1. home Hindi News
  2. career
  3. sarkari naukri 2020 railway recruitment 2020 rrc secr apprentice vacancy check rrb rrc railway jobs exam date admit card all latest updates here railway me naukri amh

Sarkari Naukri 2020 : 10वीं पास के लिए रेलवे में नौकरी वो भी बिना परीक्षा दिये, जानिए आवेदन का तरीका

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Sarkari Naukri
Sarkari Naukri
Twitter

यदि आप सरकारी नौकरी (Sarkari Naukri 2020) की तलाश कर रहे हैं और वो भी रेलवे (Railway Recruitment 2020 ) में तो यह खबर आपके लिए खास है. जी हां…दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर मंडल और वैगनरिपेयर शॉप रायपुर में अप्रेंटाइस की 413 वैकेंसी निकाली गई है.

इन नियुक्तियों की बात करें तो ये विभिन्न ट्रेड के लिए की जाएंगी. यदि आप भी इच्छुक और योग्य उम्मीदवारों हैं तो नौकरी के लिए ऑनलाइन आवेदन कर दें. यहां खास बात यह है कि अप्रेंटाइस की भर्ती के लिए आवेदन करने वाले को कोई परीक्षा नहीं देनी होगी. भर्ती 10वीं कक्षा और आईटीआई कोर्स के मार्क्स के आधार पर की जाएगी.

मार्क्स के आधार पर एक मेरिट बनाई जाएगी. इसी मेरिट के आधार पर उम्मीदवारों का चयन करने का काम किया जाएगा. यदि आप भी इच्छुक उम्मीदवारों में शामिल हैं तो apprenticeshipindia.org पर जाकर 1 दिसंबर तक ऑनलाइन आवेदन कर दें.

जरूरी बातें जान लें-

योग्यता की बात : इच्छुक उम्मीदवार को मान्यता प्राप्त संस्थान या बोर्ड से 10वीं की परीक्षा पास होना चाहिए. साथ ही पद से संबंधित ट्रेड में आईटीआई सर्टिफिकेट उनके पास होना चाहिए.

आयु सीमा की बात : उम्मीदवार की न्यूनतम 15 और अधिकतम 24 वर्ष से कम होनी चाहिए. आयु की गणना 01 जुलाई 2020 से करने का काम किया जाएगा. अधिकतम आयु सीमा में ओबीसी वर्ग को तीन वर्ष, एससी/एसटी वर्ग के उम्मीदवारों को पांच वर्ष और दिव्यांगों को दस वर्ष की छूट देने का काम किया जाएगा.

चयन प्रक्रिया के बारे में जानें: योग्य उम्मीदवारों का चयन शैक्षणिक योग्यता में प्राप्त अंकों के आधार पर होगा. इसके लिए मेरिट सूची तैयार की जाएगी.

ये करने से बचें : अभ्यर्थी आवेदन करते वक्त अपने 10वीं और आईटीआई के अंक को पोर्टल पर योग्यता सेक्शन में निश्चित रूप से भरें. यदि ऐसा नहीं करेंगे तो आवेदन पर विचार नहीं किया जाएगा और आवेदन रद्द कर दिया जाएगा.

चयन के बाद क्या : चयनित अभ्यर्थी को ट्रेनी के रूप में एंगेज किया जाएगा और उन्हें 1 वर्ष की अवधि के लिए ट्रेनी/अप्रेंटाइसशिप ट्रेनिंग के लिए भेजने का काम किया जाएगा. इस बीदच छत्तीसगढ़ सरकार के नियमानुसार स्टाइपेंड चयनित अभ्यर्थी को दिया जाएगा. अप्रेंटाइसशिप ट्रेनिंग पूरा हो जाने के बाद उनका प्रशिक्षण खत्म हो जाएगा. ट्रेनिंग खत्म होने के बाद किसी भी ट्रेनी को किसी भी रोजगार के प्रस्ताव के लिए नियोक्ता बाध्य नहीं होगा. साथ ही ही ट्रेनी नियोक्ता द्वारा प्रस्तावित किसी भी रोजगार को स्वीकार करने के लिए बाध्य माना जाएगा.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें