हैदराबाद मामलाः क्राइम सीन पर मुठभेड़, चारों आरोपी पुलिस कार्रवाई में ढेर, जानें पूरा घटनाक्रम

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
हैदराबादः हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ बर्बरता की हदें पार करने वाले करने वाले चारों आरोपी आज सुबह पुलिस एनकाउंटर में मार गिराए गए. शुक्रवार सुबह जब पूरा देश सो कर उठ ही रहा था, तभी खबर आई कि पुलिस के साथ हुए एक एनकाउंटर में चारों आरोपी ढेर हो गए हैं. जिस हाइवे एनएच 44 पर 27 नवंबर की रात उस महिला डॉक्टर के साथ हैवानियत हुई थी, उसी हाइवे पर तेलंगाना पुलिस ने चारों आरोपियों का एनकाउंटर कर किया.
पुलिस चारों आरोपियों को उस जगह लेकर गई थी जहां लेडी डॉक्टर की जली हुई लाश मिली थी. पुलिस आरोपियों को मौके पर इसलिए लेकर गई थी जिससे घटना का रीक्रि‍एशन कर पूरे मामले को समझा जाए. एनकाउंटर को लेकर साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वी सी सज्जनर ने बताया कि सभी आरोपी को तड़के 3 बजे से सुबह 6 बजे के बीच चंदनपल्ली, शादनगर में पुलिस मुठभेड़ में मारे गए.
आरोपियों ने पुलिस के हथियार छीन कर भाग रहे थे. पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में मार गिराया. घटना में दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए. बता दें कि पुलिस को इन आरोपियों की सात दिन की कस्टडी मिली थी. पुलिस इन सात दिनों में पूछताछ कर रही थी और इसी दौरान सीन को रिक्रिएट करने के लिए आरोपियों को उसी स्थान पर ले गई थी, जहां उन्होंने लेडी डॉक्टर को गैंगरेप के बाद जिंदा जला दिया था.
आपको बता दें कि हैदराबाद में 27 नवंबरकी रात करीब साढ़े नौ बजे स्कूटी से जा रही महिला डॉक्टर के साथ चार आरोपियों ने रेप किया था और उसके बाद उसे जिंदा जला दिया था. जिसके बाद से ही पूरा देश चौंक गया था. देश के कई हिस्सों में इस मामले के खिलाफ प्रदर्शन हुआ, सड़कों पर प्रदर्शन हुआ और संसद तक बवाल हो गया.देश में हर कोई मांग कर रहा था कि दिशा के आरोपियों को जल्द से जल्द कड़ी सजा दी जाए और शुक्रवार सुबह इस एनकाउंटर की खबर आ गई.
बता दें कि 7 साल पहले 16 दिसंबर 2012 को दिल्ली में चलती बस में निर्भया के साथ दरिंदगी की घटना ने पूरे देश को झकझोर दिया था. मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चला और दोषियों को मौत की सजा सुनाई गई, लेकिन अभी तक दोषियों को फांसी पर नहीं लटकाया गया है
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें