कोरोना वायरस : चीन से भारतीयों को निकालने के लिए तैयारियां शुरू

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : चीन के हुबेई प्रांत में कोरोना वायरस के प्रकोप से पैदा हुए हालात के चलते भारतीय नागरिकों को वहां से निकालने के लिए भारत ने तैयारियां शुरू कर दी है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास इस मुद्दे पर चीन की सरकार, अधिकारियों और नागरिकों के संपर्क में है. उन्होंने एक ट्वीट में कहा, हमने चीन के हुबेई प्रांत में कोरोना वायरस के प्रकोप से पैदा हुए हालात से प्रभावित भारतीय नागरिकों को वहां से निकालने के लिए तैयारियां शुरू कर दी है. उन्होंने कहा, हमारा बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास विभिन्न पहलुओं पर काम कर रहा है और वह चीन की सरकार, अधिकारियों और हमारे नागरिकों के संपर्क में है. हम ताजा जानकारी साझा करते रहेंगे.

चीन में कोरोना वायरस से मृतकों की संख्या 106 हो चुकी है, जबकि करीब 1300 नये मामलों की पुष्टि हुई है. चीन से आने वाले लोगों में विषाणु के लक्षणों की जांच की जा रही है. वुहान में 250 से 300 भारतीय छात्रों के फंसे होने की सूचना है ऐसे में उनको लेकर चिंता पैदा हो गयी है. चीन और कई अन्य देशों में इस विषाणु से संक्रमित लोगों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर भारत की तैयारियों की समीक्षा के लिए कैबिनेट सचिव राजीव गौबा की अध्यक्षता में सोमवार को बैठक की गयी.

बैठक में कई एहतियातन कदम उठाने का फैसला किया गया. इसमें नेपाल की सीमा के पास एकीकृत जांच चौकियों के साथ-साथ उन अंतरराष्ट्रीय बंदरगाहों पर लोगों की जांच आरंभ करने का फैसला किया गया जहां चीन से लोग आते हैं. बैठक में यह भी फैसला किया गया कि नागर विमानन मंत्रालय विमानन कंपनियों को निर्देश जारी करेगा कि वे चीन से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से आने वाली सभी उड़ानों में किसी भी व्यक्ति के बीमार होने के बारे में सूचित करें और इससे संबंधी व्यवस्था सुनिश्चित करें.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें