भागवत के बयान पर बोली कांग्रेस- डीएनए कभी नहीं बदलता

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत के राम मंदिर, हिंदुत्व और कुछ अन्य मुद्दों पर दिये गये बयानों को लेकर कांग्रेस ने गुरुवार को कहा कि चाहे कुछ भी हो जाए, किसी संगठन या व्यक्ति का डीएनए नहीं बदल सकता.

बोले मोहन भागवत- राम मंदिर जल्द बनाने से हिंदू, मुस्लिम के बीच तनाव खत्म होगा

पार्टी प्रवक्ता मनीष तिवारी ने यह भी आरोप लगाया कि चुनाव नजदीक आने पर भाजपा और आरएसएस का शीर्ष नेतृत्व राममंदिर की बात करने लगता है. आरएसएस के हालिया कार्यक्रम ‘भविष्य का भारत' में भागवत के संबोधन के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘आरएसएस का रुख 370 पर नहीं बदला, लेकिन 377 पर बदल गया. इनकी बातों में विरोधाभास है. चाहे कुछ भी हो जाए, लेकिन किसी व्यक्ति या संगठन का डीएनए नहीं बदल सकता.'

बोले संघ प्रमुख मोहन भागवत- मुसलमानों के बिना हिंदुत्व अधूरा

राम मंदिर के निर्माण संबंधी भागवत के बयान पर तिवारी ने कहा, ‘‘इसमें कुछ नया नहीं है. वर्ष 1986 से 2018 का इतिहास उठाकर देख लीजिए. भाजपा और आरएसएस के शीर्ष नेतृत्व ने हमेशा चुनाव से पहले राम मंदिर की बात की है. जब चुनाव आता है तो इनको राममंदिर की याद आ जाती है.' एक अन्य सवाल के जवाब में कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘हमारा मानना है कि इस देश में रहने वाला हर व्यक्ति भारतीय है. हर व्यक्ति की एक क्षेत्रीय और धार्मिक पहचान होती है, लेकिन सभी लोग भारतीय हैं.'

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें