1. home Hindi News
  2. national
  3. corona vaccine stock in india vaccine stock of less than five days in many states vaccine stock in india pkj

वैक्सीन की कमी को लेकर बढ़ रहा है विवाद, राज्य कह रहे हैं खत्म हो रहा है स्टॉक, केंद्र ने कहा, कोरोना वैक्सीन की कमी नहीं

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कई राज्यों में पाचं दिनों से भी कम का वैक्सीन स्टॉक
कई राज्यों में पाचं दिनों से भी कम का वैक्सीन स्टॉक
सोशल मीडिया टि्वटर

वैक्सीन की कमी को लेकर राज्य और केंद्र के बीच विवाद बढ़ता जा रहा है. राज्यों की शिकायत है कि उनके पास वैक्सीन का स्टॉक खत्म हो रहा है दूसरी तरफ केंद्र ने निशाना साधते हुए कहा, राज्य अपनी कमियां छुपा रहे हैं.

वैक्सीन को लेकर हो रही कमी पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा है कि यह महज एक दिखावा है .वैक्सीन की कोई कमी नहीं है केंद्र के पास 2.4 करोड़ वैक्सीन स्टॉक में हैं और 4.3 करोड़ वैक्सीन जल्द ही आ रही है. राज्यों के पास वैक्सीन है, उन्हें कोई कमी नहीं है . राज्य अपनी अक्षमता को छिपाने की कोशिश कर रहे हैं.

देश में जैसे - जैसे कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है. वैसे ही वैक्सीनेशन की मांग भी बढ़ रही है. देश के कई राज्यों ने पहले ही केंद्र को वैक्सीन की कमी की को लेकर चिट्ठी लिखी है. वैक्सीनेशन की रफ्तार और तेज करनी होगी. स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार देश में वैक्सीन की कमी है सिर्फ 5.5 दिनों के लिए ही वैक्सीन बची है. वैक्सीन की हो रही कमी चिंता बढ़ाने वाली खबर है.

कई राज्य ऐसे हैं जहां वैक्सीन की कमी है. आंध्र प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों में सिर्फ दो दिन के वैक्सीन का स्टॉक बचा है जबकि ओड़िशा सहित कई राज्यों में यह स्टॉक थोड़ा ज्यादा है जो चार दिनों तक चल सकता है. वैक्सीन लगाने के लिए केंद्र पहले ही राज्यों को रफ्तार बढ़ाने की अपील करता रहा है.

अगर देशभर में कोरोना वैक्सीन के स्टॉट की बात करें तो सिर्फ 5.5 दिनों तक का स्टॉक मौजूद है. अगर वैक्सीनेशन के आंकड़े को देखें तो हम पायेंगे कि हर दिन 3.6 मिलियन डोज की जरूरत है. हमारे पास अभी वैक्सीन की 19.6 मिलियन डोज है जो सिर्फ 5.5 दिनों तक चल सकती है.

वैक्सीनेशन के लिए और वैक्सीन के उत्पादन का काम जारी है जो जल्द ही इस कमी को दूर कर देगा. अगर स्टॉक आने से पहले ही वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ायी गयी तो हमारे पास स्टॉक खत्म हो सकता है. भारत वैक्सीन का उत्पादन करके दूसरे देशों को भी भेज रहा है ऐसे में देश में ही रही वैक्सीन की कमी दूसरे देशों के वैक्सीनेशन पर भी असर डाल सकती है.

महाराष्ट्र में वैक्सीनेशन की स्थिति और बचे हुए स्टॉक को देखें तो पायेंगे कि यहां हर दिन 3.9 लाख डोज की जरूरत है . राज्य में 15 लाख डोज स्टॉक में हैं. इस डोज के अनुसार सिर्फ 4 दिनों तक यहां वैक्सीनेशन की प्रक्रिया शुरू रह सकती है.

इसी तरह यूपी, उत्तराखंड, बिहार, ओड़िशा, मध्यप्रदेश सहित कई राज्यों में 2 दिन से लेकर 3.5 दिनों तक स्टाक बचा है. कई राज्य हैं जिनके पास पांच दिनों से ज्यादा वैक्सीन का डोड मौजूद नहीं है. वैक्सीन की कमी कई राज्यों की चिंता बढ़ा रही है दूसरी तरफ कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें