1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus india economy will kv kamath to replace nirmala sitharaman as finance minister social media buzz

क्या निर्मला सीतारमण की जगह केवी कामथ बनेंगे नए वित्त मंत्री? जानिए क्या है कारोबारी जगत में हलचल

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
 प्रख्यात बैंकर केवी कामथ
प्रख्यात बैंकर केवी कामथ
Twitter

कोरोना संकट काल के इस दौर में राजनीतिक गलियारों, कारोबारी जगत और सोशल मीडिया पर इन दिनों एक अलग ही बहस छिड़ी है जिसमें कहा जा रहा है कि प्रख्यात बैंकर केवी कामथ जल्द ही निर्मला सीतारमण की जगह देश के वित्त मंत्री का पद संभाल सकते हैं. ट्वीटर पर ऐसे कई पोस्ट्स हैं जिनमें यूजर्स इस विषय पर बात कर रहे हैं. कई ट्वीट में लोग सवाल कर रहे हैं कि क्या पीएम नरेंद्र मोदी वित्त मंत्री सीतारमण को हटाने वाले हैं? कुछ ट्वीटस में कहा गया है कि यह महज अफवाह है. ऐसा कुछ नहीं है

केवी कामथ ने कुछ दिन पहले ही ब्रिक्स के पांच सदस्य देशों के नेतृत्व में नेशनल डेवलपमेंट बैंक (एनडीबी) के अध्यक्ष के रूप में पद छोड दिया, जिसके बाद इन अटकलों में तेजी आयी है. दावा किया जा रहा है कि बैंकिंग क्षेत्र के दिग्गज केवी कामथ को मोदी सरकार बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है.

हंस इंडिया ने लिखा है कि मोदी सरकार का दूसरा कार्यकाल अबतक अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर फेल रहा है. देश की बिगड़ती अर्थव्यवस्था को लेकर विपक्ष लगातार हमालवर है. ऐसे में देश की आर्थिक हालात मजबूत करना भाजपा की एनडीए सरकार की पहली प्राथमिकता पर है. लगातार गिरती जीडीपी ग्रोथ में रिकवरी के लिए सरकार इंडस्ट्री के अनुभवी लोगों की मदद चाहती है..

कौन हैं केवी कामथ

नेशनल डेवलपमेंट बैंक (एनडीबी) के अध्यक्ष के रूप में पद छोड़ने वाले कुंदापुर वी कामथ की गिनती देश के प्रख्यात बैंकरों में होती है. कामथ को स्क्रैच से बहुपक्षीय ऋण देने वाली संस्था का निर्माण करने का श्रेय दिया जाता है. 72 साल के कामथ इंफोसिस के चेयरमैन भी रह चुके हैं. उन्होंने 1971 में अपने करियर की शुरुआत आईसीआईसीआई फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशन से की थी और इसी संस्था ने आईसीआईसीआई बैंक की स्थापना की और 2002 में बैंक और इस संस्था का विलय कर दिया गया था. साल 2009 में केवी कामथ ने इस संस्था के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ पद से रिटायरमेंट लिया. .

विपक्ष के निशाने पर मोदी सरकार

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरा हो चुका है. इस एक साल में देश की अर्थव्यवस्था को लेकर विपक्ष लगातार हमलावार है. कोरोनासंकट काल में 20 लाख करोड़ रुपये की घोषण हुई मगर कांग्रेस इस पर लगातार सवाल उठा रही है. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में रक्षा मंत्री रहीं सीतारमण को दूसरे कार्यकाल में वित्त मंत्री बनाया गया. वित्त मंत्री के तौर पर सोशल मीडिया पर अक्सर वो निशाने पर रहती हैं. अभी हाल ही में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने मोदी सरकार पर हमला बोला है.

मूडीज द्वारा भारत की रेटिंग घटाये जाने के बाद कहा कि, मूडीज ने मोदी द्वारा भारत की अर्थव्यवस्था को संभालने को कबाड़ (जंक) वाली रेटिंग से एक कदम ऊपर रखा है. गरीबों और एमएसएमई क्षेत्र को समर्थन की कमी का मतलब है कि अभी और अधिक खराब स्थिति आने वाली है. कपिल सिब्बल ने ट्वीट कर लिखा- लिखा है कि 6 साल में परिवर्तन हुआ है, लेकिन मूडी ने जीडीपी की रैंकिंग को डाउनग्रेड कर दिया है. कांग्रेस नेता ने पूछा कि मोदी जी कहां गए?

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें