Delhi Election 2020: Exit poll से आप नेता गदगद, कांग्रेस ने की केजरीवाल की तारीफ

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

Delhi election Exit poll 2020 : दिल्ली के मतदाताओं ने अपना फैसला ईवीएम में शनिवार को कैद कर दिया है जो मंगलवार को सामने आएगा. हालांकि, वोटिंग खत्म होने के बाद आए तमाम एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी (आप) को बहुमत मिलती नजर आ रही है. वहीं भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सीटें भी बढ़ने का अनुमान लगाया गया है.



इस बीच लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने अरविंद केजरीवाल की तारीफ की है. भारतीय राजनीति में ऐसा शायद ही हुआ है जब चुनाव में अपनी हार की आशंकाओं पर संभावित जीत वाली प्रतिद्वंद्वी पार्टी की तारीफ कोई करे. अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि यदि केजरीवाल जीतते हैं तो यह विकासवादी एजेंडा की जीत मानी जाएगी. उन्होंने कहा कि हमने अपनी पूरी ताकत के साथ चुनाव लड़ने का काम किया. इस चुनाव में भाजपा ने सभी सांप्रदायिक एजेंडे को सामने ला दिया और अरविंद केजरीवाल जी ने विकास का अजेंडा सामने रखा. यदि केजरीवाल जीतते हैं तो यह विकास के अजेंडे की जीत होगी. इधर, कांग्रेस और आप के गठबंधन की संभावना पर कांग्रेस नेती पीसी चाको ने कहा कि यह नतीजों पर निर्भर करता है. एक बार नतीजे आ जाएं, फिर हम इसपर चर्चा करेंगे. मुझे नहीं लगता कि सर्वे सही हैं. कांग्रेस के सर्वे के अनुमान से बेहतर करने की संभावना है.

एग्जिट पोल सामने आने के बाद आप नेताओं के चेहरों पर सकून साफ झलक रहा है. आप नेता संजय सिंह ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि भाजपा ने सिर्फ नफरत की राजनीति की. इस बार 2015 का रिकार्ड टूटने वाला है. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी ने सकरात्मक मुद्दों पर चुनाव लड़ा. ईवीएम की सुरक्षा को लेकर संजय सिंह ने कहा कि स्ट्रांग रूप की सुरक्षा करना हमारा अधिकार है. ईवीएम के मामले को हमने चुनाव आयोग के संज्ञान में दिया है. आप नेता मनीष सिसोदिया ने कहा कि हम सबका रिश्ता कितना नि:स्वार्थ और मजबूत है, यह चुनाव इस बात का प्रमाण है. आप भारी अंतर से जीत रही है. साथियों की मेहनत को दिल से सलाम.

आपको बता दें कि वोटिंग के बाद आए तकरीबन सभी एग्जिट पोल में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी की बड़ी जीत का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है. कुछ एग्जिट पोल में संकेत दिया गया है कि पार्टी 2015 का रिकॉर्ड दोहरा सकती है जब इसने 70 विधानसभा सीटों में से 67 पर जीत का परचम फहराया था.

इंडिया टुडे-एक्सिस के एग्जिट पोल के अनुसार आप को 59-68 और भाजपा को 2-11 सीट मिल सकती हैं. वहीं, एबीपी-सी वोटर के अनुसार आप को 49-63 और भाजपा को 5-19 सीट मिल सकती हैं. टाइम्स नाउ-इस्पोस के अनुसार केजरीवाल की कुर्सी बरकरार रह सकती है और आप को 47 तथा भाजपा को 23 सीट मिल सकती हैं.

रिपब्लिक-जन की बात के एग्जिट पोल के अनुसार आप को 48-61 और भाजपा को 9-21 सीट मिलने के आसार हैं. टीवी 9 भारतवर्ष-सिसेरो के अनुसार आप को 52-64 और भाजपा को 6-16 सीट मिल सकती हैं. वहीं, नेता-न्यूज एक्स के अनुसार आप के खाते में 53-57 और भाजपा के खाते में 11-17 सीट आ सकती हैं.

एबीपी के सर्वेक्षण में कहा गया कि आप का वोट प्रतिशत 50.4 और भाजपा का वोट प्रतिशत 36 हो सकता है. वहीं, इंडिया टुडे-एक्सिस पोल के अनुसार दोनों पार्टियों के लिए यह आंकड़ा क्रमश: 56 और 35 प्रतिशत का हो सकता है. आपको बता दें कि वर्ष 2015 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में आप ने 67 सीटों के साथ प्रचंड जीत हासिल की थी और भाजपा के खाते में केवल तीन सीट आई थीं. तब दोनों पार्टियों का वोट प्रतिशत क्रमश: 54.3 और 32.3 प्रतिशत था.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें