1. home Hindi News
  2. election
  3. former goa cm laxmikant parsekar resigns from bjp mtj

गोवा के पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भाजपा से दिया इस्तीफा, टिकट नहीं मिलने से थे नाराज

गोवा भाजपा के सीनियर लीडर और पूर्व मुख्यमंत्री लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भाजपा से इस्तीफा दे दिया है. अभी तय नहीं है कि वह आगे क्या करेंगे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
टिकट नहीं मिलने से नाराज लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भाजपा से तोड़ा नाता.
टिकट नहीं मिलने से नाराज लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भाजपा से तोड़ा नाता.
Twitter

Goa Assembly Election 2022: गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लक्ष्मीकांत पारसेकर (Laxmikant Parsekar) ने पार्टी छोड़ दी है. गोवा विधानसभा चुनाव (Goa Assembly Election 2022) में टिकट नहीं मिलने से नाराज लक्ष्मीकांत पारसेकर ने शनिवार को भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा (Laxmikant Parsekar resigns) दे दिया. श्री पारसेकर ने शनिवार को गोवा प्रदेश भाजपा (‍BJP) के अध्यक्ष सदानंद तानावड़े को अपना इस्तीफा सौंप दिया.

गोवा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष को सौंपा इस्तीफा

गोवा भाजपा अध्यक्ष को लिखी चिट्ठी में लक्ष्मीकांत ने अपने इस्तीफे की वजह नहीं बतायी है. सिर्फ इतना कहा है कि वह तत्काल प्रभाव से भाजपा से अपना रिश्ता तोड़ रहे हैं. प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा (Former Goa CM Laxmikant Parsekar Resigns) दे रहे हैं. उन्हें पार्टी के सभी जिम्मेवारियों से तत्काल मुक्त किया जाये. टिकट नहीं मिलने से नाराज लक्ष्मीकांत पारसेकर ने दिन में ही स्पष्ट कर दिया था कि वह पार्टी छोड़ देंगे.

भाजपा घोषणा-पत्र समिति के प्रमुख थे लक्ष्मीकांत पारसेकर

उन्होंने कहा था कि वह सत्तारूढ़ पार्टी से इस्तीफा दे देंगे. 65 वर्षीय लक्ष्मीकांत ने कहा था कि वह पार्टी में नहीं रहना चाहते हैं और आज शाम तक अपना त्यागपत्र औपचारिक रूप से सौंप देंगे. पारसेकर गोवा विधानसभा चुनाव 2022 के लिए भाजपा की घोषणा-पत्र समिति के प्रमुख थे और पार्टी कोर समिति के भी सदस्य थे. भाजपा ने मांद्रेम विधानसभा सीट के लिए मौजूदा विधायक दयानंद सोपते को नामांकित किया है.

सोपते से पराजित हो गये थे पारसेकर

इस सीट का पारसेकर ने वर्ष 2002 से 2017 के बीच प्रतिनिधित्व किया था. सोपते ने वर्ष 2017 के राज्य विधानसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर पारसेकर को हराया था, लेकिन वर्ष 2019 में 9 अन्य नेताओं के साथ सत्तारूढ़ पार्टी में शामिल हो गये थे. लक्ष्मीकांत पारसेकर ने कहा, ‘फिलहाल, मैंने इस्तीफा देने का फैसला किया है. मैं आगे क्या करूंगा, इसका फैसला बाद में करूंगा.’

भाजपा कार्यकर्ताओं की उपेक्षा का सोपते पर लगाया आरोप

लक्ष्मीकांत पारसेकर ने कहा कि सोपते मांद्रेम में मूल भाजपा कार्यकर्ताओं को नजरअंदाज कर रहे हैं. इससे उनके भीतर व्यापक असंतोष है. लक्ष्मीकांत पारसेकर वर्ष 2014 से 2017 के बीच गोवा के मुख्यमंत्री थे. उन्हें तत्कालीन मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल किये जाने के बाद राज्य का मुख्यमंत्री चुना गया था.

2017 में भाजपा ने जीती थी 13 सीटें

भाजपा ने 14 फरवरी के गोवा विधानसभा चुनाव के लिए 34 प्रत्याशियों की पहली सूची की घोषणा कर दी है. राज्य में विधानसभा की 40 सीट हैं. वर्ष 2017 में भाजपा ने यहां 13 सीटें जीतीं थीं. कांग्रेस के हिस्से में 17 सीटें आयीं थीं. हालांकि, क्षेत्रीय दलों की मदद से भाजपा ने यहां सरकार बनायी थी.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें