पतिवार को 16,738 मामले आये थे.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें