1. home Hindi News
  2. national
  3. bjp mla arun narang thrashed by protesting farmers in punjab congress kisan andolan narendra modi captain amarinder singh amh

Arun Narang Thrashed : पंजाब में किसानों ने भाजपा MLA को जमकर पीटा, शर्ट फाड़ दी, घूंसा मारा और…

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Arun Narang Thrashed
Arun Narang Thrashed
TWITTER
  • भाजपा विधायक अरुण नारंग के साथ मारपीट
    पुलिस ने 250 से 300 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया
    मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इसकी निंदा की

पंजाब के मलौट शहर में भाजपा विधायक अरुण नारंग (BJP mla arun Narang) के साथ मारपीट के मामले में बड़ी कार्रवाई की गई है. पुलिस ने 250 से 300 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करने का काम किया है. इस मामले में पुलिस ने धारा-307 यानी हत्या की साजिश सहित कई धाराओं में केस दर्ज किया है. भाजपा विधायक की पिटाई का मामला सामने आने के बाद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इसकी निंदा की और डीजीपी दिनकर गुप्ता को कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए थे.

इधर भाजपा ने पंजाब में अपने विधायक अरुण नारंग पर हमले के लिए शनिवार को मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की अगुवाई वाली राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया था और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी. एक बयान में भाजपा महासचिव अरुण सिंह ने विधायक के साथ किये गये दुर्व्यवहार को बर्बरतापूर्ण और दुखद बताया. पार्टी ने एक बयान में कहा कि भाजपा इस घटना की निंदा करती है जो कांग्रेस सरकार के संरक्षण में हुई. कांग्रेस की अमरिंदर सिंह सरकार इसके लिए सीधे तौर पर जिम्मेदार है.

पुलिस के अनुसार शनिवार को मुक्तसर जिले के मलौट में कुछ किसानों ने नारंग के साथ कथित रूप से मारपीट की और उनके कपड़े फाड़ दिये. अबोहर के विधायक नारंग संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करने स्थानीय नेताओं के साथ मलौट पहुंचे थे तब उन्हें प्रदर्शनकारी किसानों ने घेर लिया और उनपर काली स्याही भी फेंकी. मामला प्रकाश में आने के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री ने इस घटना की निंदा की और राज्य में शांति बिगाड़ने की कोशिश करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी थी.

क्या हुआ भाजपा विधायक के साथ

पंजाब में भाजपा के एक विधायक की शनिवार को मुक्तसर जिले के मलोट में किसानों के एक समूह द्वारा कथित रूप से पिटाई की गई और उनकी शर्ट फाड़ दी गई. अबोहर के विधायक अरुण नारंग संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करने के लिए मलोट गए थे, जिसका किसानों ने कड़ा विरोध किया. पुलिस उपाधीक्षक (मलोट) जसपाल सिंह ने फोन पर पीटीआई-भाषा को बताया कि वहां तैनात पुलिस अधिकारी नारंग को निकालकर सुरक्षित जगह ले गए. नारंग ने पीटीआई-भाषा को बताया कि उन्हें कुछ लोगों ने घूंसा मारा और उन लोगों ने उन पर काले रंग का तरल पदार्थ भी फेंका.

भाषा इनपुट के साथ
Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें