1. home Home
  2. entertainment
  3. kangana ranaut will lose padmashri award politics on her remark bharat ko bhikh me mili azadi mtj

कंगना रनौत से छिन जायेगा पद्मश्री ? ‘भारत को भीख में मिली आजादी’ वाले बयान पर राजनीति गर्म

सोशल मीडिया पर वायरल हुई 24 सेकेंड की एक क्लिप में विवादित बयानों के लिए जानी जाने वाली बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत को कहते सुना जा सकता है..

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कंट्रोवर्सी ‘क्वीन’ कंगना रनौत
कंट्रोवर्सी ‘क्वीन’ कंगना रनौत
File Photo

नयी दिल्ली: कांग्रेस ने ‘भारत को आजादी भीख में मिलने’ संबंधी अभिनेत्री कंगना रनौत के बयान को लेकर बृहस्पतिवार को उन पर निशाना साधा. पार्टी ने कहा कि यह ‘देशद्रोह’ है और इसके लिए कंगना से पद्मश्री सम्मान वापस लिया जाना चाहिए.

सोशल मीडिया पर वायरल हुई 24 सेकेंड की एक क्लिप में विवादित बयानों के लिए जानी जाने वाली बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत को कहते सुना जा सकता है, ‘1947 में आजादी नहीं, बल्कि भीख मिली थी और जो आजादी मिली है, वह वर्ष 2014 में मिली.’

वह एक समाचार चैनल के कार्यक्रम में बोल रही थीं, जिसमें उनकी बात पर कुछ श्रोताओं को ताली बजाते भी सुना जा सकता है. कंगना की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने कहा, ‘मैं मांग करता हूं कि कंगना रनौत को अपने बयान के लिए सभी देशवासियों से माफी मांगनी चाहिए, क्योंकि हमारे स्वतंत्रता आंदोलन और स्वतंत्रता सेनानियों को अपमान हुआ है.’

उन्होंने यह भी कहा, ‘भारत सरकार को ऐसी महिला से पद्मश्री सम्मान वापस लेना चाहिए, जिसने महात्मा गांधी, सरदर पटेल, सुभाष चंद्र बोस, पंडित नेहरू, सरदार भगत सिंह का अपमान किया है. ऐसे लोगों को पद्मश्री देने का मतलब है कि सरकार इस तरह के लोगों को बढ़ावा दे रही है.’

गौरव वल्लभ ने आरोप लगाया कि कंगना का बयान ‘देशद्रोह’ है. वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने भी कंगना पर निशाना साधा और कहा कि उनका बयान उन लाखों लोगों का अपमान है, जिन्होंने देश की आजादी के लिए अपना बलिदान दिया.

उन्होंने जोर देकर कहा, ‘कंगना ने जो कहा है, उसका हर भारतीय नागरिक विरोध करेगा.’ इससे पहले, उदित राज ने भी ऐसी ही मांग की थी. दलितों के बड़े नेता उदित राज ने कंगना को पागल लड़की करार देते हुए उनसे पद्मश्री छीनने की मांग की थी.

कंगना रनौत के इस बयान की विपक्षी दलों के कई नेताओं ने आलोचना की है. दिल्ली की सत्ताधारी पार्टी आम आदमी पार्टी (आप) और महाराष्ट्र में एनसीपी और कांग्रेस के साथ मिलकर महा विकास अघाड़ी गठबंधन की सरकार चलाने वाली पार्टी शिव सेना ने भी कंगना रनौत पर केस दर्ज करने की मांग की है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें