26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सोपोर में पिछले सात दिन में चौथी हत्या, घटना से पूरे राज्य में रोष

सोपोर : संदिग्ध आतंकवादियों ने सोपोर में सोमवार को एक दुकानदार की गोली मारकर हत्या कर दी. उत्तरी कश्मीर के इस शहर में पिछले सात दिनों में यह इस प्रकार का चौथा और कल से दूसरा हमला है. पुलिस ने बताया कि सोपोर कस्बे में दो युवा व्यक्ति एजाज अहमद रेशी के दुकान वाले घर […]

सोपोर : संदिग्ध आतंकवादियों ने सोपोर में सोमवार को एक दुकानदार की गोली मारकर हत्या कर दी. उत्तरी कश्मीर के इस शहर में पिछले सात दिनों में यह इस प्रकार का चौथा और कल से दूसरा हमला है. पुलिस ने बताया कि सोपोर कस्बे में दो युवा व्यक्ति एजाज अहमद रेशी के दुकान वाले घर पर आज सुबह पहुंचे और उसके सिर में दो गोली मार दी.

इस घटना से पूरे राज्य में रोष है. यह कस्बा राज्य की राजधानी से मात्र 52 किलोमीटर दूर है. बादामीबाग इलाके में पोल्टरी दुकान चलाने वाले एक पूर्व आतंकी मेहराजुद्दीन भट को कल उसकी दुकान के बाहर गोली मारे जाने के 24 घंटों के भीतर हुई यह दूसरी घटना है. रेशी एक पूर्व आतंकी था. वह प्रतिबंधित समूह हकरत उल मुजाहिद्दीन आतंकी समूह से संबद्ध था. पांच साल कारावास काटने के बाद वह एक किराने की दुकान चलाता था. पांच बेटियों के पिता ने उस समय दुकान खोली ही थी जब उसे गोली मारी गयी. इस घटना के बाद से राज्य में काफी रोष है. हाल में हुई हत्याओं के लिए जिम्मेदार लोगों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए स्थानीय लोगों ने बंद आयोजित किया.

अलगाववादी समूहों ने इसके लिए रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के उस बयान को जिम्मेदार ठहराया जिसमें उन्होंने कहा था कि आतंकवादियों को आतंकवादियों द्वारा ही खत्म किया जाएगा. इन घटनाओं के पीछे हिजबुल मुजाहिदीन के प्रमुख कय्यूम नजर का हाथ बताया जा रहा है. उसे कय्यूम नजरवाला के तौर पर भी जाना जाता है. इससे पहले गत शुक्रवार की रात संदिग्ध आतंकियों ने एक दुकानदार की हत्या कर दी थी और बीते मंगलवार को एक सरकारी कर्मचारी की हत्या कर दी गयी थी.
यह कर्मचारी तहरीक-ए-हुर्रियत का कार्यकर्ता था. पुलिस सूत्रों ने बताया कि माना जाता है कि हाल में टेलीकॉम टावरों पर हुए हमलों के बाद से सोपोर निवासी नजरवाला के हिज्ब के प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन से रिश्ते खराब हो गए थे. खुफिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नजरवाला ने आतंकी समूह की गतिविधियों को कम करने के लिए सुरक्षा एजेंसियों को सहायता करने वाले लोगों की हिट लिस्ट तैयार की थी और इस सूची को सलाहुद्दीन ने खारिज कर दिया .

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें