1. home Hindi News
  2. health
  3. second phase of corona vaccination starting from march 1 learn how to register ksl

एक मार्च से शुरू हो रहा कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण, ...जानें कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
45 वर्ष से अधिक उम्र के गंभीर रूप से पीड़ितों को भी दी जायेगी वैक्सीन
45 वर्ष से अधिक उम्र के गंभीर रूप से पीड़ितों को भी दी जायेगी वैक्सीन
File

नयी दिल्ली : देश में कोरोना वैक्सीन का दूसरा चरण एक मार्च से शुरू हो रहा है. देशव्यापी वैक्सीनेशन अभियान के तहत 60 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीन लगायी जायेगी. साथ ही सरकार ने अभियान को विस्तार देते हुए 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को शामिल किया है, जो अन्य बीमारियों से ग्रस्त हैं. मालूम हो कि देश में कोरोना वैक्सीन की शुरुआत 16 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी.

एक मार्च से शुरू होनेवाले वैक्सीनेशन अभियान के मद्देनजर को-विन डिजिटल मंच को को-विन 1.0 से को-विन 2.0 में बदलने के कारण 27 और 28 फरवरी को वैक्सीनेशन सेशन आयोजित नहीं किये जा रहे हैं. मालूम हो कि देश में अब तक कोरोना वैक्सीन की 1.34 करोड़ खुराक दी जा चुकी है.

एक मार्च से शुरू हो रहे दूसरे चरण के वैक्सीनेशन अभियान में वैक्सीन लेने के लिए आको रजिस्ट्रेशन कराना होगा. वैक्सीन लेने के लिए को-विन 2.0 ऐप या आरोग्य सेतु ऐप के जरिये रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. वर्तमान में को-विन 1.0 ऐप को 2.0 में बदला जा रहा है. ऐप अपडेट होने के बाद आपको सरकारी और निजी वैक्सीन सेंटर नजर आने लगेंगे. ऐप में आपको वैक्सीन सेंटर के अलावा अन्य कई सूचनाएं भी मिलेंगी.

जिन लोगों के पास स्मार्टफोन नहीं हैं, वे ऑनलाइन या वैक्सीन सेंटर पर जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. दूसरे चरण में राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों के कुछ अन्य लोगों को भी वैक्सीन दी जायेगी. इनमें आशा कार्यकर्ता, एएनएम वर्कर्स, पंचायती राज के प्रतिनिध और सेल्फ हेल्फ ग्रुप्स की महिलाओं को शामिल किया जायेगा. हालांकि, किन लोगों को वैक्सीन दी जायेगी, इसका चुनाव प्रशासन करेगा.

दूसरे चरण में वैक्सीन लेने के लिए फोटो पहचान पत्र की जरूरत होगी. इसके लिए आधार कार्ड, वोटर कार्ड आदि ले जा सकते हैं. वहीं, 45 वर्ष से ऊपर के गंभीर रूप से पीड़ितों के लिए रजिस्टर्ड चिकित्सकों का प्रमाणपत्र जरूरी होगा. वैक्सीन की पहली और दूसरी खुराक लेने के के बाद लाभार्थियों को क्यूआर कोड जेनरेट कर दिया जायेगा. इसे ऑनलाइन भी डाउनलोड किया जा सकेगा या वैक्सीन सेंटर से भी ले सकते हैं.

दूसरे चरण में वैक्सीन लेने के लिए दो समूहों में बांटा गया है. सरकारी वैक्सीन सेंटर पर वैक्सीन की खुराक मुफ्त मिलेगी. जबकि, निजी अस्पतालों में वैक्सीन लेने के लिए आपको उनके मूल्य चुकाने होंगे. निजी अस्पतालों में भी फोटो पहचान पत्र और 45 साल से अधिक उम्र के गंभीर बीमारी से पीड़ितों को चिकित्सकों का प्रमाणपत्र दिखाना होगा. निजी अस्पतालों में वैक्सीन लेने के लिए मूल्य अभी तय नहीं किये गये हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें