1. home Home
  2. health
  3. health tips and winter diet include fruits and vegetable to increase body temperature naturally sry

Winter में गर्म तासीर वाले फलों का करें सेवन, जानें कैसे करना चाहिए इनका इस्तेमाल

इन दिनों सर्दियों का मौसम चल रहा है. ऐसे में शरीर को ठंड से बचाने की जरूरत होती है, साथ ही ऐसी चीजों को खाने की सलाह दी जाती है, जिससे शरीर में गर्माहट बनी रहे

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Fruits and Vegetable in Diet in Winter
Fruits and Vegetable in Diet in Winter
Prabhat Khabar Graphics

Fruits and Vegetable in Diet in Winter: इन दिनों सर्दियों का मौसम चल रहा है. शरीर में गर्माहट बनाए रखने के लिए कई खाद्य पदार्थ का इस्तेमाल होता है. बाजार में ढेर सारे फल और सब्जी मौजूद हैं, जिनका हम सेवन कर सकते हैं, पर उसका इस्तेमाल कैसे हो, इसके बारे में भी जानकारी जरूरी है.

जब किसी फल या सब्जी को खाने से शरीर में ठंडा या गर्म एहसास होता है या शरीर के तापमान में अंतर आता है तो ये बदलाव सब्जी की गर्म या ठंडी तासीर के कारण होता है. उदाहरण के तौर पर मेथी की तासीर गर्म होती है ऐसे में गर्मियों में इसका सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए. जबकि खीरे की तासीर ठंडी होती है. ऐसे में सर्दियों में खीरे को अपनी डाइट में सीमित मात्रा में जोड़ना चाहिए.

अदरक

सर्दियों में अदरक का खूब सेवन किया जाता है. चाय के अलावा काढ़ा बनाने में भी इसका प्रयोग किया जाता है. बता दें कि अदरक की तासीर गर्म होती है। वहीं अदरक के अंदर एंटीऑक्सीडेंट तत्व मजबूत मौजूद हैं जो ना केवल रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं बल्कि शरीर को कई समस्याओं से दूर भी रख सकते हैं.

खजूर

सर्दियों के मौसम में अक्सर खजूर (Dates in Winter Diet) खाने की सलाह दी जाती है. यह फल और ड्राई फ्रूट दोनों ही कैटेगरी में आता है. इसकी तासीर बेहद गर्म होती है. इसमें भारी मात्रा में पोटैशियम, कैल्शियम आदि जैसे पोषक तत्व पाएं जाते हैं तो हड्डियों को मजबूत करने में मदद करता है.

सरसों

गर्म तासीर वाले गुणों से युक्त सरसों के तेल का इस्तेमाल वैसे तो पूरे साल होता है लेकिन सर्दियों में इसका महत्व बहुत बढ़ जाता है. ठंड के मौसम में सरसों का साग खाने से मेटाबोलिज्म की दर बढ़ती है जिससे रोगों से बचाव होता है. सरसों में एंटी इंफ्लैमेटरी और एंटी सेप्टिक गुण पाये जाते हैं. इसके अलावा इममें सेलेनियम, मैग्नीशियम, जिंक, मैंगनीज, कैल्शियम, ओमेगा 3 जैसे माइक्रोन्यूट्रिएंट पाये जाते हैं जो स्किन और हेयर के लिए फायदेमंद होते हैं.

शहद

शहद भी गर्म तासीर वाली होती है इसलिए सर्दियों के मौसम में चीनी की जगह भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है. शहद सर्दी और खांसी के लिए एक बेस्ट आयुर्वेदिक औषधि है. गर्म तासीर जैसे गुणों से युक्त शहद में कम मात्रा में एंटीजन पाया जाता है जो इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करता है.

लहसुन

लहसुन की तासीर बेहद गर्म होती है. ऐसे में सर्दियों में इसका सेवन अधिक मात्रा में किया जा सकता है. सर्दियों में कुछ लोग इसका सेवन सब्जी बनाने में इस्तेमाल करते हैं तो कुछ लोग सुबह खाली पेट लहसुन की कच्ची कलियों का सेवन करते हैं. बता दें कि सर्दियों में लहसुन के सेवन से ना केवल ब्लड प्रेशर संतुलित रह सकता है बल्कि ये शरीर में ब्लड सरकुलेशन को भी बेहतर बना सकता है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें