27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

World AIDS Day 2021: आज है विश्व एड्स दिवस, ऐसे रहें सुरक्षित, अपनाएं ये टिप्स

World AIDS Day 2021: आज है विश्व एड्स दिवस मनाया जा रहा है. सरकार 2024 तक देश से एड्स का पूरी तरह खत्म करने का इरादा रखती है. एड्स, एचआईवी के कारण होता है. कुछ सरल उपाय अपनाकर इस गंभीर बीमारी से बचा जा सकता है.

एड्स (World AIDS Day 2021) के बारे में लोगों की जागरूकता बढ़ाने के लिए, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 1988 में हर साल 1 दिसंबर को विश्व एड्स दिवस के रूप में नामित किया, जिसके जरिए दुनिया भर के देशों और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों से इस दिन एड्स की रोकथाम के बारे में ज्ञान का प्रसार करने के लिए संबंधित गतिविधियों का आयोजन करने का आह्वान किया जाता है.

Also Read: ओमीक्रोन से भारत को टेंशन लेने की जरूरत नहीं!केवल इस बात का रखें ध्यान

2024 तक देश से एड्स को खत्म करने का लक्ष्य

सरकार 2024 तक देश से एड्स (World AIDS Day 2021) का पूरी तरह खत्म करने का इरादा रखती है. सरकार ने एचआईवी-एड्स के खिलाफ अपनी जंग को धार देने के लिए नेशनल एड्स कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन (नाको NACO) तो बनाया ही है. इसके साथ ही इस काम में देश के कॉर्पोरेट्स, जानी-मानी हस्तियों, हेल्थ वर्कर्स और आम जनता का भी सहयोग लिया जा रहा है.

एड्स, एचआईवी (World AIDS Day 2021) के कारण होता है. इस सिन्ड्रोम में शरीर की बीमारियों से लड़ने की ताकत कमजोर हो जाती है, जिससे व्यक्ति बड़ी आसानी से किसी भी संक्रमण या अन्य बीमारी की चपेट में आ जाते हैं. कुछ सरल उपाय अपनाकर इस गंभीर बीमारी से बचा जा सकता है.

गर्भावस्था

एचआईवी संक्रमित गर्भवती महिला से उसके बच्चे में एचआईवी (World AIDS Day 2021) का संक्रमण हो सकता है. इसके अलावा स्तनपान कराने से भी एचआईवी का वायरस बच्चे में जा सकता है. हालांकि, अगर मां उचित दवाइयां ले रही है तो यह संभावना कम हो जाती है.

खून चढ़ाने/ रक्ताधान के दौरान सुरक्षा बरतना

स्वयं सेवी रक्तदाताओं के खून की एनएटी जांच के बाद किसी को खून देना एचआईवी को फैलने से रोकने का सुरक्षित तरीका है.

बॉडी फ्लूड से बचें

किसी भी अन्य व्यक्ति के खून या अन्य बॉडी फ्लूड से दूर रहें, अगर आप इसके संपर्क में आते हैं, तो त्वचा को तुरंत अच्छी तरह धोएं. इससे संक्रमण की संभावना कम हो जाती है.

क्या HIV का कोई इलाज है

एड्स का न ही कोई इलाज है और न ही इसकी कोई वैक्सीन अभी तक बन पाई है. इसका एक ही उपाय है बचाव. इसमें सुरक्षित यौन सम्बन्ध शामिल हैं. जीवाणुरहित (स्टरलाइज़्ड) सुई का उपयोग करें. बचाव के तरीके सीख कर और जागरूक हो कर हम इससे निपट सकते हैं.

Posted By: Shaurya Punj

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें