1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus in maharashtra corona updates new cases mumbai pune thane nashik aurangabad solapur 29th april corona se maut amh

Coronavirus in Maharashtra : महाराष्ट्र में आएगी कोरोना की तीसरी लहर! एक दिन में पहली बार 1 हजार के करीब संक्रमितों की मौत

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Coronavirus in Maharashtra
Coronavirus in Maharashtra
pti
  • महाराष्ट्र में कोविड-19 के 63,309 नए मामले, 985 लोगों की मौत

  • महाराष्ट्र में फरवरी से कोविड-19 की दूसरी लहर शुरू हो गई

  • पहली बार एक दिन में कोरोना की वजह से करीब एक हजार लोगों की जान गई

Coronavirus in Maharashtra : महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढता जा रहा है. सूबे में पहली बार एक दिन में कोरोना की वजह से करीब एक हजार लोगों की जान गई है. बुधवार को कोरोना संक्रमण के 63,309 नए मामले आए जबकि संक्रमण से 985 और लोगों की मौत हो गयी.

स्वास्थ्य विभाग की मानें तो नए मामलों के साथ सूबे में संक्रमितों की संख्या 44,73,394 और मृतक संख्या 67,214 हो चुकी है. वहीं पिछले 24 घंटे के दौरान कुल 61,181 मरीजों को छुट्टी दे दी गयी. अब तक 37,30,729 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं.

महाराष्ट्र में 6,73,481 कोरोना संक्रमित इलाजरत हैं. कारोबारी नगरी मुंबई की बात करें तो यहां 4966 नए मामले आए और 78 लोगों की मौत हो गयी. बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने जानकारी दी कि नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 6,40,507 हो गयी जबकि मृतकों की संख्या 12,990 हो गयी है. बीएमसी के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान 5300 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गयी. शहर में अब तक 5,60,401 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं.

वैक्सीनेशन धीमा होने से महाराष्ट्र में तीसरी लहर आ सकती है

महाराष्ट्र में वैक्सीनेशन की धीमी गति से राज्य में संक्रमण की तीसरी लहर आ सकती है. स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने यह चेतावनी दी है. यह चेतावनी तब जारी की गई है जब महाराष्ट्र सरकार ने कहा कि वह पर्याप्त संख्या में वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने के कारण 18 से 44 वर्ष के लोगों का वैक्सीनेशन एक मई से शुरू नहीं करने जा रही है.

फरवरी से कोविड-19 की दूसरी लहर शुरू हो गई

राज्य स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि महाराष्ट्र में वैक्सीन लगाने योग्य नौ करोड़ लोगों में से महज 1.50 करोड़ लोगों को अभी तक वैक्सीन लग सका है, जो बहुत कम है. यदि हमने वैक्सीनेशन की गति तेज नहीं की तो जब लोग नौकरी या अन्य कामों के लिए बाहर निकलेंगे तो इससे कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर आ सकती है. उन्होंने कहा कि दिसंबर में दी गई छूट से लोग लापरवाह हो गए और इससे फरवरी से कोविड-19 की दूसरी लहर शुरू हो गई. हम अब भी इससे पीड़ित हैं.

भाषा इनपुट के साथ

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें