28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

समाज को बांट रही बीजेपी, कांग्रेस नेता राशिद अल्वी का बयान, कहा- सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर उठ रहे सवाल

लोग राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सवाल उठा रहे हैं. अल्वी ने कहा कि लोग कह रहे हैं कि सरकार के दबाव में ऐसा हुआ है. उन्होंने कहा कि न्यायपालिका स्वतंत्र होनी चाहिए और संविधान के अनुच्छेद 50 के अनुसार कार्यपालिका से कोई संबंध नहीं होना चाहिए.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राशिद अल्वी ने एक बार फिर बीजेपी और केन्द्र सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने समाज में हिंदू और मुस्लिम को बांट दिया है. अल्वी ने कहा कि तुष्टीकरण तब होता है जब किसी समुदाय को उसके लायक से अधिक मिलता है लेकिन मुसलमानों को उनका उचित हिस्सा भी नहीं मिलता है. उन्होंने कहा कि जस्टिस नजीर को राज्यपाल नियुक्त करने से न्यायपालिका में लोगों का विश्वास कम हो रहा है.

राशिद अल्वी ने कहा कि लोग राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सवाल उठा रहे हैं. अल्वी ने कहा कि लोग कह रहे हैं कि सरकार के दबाव में ऐसा हुआ है. उन्होंने कहा कि न्यायपालिका स्वतंत्र होनी चाहिए और संविधान के अनुच्छेद 50 के अनुसार कार्यपालिका से कोई संबंध नहीं होना चाहिए.

इससे पहले भी राशिद अल्वी सेना के सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर बीजेपी सरकार पर सवाल उठा चुके हैं. इस मामले में उन्होंने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के सवाल का समर्थन करते हुए कहा था कि अगर सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो है तो सरकार को उसे जारी करना चाहिए. इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के अनुसार राशिद अल्वी ने कहा था कि हमें अपने सुरक्षाबलों पर पूरा भरोसा है लेकिन बीजेपी सरकार पर भरोसा नहीं कर सकते हैं.

Also Read: शिमला में CM आवास के पास ऐतिहासिक इमारत में लगी आग, महात्मा गांधी से जुड़ा है ‘फिरग्रोव’ का इतिहास

अल्वी ने कहा था कि सरकार कहती है कि सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो है. ऐसे में सरकार को वीडियो जारी कर सबकी शंका दूर करनी चाहिए. उन्होंने अपने बयान में यह भी कहा था कि वो सर्जिकल स्ट्राइक की विश्वसनीयता पर सवाल नहीं उठा रहे हैं. बल्कि वो सत्ता में बैठे लोगों के विरोधाभासी दावों पर सवाल कर रहे हैं. अब एक बार फिर राम मंदिर-बाबरी मस्जिद मुद्दे पर उन्होंने बयान दिया है. 

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें