मणिशंकर अय्यर के खिलाफ देशद्राेह का मामला दर्ज करनेवाली याचिका अपराध शाखा को भेजी गयी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : दिल्ली पुलिस ने शनिवार को यहां की एक अदालत को सूचित किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी करने को लेकर कांग्रेस के निलंबित नेता मणिशंकर अय्यर के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज करने की मांगवाली भाजपा नेता की याचिका अपराध शाखा को भेज दी गयी है.

मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट मणिका की अदालत में एक रिपोर्ट पेश की गयी थी.अदालत के निर्देश के अनुसार पुलिस को इस संबंध में कार्रवाई रिपोर्ट जमा करनी थी. मजिस्ट्रेट के शनिवार को छुट्टी पर होने के चलते मामले की सुनवाई अब चार मई तक के लिए स्थगित कर दी गयी. मामला पाकिस्तानी अधिकारियों की मेजबानी को लेकर अय्यर के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज करने की मांगवाली भाजपा नेता अजय अग्रवाल की ओर से दायर शिकायत से संबंधित है. उप निरीक्षक दीपक पंवार की ओर से दायर रिपोर्ट में कहा गया, ‘मणिशंकर अय्यर से संबंधित एक मामला पहले ही दिल्ली अपराध शाखा में जांच के लिए लंबित है. इसलिए वरिष्ठ अधिकारियों के आदेशानुसार अजय अग्रवाल की शिकायत आगे की जांच के लिए पुलिस उपायुक्त, अपराध शाखा को भेज दी गयी.'

रिपोर्ट में कहा गया कि अदालत इस संबंध में अपराध शाखा से कार्रवाई रिपोर्ट (एटीआर) मांग सकती है. इसके अनुसार, ‘इसलिए यह अनुरोध किया जाता है कि अपराध शाखा दिल्ली के जांच अधिकारी को अदालत के समक्ष कार्रवाई रिपोर्ट जमा करने का निर्देश दिया जा सकता है.' अग्रवाल ने रायबरेली से सोनिया गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ा था. अग्रवाल की ओर से दायर याचिका में कहा गया कि दक्षिण दिल्ली में अय्यर के आवास पर आयोजित बैठक में पाकिस्तानी उच्चायुक्त एवं पड़ोसी देश के पूर्व विदेश मंत्री तथा अन्य शामिल हुए थे. अदालत ने इससे पहले याचिकाकर्ता अग्रवाल और एक वकील को निर्देश दिया था कि वह इस संबंध में अदालत में दस्तावेज की प्रतियां जमा करायें, जिसके आधार पर पुलिस एटीआर दायर करेगी.

अग्रवाल ने अपनी अर्जी में दावा किया था कि अय्यर के आवास पर छह दिसंबर 2017 को आयोजित इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ‘आपत्तिजनक' भाषा का इस्तेमाल किया गया था. आरोप है कि इस बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह एवं पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी भी शामिल हुए थे. याचिकाकर्ता ने अदालत से यह मांग की है कि वह दिल्ली पुलिस को अय्यर एवं मौजूद अन्य के खिलाफ साजिश रचने एवं देशद्रोह का मामला दर्ज करने और मामले में जांच करने का निर्देश दे. उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान के साथ तनावपूर्ण संबंधों के बावजूद बैठक के बारे में विदेश मंत्रालय एवं गृह मंत्रालय को सूचना नहीं दी गयी थी. याचिकाकर्ता ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) और दिल्ली पुलिस से भी जांच का अनुरोध किया था.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें