1. home Home
  2. health
  3. coronavirus third and fourth wave who warns delta variant of corona in india amh

Corona Third Wave : Delta वेरिएंट मचाएगा तबाही! तीसरी नहीं चौथी लहर आने का खतरा

क्या भारत में तीसरी लहर और कुछ अन्य देशों में चौथी लहर जल्द आने वाली है ? दरअसल विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि कोरोना संक्रमण का डेल्टा वैरिएंट दुनिया के लिए एक चेतावनी है. corona, WHO, delta variant, symptoms of corona, treatment of corona

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Coronavirus Third Wave
Coronavirus Third Wave
pti
  • भारत में तीसरी लहर और कुछ अन्य देशों में चौथी लहर जल्द आने वाली है?

  • कोरोना संक्रमण का डेल्टा वैरिएंट दुनिया के लिए एक चेतावनी

  • पहले ही भारत में पाया गया तेजी से फैलने वाला ये वैरिएंट अब 132 देशों और क्षेत्रों में पाया गया

Coronavirus Third Wave : क्या भारत में तीसरी लहर और कुछ अन्य देशों में चौथी लहर जल्द आने वाली है ? दरअसल विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि कोरोना संक्रमण का डेल्टा वैरिएंट दुनिया के लिए एक चेतावनी है. डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि इससे पहले कि यह और भी बदतर हो जाए, इसे कम करने की जरूरत है. पहले ही भारत में पाया गया तेजी से फैलने वाला ये वैरिएंट अब 132 देशों और क्षेत्रों में पाया गया है.

यहां चर्चा कर दें कि कोरोना के बढ़ते केस के बाद जहां एक ओर भारत में तीसरी लहर की दस्तक के संकेत मिल रहे हैं, वहीं दुनिया के कई देशों में डेल्टा कोरोना की चौथी लहर का कारण बनता नजर आ रहा है. डब्ल्यूएचओ ने कहा कि कोरोना के डेल्टा वेरिएंट ने मिडिल ईस्ट यानी मध्य-पूर्व के देशों में चौथी लहर का रूप लेने का काम किया है और वहां कोरोना वायरस के मामलें में तेजी से बढ़ोतरी हुई है. उल्लेखनीय है कि मिडिल ईस्ट के देशों में वैक्सीनेशन दर काफी कम है.

डेल्टा स्वरूप गंभीर संक्रमण का कारक : कोरोना वायरस का डेल्टा स्वरूप, वायरस के अन्य सभी ज्ञात स्वरूपों की तुलना में अधिक गंभीर बीमारी का कारण बन सकता है. यह चेचक की तरह आसानी से फैलने की क्षमता रखता है. अमेरिकी स्वास्थ्य प्राधिकार के एक आंतरिक दस्तावेज का हवाला देते हुए मीडिया ने इस खबर को प्रकाशित की है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) के दस्तावेज में अप्रकाशित आंकड़ों के आधार पर दिखाया गया है कि वैक्सीन की सभी खुराकें ले चुके लोग भी बिना वैक्सीनेशन वाले लोगों जितना ही डेल्टा स्वरूप को फैला सकते हैं. सबसे पहले भारत में डेल्टा स्वरूप की पहचान की गयी थी.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें