16.1 C
Ranchi
Tuesday, February 27, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

बिहार शिक्षक भर्ती में दूसरे राज्यों के टीचरों की हुई थी बहाली, 30 नवंबर तक योगदान का समय, जानिए पूरा मामला

BPSC Teacher Exam: बिहार में बीपीएससी की ओर से शिक्षकों की भर्ती हुई है. इसमें दूसरे राज्यों के कई शिक्षकों की भी बहाली हुई है. इनमें यूपी के शिक्षकों की संख्या सबसे ज्यादा है.

BPSC Teacher Exam: बिहार में बीपीएससी की ओर से शिक्षकों की भर्ती ली गई है. इसमें दूसरे राज्यों के कई शिक्षक भी शामिल है. इनमें यूपी के शिक्षकों की संख्या सबसे अधिक है. वहीं, अब पटना जिला शिक्षा कार्यालय की ओर से यह आदेश जारी किया गया है कि ने 30 नवंबर तक दूसरे राज्यों के शिक्षकों को योगदान करने का समय दिया है. मालूम हो कि राजधानी के बीपीएससी से नवनियुक्त शिक्षकों की ग्रामीण इलाके के स्कूलों में योगदान करने की प्रक्रिया अब भी जारी है. पटना जिले में चार हजार 800 शिक्षकों की काउंसेलिंग की गयी थी, इनमें से चार हजार 400 शिक्षकों को पदस्थापन पत्र दिया गया है. जिला शिक्षा कार्यालय के अनुसार अब तक तीन हजार नवनियुक्त शिक्षकों ने स्कूलों में योगदान कर लिया है. 400 ऐसे शिक्षक हैं, जो विभिन्न स्कूलों में नियोजित शिक्षक के रूप में कार्यरत हैं.


जिला शिक्षा पदाधिकारी ने नियोजित शिक्षकों की मांगी सूची

नियोजित शिक्षक के रूप में कार्यरत शिक्षकों का आंकड़ा जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय जुटाने में लगा हुआ है. जानकारी इकट्ठा की जा रही है कि कितने नियोजित शिक्षकों ने योगदान किया है. जिला शिक्षा पदाधिकारी ने सभी स्कूलों के प्रधान से सूची मांगी है कि उनके स्कूल में कितने नियोजित शिक्षक कार्यरत थे और उन्हाेंने कितने नियोजित शिक्षकों को नये स्कूल में योगदान करने के लिए विरमित पत्र दिया है. पटना कॉलेजिएट स्कूल के प्राचार्य अफजल सआदत हुसैन ने कहा कि यहां कुल सात नियोजित शिक्षक कार्यरत थे, जिनमें से पांच शिक्षकों ने विरमित होने के लिए आवेदन दिया है. ये पांच शिक्षक नयी जगहों पर योगदान देंगे. गर्दनीबाग राजकीय बालिका उच्च विद्यालय की प्राचार्य डॉ पूनम सिन्हा ने बताया कि यहां चार शिक्षक नियोजित थे, जिनमें दो शिक्षकों को विरमित होने का पत्र दिया गया है. दो अतिथि शिक्षक कार्यरत थे, उन सभी का बीपीएससी द्वारा चयन हो चुका है. अतिथि शिक्षकों ने दूसरी जगह स्कूलों में योगदान कर लिया है. इस संबंंध में जिला शिक्षा पदाधिकारी अमित कुमार ने भी जानकारी दी है. उन्होंने बताया है कि स्कूलों से नियोजित शिक्षकों की सूची मांगी गयी है.

Also Read: Sonpur Mela: ऐतिहासिक सोनपुर मेले में फूलों का बाजार भी सजा, दूर- दूर से खरीदने आते हैं लोग, जानें खासियत
30 नवंबर के बाद नहीं दे सकेंगे योगदान

बता दें कि जिला शिक्षा कार्यालय दूसरे राज्यों के शिक्षकों को 30 नवंबर तक योगदान करने का समय दिया है. इसमें वह शिक्षक शामिल हैं, जिन्होंने अभी तक अपना योगदान नहीं दिया है. दूसरे राज्य के शिक्षकों को 30 नवंबर तक स्कूलों में अपना योगदान देना होगा. इसके बाद यह पहुंचते है तो योगदान नहीं दे सकेंगे. इधर, बीपीएससी की ओर से दूसरे चरण की भी शिक्षक बहाली होने वाली है. फिलहाल, द्वितीय शिक्षक नियुक्ति परीक्षा की तिथि में बदलाव हुआ है. 14 15 और 16 दिसंबर को होने वाली परीक्षा की तारीख को बदल दिया गया है. अब यह परीक्षा सात, 14 और 15 दिसंबर को आयोजित की जाएगी. बीपीएससी के अध्यक्ष ने इस मामले में जानकारी साझा की थी. अभ्यर्थी अगर शिक्षक भर्ती से जुड़ी हुई कोई भी जानकारी लेना चाहते है तो वह बीपीएससी के आधिकारिक वेबसाइट से ले सकते हैं. परीक्षा का कार्यक्रम भी बीपीएससी की ओर से साझा किया गया है. शिक्षक भर्ती परीक्षा के दूसरे चरण का शेड्यूल जारी हो चुका है. बताया जाता है कि पांच दिसंबर या इससे पहले दूसरे चरण के अभ्यर्थियों के लिए एडमिट कार्ड भी जारी कर दिया जाएगा. हांलाकि, बीपीएससी की ओर से इसको लेकर कोई आधिकारिक जानकारी साझा नहीं की गई है. वहीं, बीपीएससी की आधिकारिक वेबसाइट से अभ्यर्थी एडमिट कार्ड को डाइनलोड कर सकते हैं. इसके बाद उन्हें अपना रजिस्ट्रेशन नंबर और रोल नबंर अंकित करना होगा. अभ्यर्थियों को एडमिट कार्ड डाउनलोड करने के बाद इसकी प्रति अपने पास रखना अनिवार्य है.

Also Read: बिहार: मुजफ्फरपुर में अनियंत्रित ऑटो की ट्रक से हुई टक्कर, गंगा स्नान कर लौट रहे तीन लोगों की मौत, कई घायल

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें