36.2 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

क्या आपको भी सफर के दौरान गाड़ी में होती है उल्टी या फिर सिरदर्द? इन टिप्स को करें फॉलो, नहीं होगी मुश्किल

लंबे सफर के दौरान अमूमन ऐसा देखा गया है कि बच्चे या बड़ों को रास्ते में चलती गाड़ी में वोमिटिंग या चक्कर आने लग जाते है, जिस वजह से आधे रास्ते में उनकी तबियत बिगड़ जाती है. आज हम आपको कुछ नुस्खे बताएंगे, जिससे सफर के दौरान आप परेशान नहीं होंगे.

जब भी हमें काम से ब्रेक या फिर बच्चों को लंबे वेकेशन की छुट्टियां मिलती है, तो सभी लोग अपने परिवार या फिर दोस्तों के साथ घूमने-फिरने की प्लानिंग करने लग जाते हैं कि कहां जाना है, कैसे जाना है, या फिर कौन सा ट्रांसपोर्ट लेना है, कितने बजट में हम ट्रैवल कर सकते हैं. इन सारी प्लानिंग के बीच एक परेशानी जो अक्सर लोगों को सताती है, वह ये है कि सफर के दौरान कहीं उल्टी न आ जाए, या फिर सरदर्द और चक्कर न होने लगे. अगर आप भी ये सब सोचते हैं, तो हम आपको कुछ सिंपल ट्रिक्स बताएंगे, जिससे आप ट्रैवल के दौरान सिर्फ एंजॉय कर सकते हैं.

क्या है मोशन सिकनेस (Motion Sickness)?

अक्सर आपने देखा होगा जो लोग कार, बस, ट्रैन, या प्लेन से ट्रेवल करते उन्हें ट्रेवल करते वक्त अचानक से चक्कर, सिरदर्द , या वोमिटिंग जैसा महसूस होने लग जाता है. साथ ही साथ उन्हें बेचैनी भी होने लग जाती है जिसे “मोशन सिकनेस” (Motion Sickness), या फिर “कीनेटोसिस’ (Kinetosis) भी कहते है. मोशन सिकनेस एक सामान्य स्थिति है, जो वाहनों में मोशन के कारण होने वाली अस्वस्थता की वजह से होती है. अगर इसके लक्षण देखे जाए तो इसमें चक्कर आते हैं, त्वचा में पीलापन और पसीना आने लग जाता है, साथ नौसेअ (Nausea) और वोमिटिंग (Vomiting) होने लगती है.

Also Read: Health Tips: खाली पेट ना खाएं ये चीजें, भुगतने पड़ सकते हैं गंभीर परिणाम

कैसे करें मोशन सिकनेस को ठीक?

अगर आपको लगता है आपके साथ मोशन सिकनेस की समस्या बार-बार हो रही है. ऐसे परिस्थिति में सबसे पहले डॉक्टर से मिले और उनकी राय जानें. साथ ही आप अपने हिसाब से भी कुछ उपाय कर सकते हैं.

  • मोशन सिकनेस की दवा- ट्रेवल करने से एक या दो घंटे पहले मोशन सिकनेस की दवा जरूर खा लें.

  • हैवी मील- ट्रेवल करने से पहले ज्यादा हैवी मील, स्पाइसी फूड ना खाये.

  • ताजा हवा- कोशिश करें, जैसे भी गाड़ी में आप बैठे हो, उसमें सही मात्रा में हवा आ सके, आप चाहे तो एयर कंडीशनर (Air Conditioner) या फिर खिड़कियों के पास बैठ सकते है.

  • किताबें ना पढ़े- कार में सफर करते वक्त किताबें ना पढ़े, आप खिड़की से बाहर का नजारा देख सकते हैं.

  • सही सीट का चुनाव- ऐसी सीट पर बैठे, जहां पर कम मोशन हो जैसे खिड़की के पास वाली सीट या फिर कार में आगे वाली पैसेंजर सीट.

  • पानी का सेवन- जितनी मात्रा में पानी पी सकते है, उतना पिए उससे आपका शरीर हाइड्रेटेड (Hydrated) रहेगा.

  • अदरक का सेवन- अगर सफर के दौरान आपको वोमिटिंग या मिचली बार-बार आ रही है, तो ऐसे सिचुएशन में आप अदरक का एक छोटा टुकड़ा अपने मुंह में रख सकते है या फिर अदरक की गर्म चाय भी पी सकते है.

  • पुदीना का सेवन– वोमिटिंग या मिचली रोकने के लिए आप पुदीना की चाय पी सकते है या फिर सफर करने से पहले अपने रुमाल में मिंट ऑइल की कुछ बुंदे छिड़क ले और ट्रेवल के वक्त उसे सूंघते रहें.

Disclaimer: इस खबर में बताए गए टिप्स, तरीकों की प्रभात खबर पुष्टि नहीं करता है. इसे केवल एक सुझाव की तरह आप ले सकते हैं. कोई भी उपचार लेने से पहले डॉक्टर्स से एक बार जरूर पूछे, सभी अमल करें.

Also Read: Handshake and Health: अब हाथ मिलाने का तरीका बताएगा आपकी हेल्थ, जानें कैसे

रिपोर्ट- शाम्भवी सिन्हा

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें