36.9 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

ईज ऑफ डूइंग बिजनेस: भारत की रैंकिंग में जबरदस्त सुधार, 14 पायदान की लगाई छलांग

नयी दिल्लीः वर्ल्ड बैंक की ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में 14 रैंकिंग की सुधार के साथ भारत अब 63वें नंबर पर पहुंच गया है. इसका मतलब है कि भारत में कारोबार करना और भी आसान हो गया है. 2018-19 की लिस्ट में भारत की 77वीं रैंक थी. ईज ऑफ डूइंग बिजनेस यानी कारोबार करने में […]

नयी दिल्लीः वर्ल्ड बैंक की ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में 14 रैंकिंग की सुधार के साथ भारत अब 63वें नंबर पर पहुंच गया है. इसका मतलब है कि भारत में कारोबार करना और भी आसान हो गया है. 2018-19 की लिस्ट में भारत की 77वीं रैंक थी. ईज ऑफ डूइंग बिजनेस यानी कारोबार करने में सुगमता की रैंकिंग में उस समय आई है, जब देश आर्थिक सुस्ती का शिकार है.

भारत इस सूची में लगातार तीसरे साल शीर्ष प्रदर्शन करने वाले देश में भी शामिल है. यह रैंकिंग ऐसे समय में आई है, जब भारतीय रिजर्व बैंक, वर्ल्ड बैंक, अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष मूडीज सहित कई एजेंसियों ने आर्थ‍िक सुस्ती को देखते हुए जीडीपी में बढ़त के अनुमान को घटा दिया है

.ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में भारत के अलावा टॉप-10 सुधारक देशों में सऊदी अरब (62), जॉर्डन (75), टोगो (97), बहरीन (43), ताजिकिस्तान (106), पाकिस्तान (108), कुवैत (83), चीन (31) और नाइजीरिया (131) शामिल हैं.

क्या है ईज ऑफ डूइंग बिजनेस?
अगर ‘ईज ऑफ डूइंग’ बिजनेस में सुधार होता है तो विश्व की प्रमुख रेटिंग एजेंसियां भारत को बेहतर रेटिंग दे सकती है और भारत में एफडीआई में भी वृद्धि हो सकती है. ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ का रिपोर्ट विश्व बैंक द्वारा जारी की जाती है. इस रिपोर्ट में मुख्य रूप से दस मानदंड है. जिनके आधार पर तय किया जाता है कि कौन सा देश कारोबार की सुगमता की लिहाज से पहले स्थान पर हैं और कौन निचले पायदान पर है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें