1. home Hindi News
  2. career
  3. guidelines for upsc 2020 preliminary examination released

UPSC 2020: परीक्षा केंद्र में जाने से पहले जान लें ये जरूरी बातें

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
यूपीएससी 2020
यूपीएससी 2020
Photo: Twitter

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने 4 अक्टूबर को प्रस्तावित सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा को स्थगित करने से इंकार कर दिया. अब परीक्षा तय तिथि और समय पर ही होगी. परीक्षा के लिये तकरीबन 10 लाख स्टूडेंट्स ने आवेदन किया था. यूपीएससी से मिली जानकारी के मुताबिक इनमें से साढ़े छह लाख अभ्यर्थियों ने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिया है.

जाहिर है कि अभ्यर्थियों ने अपनी तैयारी कर ली होगी. तैयारी के लिए मुकम्मल से भी ज्यादा वक्त मिला है. इस वीडियो में आपको बताएंगे कि परीक्षा के दौरान आपको कौन सी गाइडलाइन का पालन करना होगा. आयोग की तरफ से क्या नियम बनाए गए हैं.

आयोग ने जारी की गाइडलाइन

आयोग की गाइडलाइन के मुताबिक किसी भी परीक्षार्थी को बिना फेस मास्क के परीक्षा केंद्र में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. परीक्षार्थियों को कोविड से बचाव के तमाम नियमों का पालन करना होगा.

परीक्षा हॉल में प्रवेश करने से पहले और परीक्षा केंद्र परिसर में भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा. इसके लिए उचित दूरी पर निशान बनाए जाएंगे.

परीक्षार्थी को अपने साथ अपनी फोटो आईडी ले जाना जरूरी होगा, ध्यान रहे कि जिस आईडी कार्ड का नंबर आपके ई-एडमिट कार्ड पर दर्ज है वही मान्य होगा.

यदि ई-एडमिट कार्ड पर आपकी तस्वीर साफ नहीं है तो आपको 2 अतिरिक्त फोटो परीक्षा केंद्र पर ले जानी होगी. ये फोटो ई-एडमिट कार्ड पर इस्तेमाल की गई तस्वीर की कॉपी होनी चाहिए

परीक्षा केंद्र दोनों ही पालियों में तय समय से 10 मिनट पहले ही बंद हो जाएंगे. ओएमआर शीट भरने के लिए ब्लैक बॉल पैन ले जाना होगा.

उम्मीदवारों को परीक्षा केंद्र में साधारण कलाई घड़ी पहनने की अनुमति होगी .स्मार्ट घड़ियां पहनने की इजाजत नहीं दी जायेगी. ध्यान रहे किसी भी तरह का इलेक्ट्रॉनिक उपकरण ले जाने की सख्त मनाही है. मोबाइल फोन स्वीच ऑफ होने पर भी परीक्षा हॉल में ले जाने की अनुमति नहीं होगी.

आयोग ने परीक्षार्थियों को अपने साथ हैंड सेनिटाइजर ले जाने की अनुमति दी है. शर्त केवल इतना है कि सेनिटाइजर की बोतल पारदर्शी होनी चाहिए.

सुप्रीम कोर्ट का परीक्षा स्थगित करने से इंकार

आयोग की तरफ से सिविल सेवा परीक्षा 2020 के लिए 72 शहरों में 2,569 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा स्थगित करने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई के दौरान यूपीएससी की तरफ से बताया गया कि परीक्षा के आयोजन के लिए अभी तक 50 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं. यदि परीक्षा स्थगित की गई तो सरकारी पैसे का नुकसान होगा.

यूपीएससी के संयुक्त सचिव राज कुमार ने लिखित हलफनामा दिया. इसमें बताया गया कि यदि 4 अक्टूबर 2020 को होने वाली सिविल सेवा की प्रांरंभित परीक्षा टाली गयी तो 27 जून 2021 को प्रस्तावित परीक्षा की तारीख भी आगे बढ़ना होगा जिससे काफी दिक्कतें पेश आएंगे.

बताया गया कि परीक्षा की तैयारी की जा चुकी है. परीक्षा सामग्री, अटेंडेंट शीट इनविजिलेटर और सुपरवाइजर की लिस्ट संबंधित परीक्षा केंद्र में भेजी जा चुकी है

Posted By- Suraj Kumar Thakur

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें