1. home Home
  2. national
  3. corona third wave to be peak in india by february due to omicron and up to 1 15 lakh new cases may come daily vwt

ओमिक्रॉन की वजह से भारत में फरवरी तक चरम पर होगी तीसरी लहर, रोजाना 1-1.5 लाख तक आ सकते हैं नए मामले

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के वैज्ञानिक मनिंद अग्रवाल ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि सार्स-कोवी-2 के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की वजह से भारत में फरवरी तक महामारी की तीसरी लहर चरम पर होगी और इस दौरान रोजाना करीब 1-1.5 लाख तक नए मामले सामने आ सकते हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
भारत में तीसरी लहर का खतरा.
भारत में तीसरी लहर का खतरा.
फोटो : ट्विटर.

नई दिल्ली : कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के मामले भारत में तेजी से बढ़ते दिखाई दे रहे हैं. महाराष्ट्र की मुंबई में इस वेरिएंट के दो नए मामले सामने आने के बाद देश में ओमिक्रॉन के कुल नए मामलों की संख्या 23 तक पहुंच गई है. वहीं, महाराष्ट्र के कल्याण स्थित डोंबिवली में विदेश से आए करीब 109 लोग लापता हो गए हैं. इस बीच, वैज्ञानिकों ने आशंका जाहिर करते हुए आगाह किया है कि भारत में जिस तरह से ओमिक्रॉन के नए मामले तेजी से सामने आ रहे हैं, उससे तो ऐसा लगता है कि कोरोना के इस नए वेरिएंट की वजह से देश में फरवरी तक महामारी की तीसरी लहर आ सकती है और रोजाना 1-1.5 लाख तक नए मामले सामने आ सकते हैं.

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के वैज्ञानिक मनिंद अग्रवाल ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि सार्स-कोवी-2 के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की वजह से भारत में फरवरी तक महामारी की तीसरी लहर चरम पर होगी और इस दौरान रोजाना करीब 1-1.5 लाख तक नए मामले सामने आ सकते हैं. कोरोना के गणितीय अनुमान के आधार पर आईआईटी के वैज्ञानिक मनिंद अग्रवाल ने चेतावनी दी है कि नए अनुमान में ओमिक्रॉन के वेरिएंट को एक कारक के तौर पर शामिल किया है.

मनिंद अग्रवाल ने कहा, 'हमारा अनुमान है कि नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की वजह से देश में फरवरी तक तीसरी लहर आ सकती है, लेकिन यह डेल्टा वेरिएंट की वजह से आने वाली दूसरी लहर से कमजोर होगी. अब तक हमने देखा है कि ओमिक्रॉन के संक्रमण की गंभीरता डेल्टा वेरिएंट की तरह खतरनाक नहीं है.' उन्होंने कहा कि दक्षिण अफ्रीका में सामने आए मामलों पर करीब से नजर रखी जा रही है. फिलहाल, दक्षिण अफ्रीका में ओमिक्रॉन के संक्रमण की वजह से अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी नहीं देखी जा रही है.

राजस्थान में एक की मौत

उधर, राजस्थान में कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से एक और मरीज की मौत हो गई, जबकि संक्रमण के 29 नए मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, बीकानेर में कोरोना से एक मरीज की मौत हुई. रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 24 घंटों के दौरान राजस्थान में 29 और व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इनमें सबसे ज्यादा जयपुर में 15 मामले, उदयपुर में तीन, अजमेर और जोधपुर में दो-दो पाए गए हैं. इन संक्रमितों को राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय (आरयूएचएस) अस्पताल, जयपुर के कोविड सेंटर में भर्ती कराया गया है. संक्रमित पाए गए तीन और रोगियों के नमूने जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए एसएमएस मेडिकल कॉलेज भेजे गए हैं. इनमें एक युवती भी है जो सोमवार को जयपुर हवाई अड्डे पर जांच के दौरान संक्रमित मिली थी.

इंदौर में स्कूल सील

मध्यप्रदेश के इंदौर में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के नए मामले होने की आशंका के बीच 50 फीसदी बच्चों की संख्या के साथ खुलने वाले निजी स्कूलों को सील करने का आदेश दे दिया गया है. जिलाधिकारी मनीष सिंह ने कहा कि महाराष्ट्र, गुजरात और राजस्थान में कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन के मामले मिल चुके हैं. मध्यप्रदेश के इन पड़ोसी सूबों से हर रोज हजारों लोग इंदौर आते हैं. ऐसे में इंदौर में भी कोरोना वायरस के इस नए वेरिएंट की मौजूदगी की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता.

विदेश से डोंबिवली लौटे 109 लोग लापता

उधर, महाराष्ट्र के कल्याण स्थिति डोंबिवली में विदेश से आए करीब 109 लोग लापता बताए जा रहे हैं. कल्याण डोंबिवली नगरपालिका (केडीएमसी) के प्रमुख विजय सूर्यवंशी ने कहा कि ठाणे जिले के इस महानगरपालिका क्षेत्र में हाल में विदेश से 295 लोग लौटे थे, जिनमें से फिलहाल 109 का पता नहीं चल सका है. सूर्यवंशी ने कहा कि इनमें से कुछ लोगों के मोबाइल फोन बंद आ रहे हैं, जबकि कई लोगों की ओर से दिए गए पते पर ताला लगा हुआ है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें