''ऐसी फिल्म नहीं कर सकती, जिसमें हीरो लड़की के पीछे हाथ मारे और जनता मजा ले''

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बॉलीवुड अभिनेत्री भूमि पेडनेकर ने कहा है कि वह किसी स्त्री विरोधी फिल्म का हिस्सा नहीं बन सकती हैं. उन्होंने कहा, मैं ऐसी फिल्म करने में सहज नहीं हूं जिसमें हीरो, लड़की के नितंब पर मारता है और जनता मजे लेती है. उन्होंने आगे कहा, हर किरदार जो मैं निभाती हूं, वह अधिक चुनौतीपूर्ण होता है और मुझे बेहतर एक्टर बनाता है.

गौरतलब है कि बॉलीवुड में भूमि पेडनेकर ने अपने चार साल के करियर में खुद की एक अलग पहचान बनाई है. साल 2015 में 'दम लगा के हइशा' से फिल्मी दुनिया में कदम रखने वाली भूमि की सारी फिल्में हिट हुई हैं.

इस फिल्म के बाद उन्होंने 2017 में 'टॉयलेट एक प्रेम कथा' में काम किया. इस फिल्म में उन्होंने एक ऐसी महिला का किरदार निभाया है, जो अपने अधिकारों के लिए लड़ती है.

इस साल आयी फिल्म 'सांड की आंख' में भूमि ने 65 साल की बुजुर्ग महिला का किरदार निभाया है. वह बिल्कुल हटकर रोल मिलने पर जरा भी संकोच महसूस नहीं करती हैं. भूमि ने हाल ही में रिलीज हुई फिल्म 'बाला' में डार्क स्किन वाली लड़की का किरदार निभाया है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें