1. home Hindi News
  2. health
  3. covid19 dangerous know coronavirus treatment prevention graphics

Graphics से समझिये Coronavirus कितना खतरनाक बन चुका है, जानिए Latest Updates

By SumitKumar Verma
Updated Date
Coronavirus Graphics
Coronavirus Graphics
Prabhat Khabar

कोरोना का कहर पूरे दुनिया में फैल चुका है. बावजूद इसके लोगों को डरने को नहीं एहतियात बरतने को कहा कहा जा रहा है. ऐसा इसलिए क्योंकि इसका इलाज एहतियात बरत कर ही किया जा सकता है. आइये ग्राफिक्स के जरिये जानते हैं कितना खतरनाक होता जा रहा यह वायरस, अबतक कितनों को लिया चपेट में और कैसे कर सकते हैं इससे बचाव..

भारत और विश्व में कोरोना का कहर

भारत में अबतक कोरोना से संक्रमण के कुल 918 मामले सामने आ चुके हैं. जिसमें 84 पूरी तरह ठीक हो गए हैं. जबकि 19 लोगों की इस वायरस से मौत गयी है.

Graphics से समझिये Coronavirus कितना खतरनाक बन चुका है, जानिए Latest Updates

वहीं विश्वभर में करीब 6 से अधिक मामले सामने आए हैं. जिसमें रीब 30000 लोगों की अबतक मौत हो चुकी है और जबकि 139000 के करीब लोग ठीक भी हुए है.

भारत में 17 दिन लॉकडाउन शेष

17 Days Lockdown Remaining
17 Days Lockdown Remaining
Prabhat Khabar

भारत में फिलहाल पूर्ण रूप से लॉकडाउन किया गया है. यह लॉकडाउन विश्व का सबसे बड़ा लॉकडाउन था. 21 दिन के लॉकडाउन में अब 17 दिन शेष रह गये है. हालांकि, लोग अबतक इसकी गंभीरता को समझ नहीं पाए है. किसी को पिकनीक वाला माहौल सुझ रहा तो कोई लोगों केक मजबूरी के फायदा उठा कर मुनाफाखाेरी में व्यस्त है. जाहिर से बात है, इस लॉकडाउन से प्रतिदिन कमा कर खाने वाले मजदूरों को बहुत कठिनाई हुई है. हालांकि सरकार इसके लिए लगातार प्रयासरत है. कई संगठन भी उनके मदद के लिए आगे आ रहे हैं.

लोगों के पलायन के बीच केंद्र सरकार अलर्ट

कोरोना वायरस के संक्रमण के कम्युनिटी ट्रांसमिशन तक पहुंचने की आशंका के बीच सरकार हेल्थ सेक्टर को और बेहतर करने में जुटी है़ राज्यों में प्रभावित रोगियों के लिए अलग अस्पताल की व्यवस्था करने के साथ ही वेंटिलेटर की खरीद की संख्या भी बढ़ायी जा रही है. किसी भी स्थिति से निबटने के लिए रेलवे व सशस्त्र बलों के संसाधनों का इस्तेमाल करने की तैयारी भी पूरी कर ली गयी है.

सेना के 28 अस्पताल चौकस हैं. वैसे कम्युनिटी स्तर पर वायरस के फैलाव का कोई ठोस साक्ष्य नहीं मिला है. फिर भी प्रमुख चिकित्सकों ने आशंका जतायी कि यदि लोगों ने लॉकडाउन और क्वारंटाइन के नियमों का सख्ती से पालन नहीं किया, तो संक्रमण के तीसरे चरण में पहुंचने का खतरा है. अब तक देश में कोरोना के 918 केस सामने आये, जिसमें से 19 की मौत हो चुकी है. इधर, लॉकडाउन के बावजूद बड़ी संख्या में प्रवासी श्रमिकों का सैकड़ों किलोमीटर दूर अपने मूल स्थानों की ओर पैदल जाना जारी है.

ये श्रमिक रास्ते में कठिनाइयों का सामना भी कर रहे हैं. इस बीच केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि लॉकडाउन में प्रवासी श्रमिकों को पूरा सहयोग देने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है. गृह मंत्रालय ने राज्यों से प्रवासी श्रमिकों के लिए तुरंत राहत शिविर स्थापित करने के लिए कहा है. साथ ही राजमार्गों के किनारे राहत शिविर स्थापित करने की भी सलाह दी है, जिसमें भोजन की व्यवस्था भी शामिल है. कोविड-19 के बढ़ते मामलों से निबटने की तैयारियों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नागरिक सहायता व आपात स्थिति राहत कोष बनाने की घोषणा की, जहां आमलोग सरकार का सहयोग कर सकते हैं. रेलवे ने रोगियों के इलाज के लिए ट्रेनों के कोच को ही आइसोलेशन वार्ड में तब्दील कर दिया है.

झारखंड, बिहार और बंगाल सरकार ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

हेल्पलाइन नंबर
हेल्पलाइन नंबर
Prabhat Khabar

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि हेल्पलाइन नंबर जारी करते हुए कहा कि बसों से श्रमिकों को भेजने का कदम लॉकडाउन को पूरी तरह असफल कर देगा. इससे महामारी और फैलेगी जिसकी रोकथाम और उससे निबटना सबके लिए मुश्किल होगा. जो जहां हैं, उनके लिए रहने-खाने की व्यवस्था वहीं की जाए.

झारखंड सरकार ने जारी किया कंट्रोल रूम का नंबर

Control Room Number
Control Room Number
Prabhat Khabar Graphics

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी पलायन कर रहे लोगों से अपील की है कि अगर कहीं फंसे हुए है तो श्रम विभाग कंट्रोल रूम के इन नंबरों पर कॉल करें.

बंगाल सरकार ने फंसे लोगों के लिए जारी किया नंबर

Bengal Control Number
Bengal Control Number
Prabhat Khabar

महामजबूरी में फंसे बंगाल की जनता के लिए बंगाल सरकार ने नंबर जारी किया है, जहां आप कॉल करके अपनी स्थिति और लोकेशन दर्ज करवा सकते है. सरकार वैसे जगहों पर फौरन मदद पहुंचायेगी.

कोरोना अपडेट झारखंड

कोरोना झारखंड
कोरोना झारखंड
Prabhat Khabar Graphics

आपको बता दें कि झारखंड में अबतक कोरोना का कोई भी पॉजीटिव मामला सामने नहीं आया है. हालांकि, 179 कुल सैंपल जांच हो चुके हैं, जिसमें 175 निगेअेव पाये गये है. बाकि, चार प्रतिक्षा में है.

कोरोना से टल रहीं शादियां लोग हो गये हैं सावधान

कोरोना से टल रहीं शादियां
कोरोना से टल रहीं शादियां
Prabhat Khabar

दुनिया में तबाही मचा रही कोरोना वायरस का साया शादियों पर भी पड़ने लगा है. आने वाले कुछ महीनों में जो शादियां होनी थीं, उन्हें या तो टाल दिया गया है या फिर रद्द कर दिया गया है. वेडिंग प्लानिंग वेबसाइट wedmegood.com ने 2500 जोड़ों को इस सर्वे में शामिल किया है. सर्वे में पता चला है कि कई लोग अपनी शादियां टालने पर विचार कर रहे हैं.

भारत में अप्रैल-जून में शादियां

भारत में अप्रैल-जून में शादियां
भारत में अप्रैल-जून में शादियां
Prabhat Khabar Graphics

आपको बता दें कि भारत में अप्रैल-जून में होने वाली शादियों को लेकर लोग संशय में है देखें ये रोचक आंकड़े

- 66% टीयर-2 शहरों के लोग शादी कैंसल नहीं करेंगे

- 55% उम्मीद है शादी करेंगे

- 45% आगे बढ़ायेंगे या रद्द करेंगे

विश्व में हर रोज ऐसे बढ़ रहे मामले

कोरोना वायरस महामारी के बीच चीन से हिंसा की घटनाएं सामने आ रही हैं. भारी संख्या में लोग हुबेई से बाहर जाने की कोशिश कर रहे हैं, जिससे भीड़ और जाम की स्थिति पैदा हो गयी है. बता दें कि इस दौरान चीन ने लॉकडाउन में ढील दी हुई है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हुबेई को पड़ोसी प्रांत जियांगशी से जोड़ने वाले पुल पर भी हिंसा हुई थी. भारी भीड़ लॉकगेट को खोलने के लिए चिल्ला रही थी. पुलिस की कुछ गाड़ियों को भी पलट दिया गया है. रिपोर्ट के अनुसार, ये हिंसा तब फैली, जब अधिकारियों ने पुलिस को ब्रिज पर तैनात कर दिया और लोगों की हुबेई से जियागशी प्रांत में एंट्री बंद कर दी.

Corona Case
Corona Case
Prabhat Khabar Graphics

चीन से फैला घातक कोरोना वायरस अब बुहत तेजी से दुनियाभर में फैल रहा है. अब तक विश्व के 199 देशों में छह लाख से अधिक लोग कोरोना पॉजिटिव हो गये हैं. हर रोज कोरोना के हजारों मामले सामने आ रहे हैं. महज दो दिनों में ही 1.25 लाख कोरोना के मामले सामने आये हैं, जो भयावह है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि अभी संकट और गहरा सकता है, क्योंकि दुनियाभर में इसके मामले लगातार बढ़ रहे हैं.

अकेले यूरोप में तीन लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं. अमेरिका में कोविड-19 के 105,000 से अधिक मरीज सामने आये हैं, जबकि चीन और इटली में क्रमश: 81,394 और 86,498 मामले हैं. डब्ल्यूएचओ के मुताबिक कोरोना के पहले से एक लाख तक पहुंचने में 67 दिन, एक से दो लाख तक पहुंचने में 11 दिन, दो से तीन लाख तक पहुंचने में चार दिन का समय लगा है. वहीं, पांच लाख से छह लाख तक पहुंचने में महज दो दिन से भी कम समय लगा है.

China Corona case
China Corona case
Prabhat Khabar

इटली में शुक्रवार को इस वायरस से करीब 1,000 लोगों की मौत हो गयी है. वैश्विक महामारी के फैलने से किसी भी देश में एक दिन में मरने वाले लोगों की यह सबसे अधिक मौत है. स्पेन ने कहा कि संक्रमण के नये मामले कम होते दिख रहे हैं, जबकि वहां भी कोरोना के कहर का अब तक का सबसे बुरा दिन रहा. एक ओर जहां यूरोप और अमेरिका कोरोना पर लगाम लगाने के लिए जूझ रहे हैं, वहीं सहायता समूहों ने आगाह किया है कि उचित कदम न उठाने पर कम आय वाले देशों और सीरिया तथा यमन जैसे युद्धग्रस्त देशों में लाखों लोग जान गंवा सकते हैं, जहां साफ-सफाई की स्थिति पहले से ही बदतर है.

चीन में हिंसा : हुबेई से बाहर जाने की कोशिश कर रहे लोग

Corona Victim Countries
Corona Victim Countries
Prabhat Khabar

कोरोना वायरस महामारी के बीच चीन से हिंसा की घटनाएं सामने आ रही हैं. भारी संख्या में लोग हुबेई से बाहर जाने की कोशिश कर रहे हैं, जिससे भीड़ और जाम की स्थिति पैदा हो गयी है. बता दें कि इस दौरान चीन ने लॉकडाउन में ढील दी हुई है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हुबेई को पड़ोसी प्रांत जियांगशी से जोड़ने वाले पुल पर भी हिंसा हुई थी. भारी भीड़ लॉकगेट को खोलने के लिए चिल्ला रही थी. पुलिस की कुछ गाड़ियों को भी पलट दिया गया है. रिपोर्ट के अनुसार, ये हिंसा तब फैली, जब अधिकारियों ने पुलिस को ब्रिज पर तैनात कर दिया और लोगों की हुबेई से जियागशी प्रांत में एंट्री बंद कर दी.

अमेरिका में एक लाख से अधिक लोग हुए संक्रमित

यूएस में हर रोज औसतन 15 हजार मामले आ रहे हैं, चीन और इटली से ज्यादा लोग पीड़ित हैं यहां

पिछले पांच दिनों का आंकड़ा
पिछले पांच दिनों का आंकड़ा
Prabhat Khabar

अमेरिका : न्यूयॉर्क सबसे ज्यादा प्रभावित

वाशिंगटन : अमेरिका में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. यहां हर रोज औसतन 15 हजार से अधिक संक्रमण के केस सामने आ रहे हैं. चीन और इटली को पीछे छोड़ते हुए अमेरिका संक्रमण के मामले में सबसे आगे निकल गया है. दुनियाभर में सबसे ज्यादा संक्रमित देशों की सूची में अमेरिका शीर्ष पर है. यहां अब एक लाख से अधिक लोग संक्रमित हो गये हैं. वहीं इटली में 87 हजार और चीन में 82 हजार से ज्यादा लोग बीमार हैं. अमेरिका में शनिवार तक करीब 1,700 से ज्यादा मौतें हो चुकी थी और यह आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है.

Corona case in Newyork
Corona case in Newyork
Prabhat Khabar

अमेरिका में संक्रमित मामलों पर मृत्यु दर इटली के करीब 10.5 प्रतिशत के मुकाबले करीब 1.5 प्रतिशत है. मृत्यु दर कम हो सकती है, क्योंकि बड़े पैमाने पर जांच से पता चला है कि ज्यादातर लोग संक्रमित हैं, लेकिन उनमें बीमारी से लक्षण नहीं दिखायी दिये हैं. सबसे अधिक मामले न्यूयॉर्क से सामने आ रहे हैं. यहां करीब 50 हजार लोग संक्रमित हैं. न्यूयॉर्क में 600 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

आप भी तो नहीं कर रहे कोई भूल, जानें कोरोना से बचाव के उपाय

Coronavirus
Coronavirus
Prabhat Khabar

कोरोना एक ऐसा वायरस है जिसका संक्रमण एक से दूसरे व्यक्ति में फैलता है. इसका अबतक कोई इलाज संभव नही हो पाया है.

Coronavirus
Coronavirus
Prabhat Khabar

इससे अगर बचना है तो लॉकडाउन का पालन करें, खुद को आस-पास को स्वच्छ रखें.

Corona
Corona
Prabhat Khabar

और इन ग्राफिक्सों के जरीये जानें इसके लक्षण और बचाव के उपाय और अपने तरफ से किसी चूक होने से बचें.

Corona Symptoms
Corona Symptoms
Prabhat Khabar
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें