1. home Hindi News
  2. business
  3. sip investment you can get better returns by depositing rs 500 every month know how to get benefit vwt

SIP Investment : हर महीने केवल 500 रुपये बचाने से हो सकती है लाखों की कमाई, जानिए कैसे मिलेगा फायदा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
एसआईपी में निवेश के फायदे.
एसआईपी में निवेश के फायदे.
फाइल फोटो.

SIP Investment : कोरोना महामारी के इस दौर में प्राय: हर कोई कम रकम निवेश करने के बाद आमदनी का अतिरिक्त जरिए खोज रहा है, ताकि आर्थिक संकट को कम किया जा सके. हालांकि, बाजार में निवेश के कई विकल्प मौजूद हैं, लेकिन कई लोग म्यूचुअल फंडों या फिर एसआईपी को बेहतर विकल्प के तौर पर चुनते हैं. शेयर बाजार में म्यूचुअल फंडों का रिटर्न भी अब करीब-करीब सुधरने लगा है. खासकर, लॉकडाउन के बाद से इक्विटी फंडों में सुधार आ रहा है. ऐसी स्थिति में बेहतर रिटर्न पाने के लिए सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (एसआईपी) को निवेश विकल्प के तौर पर चुना जा सकता है.

100-500 रुपये महीने से भी शुरू कर सकते हैं एसआईपी

एसआईपी म्यूचुअल फंड में निवेश करने का सबसे सुरक्षित और बेहतर तरीका माना जाता है. एसआईपी में अपना पैसा एकमुश्त जमा करने की बजाय हर महीने में एक निर्धारित किस्त के तौर पर भी जमा कर सकते हैं. ऐसा निवेश छोटे निवेशकों के लिए फायदेमंद साबित हो है. इसका कारण यह है कि इसमें समय-समय पर अपनी आमदनी का हिसाब-किताब बैठाकर एसआईपी की रकम बढ़ाई भी जा सकती है. एसआईपी में लंबी अवधि में हाई रिटर्न की संभावना भी ज्यादा होती है. बाजार में ऐसी बहुत सी एसआईपी स्कीम है, जिनमें निवेशक 100 से 500 रुपये में भी अपना निवेश शुरू कर सकते हैं.

एसआईपी में निवेश के फायदे

  • एसआईपी इक्विटी या डेट फंड में निवेश उनके लिए एक बेहतर विकल्प है, जो बाजार की जोखिम से दूर रहना चाहते हैं.

  • इसके जरिए कैपिटल मार्केट में छोटी राशि और आसान किस्तों साथ निवेश की प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं.

  • एसआईपी में निवेशकों को कंपाउंडिंग का फायदा मिलता है. लंबी अवधि में ज्यादा रिटर्न मिलने की संभावना होती है.

  • हर महीने किस्त जमा करने से जब बाजार में रिटर्न बढ़ रहा हो, तो टॉपअप एसआईपी के जरिए किस्त बढ़ा सकते हैं.

  • बाजार में गिरावट आने पर एसआईपी पॉज करने की भी सुविधा है. फिर बाजार सही होने पर इसे जारी रख सकते हैं.

  • एसआईपी के तहत फंड हाउस को स्टैंडिंग इंस्ट्रक्शन देकर बैंक अकाउंट से ऑटो डेबिट की सुविधा भी ले सकते हैं, जिससे हर महीने आपके बैंक अकाउंट से अपने आप किस्त की राशि कट जाएगी.

किन दस्तावेजों की पड़ेगी जरूरत

  • एसआईपी शुरू करने के लिए केवाईसी की प्रक्रिया जरूरी होती है.

  • इसके लिए पैनकॉर्ड, एड्रेसप्रूफ, पासपोर्ट आकार के फोटोग्रॉफ और चेकबुक आपके पास होने चाहिए.

  • एसआईपी पेमेंट के डेबिट के लिए आपको बैंक अकाउंट डिटेल भी देने होंगे.

  • ऑनलाइन ट्रांसजेक्शन के लिए आपको एक यूजर नेम और पॉसवर्ड बनाना होगा.

  • ऑनलाइन एसआईपी शुरू करने के लिए आप किसी फंड हाउस की वेबसाइट पर जाकर एसपीआई चुन सकते हैं.

Posted by : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें