1. home Hindi News
  2. health
  3. coronavirus one more death west bengal total three death toll covid19

Coronavirus से पश्चिम बंगाल में एक और मौत, कुल मृतकों की संख्या हुई तीन

By SumitKumar Verma
Updated Date
Coronavirus Death case in Bengal
Coronavirus Death case in Bengal
Prabhat Khabar

कोलकाता : दुनियाभर में तबाही मचाने वाला कोरोना वायरस अब भारत में भी पूरी तरह से पांव पसार चुका है. देश के कई हिस्सों से प्रतिदिन कई लोगों के संक्रमण की खबरें आ रही हैं. जिसमें अबतक 30 से अधिक जानें भी जा चुकी हैं.

मंगलवार को भी पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस से संक्रमित एक व्यक्ति की हावड़ा जिले के एक अस्पताल में मौत हो गई. यहां कोविड-19 संक्रमण के कारण मरने वालों की संख्या कुल तीन हो गई. स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि वह व्यक्ति हाल में राज्य के उत्तरी हिस्से की यात्रा पर गया था.

अधिकारी ने कहा, ‘‘जांच के परिणाम आने से पहले, सोमवार रात को उसकी मौत हो गई. जांच में पता चला कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित था.'' अधिकारी ने बताया कि पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस के चार नए मामले सामने आने के साथ राज्य में कोविड-19 संक्रमितों की कुल संख्या 26 हो गई.

आपको बता दें कि, पश्चिम बंगाल (West Bengal) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के फैलने की रफ्तार तेज हो गयी है. 24 घंटे के दौरान कोरोना से संक्रमित एक मरीज की मृत्यु हो गयी, जबकि 5 में संक्रमण की पुष्टि हुई है. सोमवार सुबह राज्य स्वास्थ्य विभाग की ओर से यह जानकारी दी गयी. बताया गया है कि 77 साल के एक और वृद्ध में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है. वह अपोलो अस्पताल में भर्ती हैं. इसके साथ ही राज्य में संक्रमित लोगों की संख्या 22 और मरने वालों की संख्या 2 हो गयी है.

रविवार (29 मार्च, 2020) की रात तक 4 लोगों के कोरोना से संक्रमित होने की खबर थी. इसमें भारतीय सेना के पूर्वी कमान के कमांड अस्पताल में तैनात एक चिकित्सक, हुगली के सेवड़ाफुली निवासी एक अधेड़, बारानगर के रहने वाले एक और अधेड़ तथा उत्तर बंगाल के कलिम्पोंग की 53 साल की एक महिला शामिल थी. महिला ने रविवार देर रात 2:00 बजे दम तोड़ दिया.

उत्तर बंगाल में जिस महिला की मौत हुई है, वह 26 मार्च, 2020 को अस्पताल में भर्ती हुई थी. वह विदेश यात्रा से लौटी थी. स्वास्थ्य विभाग ने कहा है कि विदेश से लौटने के बाद वह अपने इलाज के लिए दक्षिण भारत गयी थी. पहले तो हालात में कुछ सुधार हुआ था, लेकिन धीरे-धीरे वह फिर बीमार पड़ने लगी. बदन दर्द, बुखार, सर्दी और खांसी के लक्षणों के साथ उसे 26 मार्च को उत्तर बंग मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

डॉक्टरों ने 28 मार्च को इस बात की पुष्टि की कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित है. इसके बाद उसकी एक बेटी व उसका इलाज करने वाले चिकित्सक को होम क्वारेंटाइन कर दिया गया. करीब एक सप्ताह पहले इस महिला ने इसी डॉक्टर से इलाज कराया था. इस डॉक्टर ने महिला की जांच के बाद कहा था कि संभवत: वह कोरोना वायरस से संक्रमित है.

डॉक्टर के संदेह जताने के बाद महिला को उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया गया था. सांस लेने में तकलीफ हो रही थी. इसलिए उसे वेंटिलेटर पर रखा गया था. चिकित्सकों ने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से शरीर के अधिकार अंगों ने काम करना बंद कर दिया था, जिसकी वजह से देर रात 2:00 बजे महिला ने दम तोड़ दिया.

कुछ दिन पहले ही एक अधेड़ ने भी दम तोड़ दिया था. इस तरह से विभिन्न अस्पतालों में इलाजरत पीड़ितों की संख्या फिलहाल 20 बची है. हालांकि, लंदन से लौटे 18 साल के जिस युवक के शरीर में सबसे पहले संक्रमण की पुष्टि हुई थी, इलाज के बाद उसकी पहली जांच रिपोर्ट नेगेटिव है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें