1. home Hindi News
  2. national
  3. congress crisis sonia gandhi rahul gandhi congress president cwc prithviraj chavan cm 23 leader letter avh

कांग्रेस में कलह जारी, पत्र लिखने वाले पृथ्वीराज चौहान ने फिर उठाई पूर्णकालिक अध्यक्ष की मांग

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
 पृथ्वीराज चौहान
पृथ्वीराज चौहान
Facebook

congress news : कांग्रेस पार्टी में जारी अंदरूनी सियासत थमने की नाम नहीं ले रही है. पार्टी के वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र के पूर्व सीएम पृथ्वीराज चौहान ने एक बार फिर पूर्ण कांग्रेस अध्यक्ष की मांग का दोहराई है. चौहान ने कहा है कि पार्टी में जब तक पूर्ण अध्यक्ष नहीं होंगे, तब तक हम बीजेपी को मात नहीं दे पाएंगे. बता दें कि पृथ्वीराज चौहान उन 23 नेताओं में शामिल है, जिन्होंने अध्यक्ष की मांग को लेकर सोनिया गांधी को पत्र लिखा था.

इंडिया टुडे से बातचीत करते हुए पृथ्वीराज चौहान ने कहा कि अभी देश की अर्थव्यवस्था की हालात बेहद ही खराब है, वहीं सीमा पर भी चीन और पाकिस्तान के साथ प्रत्येक दिन झड़प की खबरें आ रही हैं, इसके अलावा भी कई और महत्वपूर्ण मुद्दे हैं. इन सब के बावजूद हम एक असरदार विपक्ष की भूमिका नहीं निभा पा रही है, क्योंकि पार्टी के पास एक पूर्णकालिक अध्यक्ष नहीं है.

गुलाम नबी आजाद ने दिया था ये बयान- सीडब्ल्यूसी की बैठक के बाद माना जा रहा था कि मामला शांत है जाएगा, लेकिन कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने पार्टी में पूर्णकालिक अध्यक्ष की मांग को लेकर फिर बयान दिया. सोनिया गांधी को पत्र लिखने वाले 23 नेताओं में से एक गुलाम नबी आजाद ने अब कहा कि अगर संगठन का चुनाव जीत कर आने वाले लोग कांग्रेस का नेतृत्व नहीं करेंगे तो पार्टी अगले 50 वर्षों तक विपक्ष में ही बैठी रहेगी.

आजाद के आवास पर बनी थी रणनीति- कांग्रेस वर्किंग कमेटी (सीडब्ल्यूसी) की बैठक खत्म होने के बाद कांग्रेस नेता मनीष तिवारी, शशि थरूर और कपिल सिब्बल गुलाम नबी आजाद के आवास पर पहुंचे. जहां सभी के बीच बैठक हुई.

गौरतलब है कि नेतृत्व के मुद्दे पर कांग्रेस के दो खेमों में नजर आने की स्थिति बनने के बीच पार्टी की सर्वोच्च नीति निर्धारण इकाई सीडब्ल्यूसी की बैठक वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम हुई. सीडब्ल्यूसी की बैठक से एक दिन पहले पूर्णकालिक एवं जमीनी स्तर पर सक्रिय अध्यक्ष बनाने को लेकर 23 नेताओं ने पत्र लिखा था. इन नेताओं ने सोनिया गांधी को पत्र लिखा था.

Posted By : Avinish Kumar Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें