केरल में नोबेल पुरस्कार विजेता की हाउसबोट रोकने के मामले में चार गिरफ्तार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

अलप्पुझा : केंद्र की कथित श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ देशव्यापी हड़ताल के दौरान यहां नोबेल पुरस्कार विजेता माइकल लेविट की हाउसबोट रोकने के मामले में चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने बताया कि गुरुवार सुबह गिरफ्तारियां की गयीं.

गिरफ्तार किये गये चारों लोग सत्तारूढ़ माकपा के श्रमिक संगठन सीटू से जुड़े बताये जाते हैं जिसके साथ नौ अन्य ट्रेड यूनियनों ने बुधवार को देशव्यापी बंद का आह्वान किया था. रसायनविज्ञान के क्षेत्र में 2013 का नोबेल पुरस्कार जीतने वाले लेविट अलप्पुझा में हाउसबोट की सवारी कर रहे थे. तभी चार प्रदर्शनकारियों ने यहां कैनाकारी के पास करीब दो घंटे तक उनकी हाउसबोट को रोककर रखा. लेविट ने गुरुवारकी सुबह कहा, केरल सुंदर है. लोग बहुत अच्छे हैं. उन्होंने कहा कि उन्हें घटना को लेकर कोई दिक्कत नहीं है.

बुधवार को अपने टूर एजेंट को लिखे ई-मेल में उन्होंने कहा था, पानी के बीच अपराधियों द्वारा रोके जाने से पर्यटकों में बहुत खराब संदेश जाता है. यह कुछ इस तरह हुआ कि एक डकैत ने हमें बंदूक दिखाकर रोका और ताकत दिखाकर करीब एक घंटे तक रोका. उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें रोकने वाले सभी लोगों ने इस दलील को भी नहीं सुना कि पर्यटकों को बंद से छूट मिलनी चाहिए. इस बीच कोट्टायम के कलेक्टर पीके सुधीर बाबू ने कहा कि उन्होंने लेविट से मुलाकात की जब वह सुबह नौकायन के बाद कुमाराकोम पहुंचे.

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने मामले में दुख और चिंता जतायी है. हमने लेविट को सूचित कर दिया है कि सरकार ने विषय को गंभीरता से लिया है. अलप्पुझा के पुलिस प्रमुख केएम टोमी ने कहा कि मामले में चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है तथा सार्वजनिक मार्ग या नौवहन मार्ग को बाधित करने का आरोप लगाया गया है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें