1. home Hindi News
  2. national
  3. china angry on statement of chief of defence staff general bipin rawat gave threat of conflict vwt

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत के बयान पर बिफरा चीन, बौखलाहट में टकराव बढ़ने की दे रहा गीदड़ भभकी

भारत के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ ने अभी हाल के दिनों में एक बयान दिया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत की सुरक्षा के लिए सबसे बड़ा खतरा चीन है. भारत-चीन के सीमा विवाद को सुलझाने में भरोसे की कमी है और संदेह बढ़ता ही जा रहा है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता सीनियर कर्नल वू कियान.
चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता सीनियर कर्नल वू कियान.
फोटो : ट्विटर.

नई दिल्ली : पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी समेत पूर्वोत्तर भारत में सीमा विवाद के बीच चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत के उस बयान पर चीन बिफर गया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि चीन सुरक्षा के लिए सबसे बड़ा खतरा है. बौखलाहट में अब वह भारत के साथ सीमा पर टकराव बढ़ने की गीदड़ भभकी दे रहा है. चीन के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता सीनियर कर्नल वू कियान ने जनरल बिपिन रावत के बयान पर गीदड़ भभकी देते हुए कहा कि ऐसे बयानों से भू-राजनीतिक टकराव को बढ़ावा मिल सकता है. कियान ने जनरल रावत के बयान को गैर-जिम्मेदाराना और खतरनाक भी बताया है.

बीजिंग में वर्चुअल तरीके से मीडिया के साथ बातचीत के दौरान चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता सीनियर कर्नल वू कियान ने कहा कि भारत के अधिकारी बिना किसी वजह से चीन से सैन्य खतरे को लेकर अटकलें लगाते रहते हैं. इस प्रकार का बयान गैर-जिम्मेदाराना है. उन्होंने कहा कि भारत-चीन के मुद्दे पर उसका रुख साफ है और सीमाई इलाकों में शांति बनाए रखने के लिए चीन हमेशा से प्रतिबद्ध है.

जनरल बिपिन रावत ने चीन को बताया भारत की सुरक्षा के लिए खतराभारत के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ ने अभी हाल के दिनों में एक बयान दिया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत की सुरक्षा के लिए सबसे बड़ा खतरा चीन है. भारत-चीन के सीमा विवाद को सुलझाने में भरोसे की कमी है और संदेह बढ़ता ही जा रहा है. जनरल रावत के इस बयान में चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता सीनियर कर्नल वू कियान ने कहा कि हम उनके इस बयान का पुरजोर तरीके से विरोध करते हैं और हमने भारतीय पक्ष को अपनी बात रखने का पूरा मौका दिया है.

सीमा विवाद सुलझाने के प्रयास का कर रहा दावा

चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कियान ने आगे कहा कि भारत-चीन के सीमा विवाद पर चीन का रुख पूरी तरह से साफ है. उन्होंने कहा कि चीन के सीमा रक्षक बल के जवान देश की सुरक्षा और संप्रभुता के साथ किसी प्रकार का समझौता नहीं कर सकते. हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि सीमा विवाद की वजह से उपजे तनाव को कम करने का पूरा प्रयास किया जा रहा है.

इतिहास का आइना दिखाकर टकराव की दी धमकी

कर्नल वू कियान ने एक चीनी कहावत के जरिए भारत को गीदड़ भभकी देते हुए कहा कि अगर आप शीशे का इस्तेमाल आइने के तौर पर कर रहे हैं, तो आप उससे सज-संवर सकते हैं. अगर आप इतिहास को एक आइने की तरह इस्तेमाल करते हैं, तो आप अपने उत्थान और पतन का दर्शन कर सकते हैं. इसी प्रकार अगर आप लोगों को आइने आइने के रूप में इस्तेमाल करते हैं, तो आपको अपना फायदा और नुकसान समझ में आ जाएगा.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें