1. home Home
  2. national
  3. assam dholpur gorukhuti clash between police and local people dead body viral video congress attack on bjp amh

Assam Clash Viral Video : प्रदर्शनकारी के शव के साथ बर्बरता का वीडियो वायरल, कैमरामैन गिरफ्तार

वीडियो में नजर आ रहा है कि एक स्थानीय नागरिक पुलिस की ओर लाठी लेकर दौड़ रहा है, जिसके बाद पुलिस ने उसको सीने में गोली मार दी. गोली लगने के बाद शख्‍स की मौत हो गई. उसकी मौत के बाद उसके शव के साथ एक कैमरामै बर्बरता करता नजर आ रहा था.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Assam Clash Viral Video news
Assam Clash Viral Video news
ani

Assam Clash Viral Video : असम के दरांग जिले के सिपाझार में गुरुवार को पुलिस ने अतिक्रमणकारियों को बाहर निकालने की कोशिश के दौरान गोलियां चलाईं जिसमें दो लोगों की मौत हो गई. इसका एक वीडियो सामने आया है जिसे कांग्रेस नेताओं ने सोशल मीडिया पर शेयर किया है. इस वीडियो में नजर आ रहा है कि एक कैमरामैन शव के साथ बर्बरता कर रहा है.

वीडियो में नजर आ रहा है कि एक स्थानीय नागरिक पुलिस की ओर लाठी लेकर दौड़ रहा है, जिसके बाद पुलिस ने उसको सीने में गोली मार दी. गोली लगने के बाद शख्‍स की मौत हो गई. उसकी मौत के बाद उसके शव के साथ एक कैमरामै बर्बरता करता नजर आ रहा था. वो उसके शव पर कूद रहा था, उसके सीने में लात-घूंसे मार रहा था. वीडियो बहुत ही भयावह है जिसकी वजह से हम यहां उसे इम्बेड नहीं कर सकते हैं.

वीडियो के वायरल होने के बाद कैमरामैन पर कार्रवाई की गई और उसे गिरफ्तार कर लिया गया. बताया जा रहा है कि पुलिस के साथ हुई झड़पों में करीब 20 लोग घायल हो गए.

न्यायिक जांच की घोषणा

इस घटना का एक चौंकाने वाला वीडियो सामने आया है, जिसमें छाती पर गोली के घाव के निशान वाले एक व्यक्ति को कैमरा लिए व्यक्ति पीटता हुआ दिखाई दे रहा है. राज्य सरकार ने इस घटना को लेकर जनता के बढ़ते गुस्से के मद्देनजर घटना की परिस्थितियों की न्यायिक जांच की घोषणा की है. गृह एवं राजनीतिक विभाग के सचिव देबप्रसाद मिश्रा की ओर से जारी एक आदेश में कहा गया है कि सरकार ने फैसला किया है कि इस घटना की जांच गुवाहाटी उच्च न्यायालय के एक सेवानिवृत्त न्यायाधीश द्वारा की जाएगी.

घटना की चौतरफा निंदा

इस घटना की चौतरफा निंदा की जा रही है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पुलिस की कार्रवाई को राज्य सरकार द्वारा प्रायोजित गोलीबारी करार दिया. लगभग 800 परिवारों के पुनर्वास की मांग को लेकर जनता का विरोध शुरू हो गया था, इन लोगों का दावा है कि जिस जमीन पर वे दशकों से रह रहे थे उससे उन्हें बेदखल कर दिया गया है. मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा के छोटे भाई एवं दरांग के पुलिस अधीक्षक सुशांत बिस्वा सरमा ने दावा किया कि प्रदर्शनकारियों ने धारदार हथियारों से पुलिसकर्मियों और अन्य लोगों पर हमला कर पथराव भी किया.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें