17.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

HomeदेशShare Market: हरे निशान के साथ खुला बाजार, Gift Nifty से लेकर US policy तक इन 6 चीजों ने...

Share Market: हरे निशान के साथ खुला बाजार, Gift Nifty से लेकर US policy तक इन 6 चीजों ने बदली मार्केट की दिशा

Share Market: भारतीय शेयर बाजार लगातार बड़ी गिरावट के बाद गुरुवार को संभलकर खुला है. ग्लोबल मार्केट से मिल रहे मजबूत संकेतों के बीच आज प्री-ओपनिंग में हरे के निशान के साथ हुई. बाजार खुलते ही, तीस शेयरों वाला BSE सेंसेक्स 450 अंक चढ़ कर कारबोर कर रहा है.

Undefined
Share market: हरे निशान के साथ खुला बाजार, gift nifty से लेकर us policy तक इन 6 चीजों ने बदली मार्केट की दिशा 8

Share Market: भारतीय शेयर बाजार लगातार बड़ी गिरावट के बाद गुरुवार को संभलकर खुला है. ग्लोबल मार्केट से मिल रहे मजबूत संकेतों के बीच आज प्री-ओपनिंग में हरे के निशान के साथ हुई. बाजार खुलते ही, तीस शेयरों वाला BSE सेंसेक्स 450 अंक चढ़ कर कारबोर कर रहा है. जबकि, निफ्टी भी 19100 के पार कारोबार करता हुआ दिखा. इससे पहले सुबह 7.30 बजे गिफ्ट निफ्टी करीब 100 अंक ऊपर 19,200 पर कारोबार कर रहा है. ऐसे में आइये जानते हैं कि कौन-कौन से ऐसे कारण हैं जिसके कारण आज शेयर बाजार में रौनक वापस आयी है.

Undefined
Share market: हरे निशान के साथ खुला बाजार, gift nifty से लेकर us policy तक इन 6 चीजों ने बदली मार्केट की दिशा 9

एशियाई बाजार

अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा अपनी बेंचमार्क ब्याज दरों में परिवर्तन नहीं करने के फैसले के बाद, वॉल स्ट्रीट पर रात भर की बढ़त के बाद गुरुवार को एशियाई बाजारों में तेजी रही. जापान के निक्केई 225 में 1.22% और टॉपिक्स में 0.95% की बढ़त हुई. दक्षिण कोरिया का कोस्पी 1.62% चढ़ा, जबकि कोस्डैक 2.10% उछला. हांगकांग का हैंग सेंग सूचकांक वायदा एचएसआई के 17,101.78 के बंद स्तर की तुलना में 17,157 पर अधिक रहा. ऑस्ट्रेलिया का S&P/ASX 200 1.17% बढ़ा. इस बीच, गिफ्ट निफ्टी 19,225 के स्तर के आसपास कारोबार कर रहा था, जबकि निफ्टी वायदा 19,054 के पिछले बंद स्तर पर था, जो भारतीय बेंचमार्क सूचकांकों के लिए अंतराल-अप शुरुआत का संकेत देता है.

Undefined
Share market: हरे निशान के साथ खुला बाजार, gift nifty से लेकर us policy तक इन 6 चीजों ने बदली मार्केट की दिशा 10

वॉल स्ट्रीट

अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों को अपरिवर्तित रखने के बाद अमेरिकी शेयर बाजार सूचकांक बुधवार को उच्च स्तर पर बंद हुए, जबकि इसके शीर्ष अधिकारी की टिप्पणियों ने आशावाद को बढ़ावा दिया कि दरों में बढ़ोतरी की गई थी, भले ही केंद्रीय बैंक ने और अधिक के लिए दरवाजा खुला रखा हो. डॉव जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज 221.71 अंक या 0.67% बढ़कर 33,274.58 पर पहुंच गया, जबकि एसएंडपी 500 44.06 अंक या 1.05% उछलकर 4,237.86 पर पहुंच गया. नैस्डैक कंपोजिट 210.23 अंक या 1.64% बढ़कर 13,061.47 पर बंद हुआ. शेयरों के बीच, कंपनी के अगले सप्ताह दिवालियापन दायर करने की योजना के बारे में मीडिया रिपोर्टों के बाद WeWork के शेयरों में 46.49% की गिरावट आई. चिप बिक्री के पूर्वानुमान के बाद एडवांस्ड माइक्रो डिवाइसेज के शेयरों में लगभग 10% की बढ़ोतरी हुई. सौंदर्य उत्पाद निर्माता द्वारा अपने वार्षिक लाभ दृष्टिकोण में कटौती के बाद एस्टी लॉडर के शेयर की कीमत 18.9% गिर गई. चौथी तिमाही के राजस्व में गिरावट के अनुमान के बाद पेकॉम सॉफ्टवेयर के शेयरों में 38.5% की गिरावट आई. चौथी तिमाही में अनुमान से कम राजस्व का अनुमान लगाने के बाद मैच ग्रुप के शेयर की कीमत में 15.3% की गिरावट आई.

Also Read: Share Market: Tata Steel, Hero, Britannia, Ambuja समेत ये शेयर करा सकते हैं बंपर कमाई, तुरंत तैयार करें लिस्ट
Undefined
Share market: हरे निशान के साथ खुला बाजार, gift nifty से लेकर us policy तक इन 6 चीजों ने बदली मार्केट की दिशा 11

यूएस फेड नीति

अमेरिकी फेडरल रिजर्व के अध्यक्ष जेरोम पॉवेल के नेतृत्व वाली फेडरल ओपन मार्केट कमेटी (एफओएमसी) ने बेंचमार्क ब्याज दरों को 5.25% – 5.50% की सीमा में अपरिवर्तित छोड़ दिया. केंद्रीय बैंक ने एक बयान में कहा, फेड के अपने बेंचमार्क ऋण दर को 22 साल के उच्चतम स्तर पर रखने के फैसले से नीति निर्माताओं को “अतिरिक्त जानकारी और मौद्रिक नीति के लिए इसके निहितार्थ का आकलन करने” का समय मिलता है. अमेरिकी केंद्रीय बैंक ने कहा कि नीति निर्धारण पर भविष्य में कोई भी निर्णय “मौद्रिक नीति की संचयी सख्ती को ध्यान में रखा जाएगा, मौद्रिक नीति आर्थिक गतिविधि और मुद्रास्फीति के साथ-साथ आर्थिक और वित्तीय विकास को प्रभावित करती है.”

Undefined
Share market: हरे निशान के साथ खुला बाजार, gift nifty से लेकर us policy तक इन 6 चीजों ने बदली मार्केट की दिशा 12

जापान ने मुद्रास्फीति से निपटने के लिए 113 अरब डॉलर के पैकेज की घोषणा की

जापानी प्रधान मंत्री फुमियो किशिदा ने कहा कि सरकार बढ़ती मुद्रास्फीति से आर्थिक झटके को कम करने के उपायों के पैकेज में 17 ट्रिलियन येन (113 बिलियन डॉलर) से अधिक खर्च करेगी, जिसमें कर कटौती भी शामिल होगी, रॉयटर्स ने बताया. किशिदा ने संवाददाताओं से कहा कि खर्च के एक हिस्से को वित्तपोषित करने के लिए सरकार चालू वित्त वर्ष के लिए 13.1 ट्रिलियन येन का अनुपूरक बजट तैयार करेगी. मीडिया रिपोर्टस के अनुसार, पहले भी बताया गया था कि सरकार पैकेज के लिए 17 ट्रिलियन येन से अधिक खर्च करने पर विचार कर रही है, जिसमें आय और आवासीय करों में अस्थायी कटौती के साथ-साथ गैसोलीन और उपयोगिता बिलों पर अंकुश लगाने के लिए सब्सिडी भी शामिल होगी.

Undefined
Share market: हरे निशान के साथ खुला बाजार, gift nifty से लेकर us policy तक इन 6 चीजों ने बदली मार्केट की दिशा 13

अमेरिकी डॉलर सूचकांक में गिरावट

अमेरिकी डॉलर गुरुवार को मोटे तौर पर गिर गया, बढ़ती उम्मीदों के बीच अमेरिकी ट्रेजरी पैदावार में गिरावट को देखते हुए कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने दरों को अपरिवर्तित छोड़ने के बाद अपने आक्रामक मौद्रिक नीति को सख्त करने का चक्र पूरा कर लिया है. अमेरिकी डॉलर सूचकांक 0.11% गिरकर 106.34 पर आ गया. दो साल की अमेरिकी ट्रेजरी उपज, जो आम तौर पर निकट अवधि की ब्याज दर की उम्मीदों को दर्शाती है, गुरुवार को लगभग दो महीने के निचले स्तर 4.9250% पर गिर गई, जबकि बेंचमार्क 10 साल की उपज दो सप्ताह के निचले स्तर 4.7070% पर गिर गई. . जापानी येन पिछली बार 150.44 प्रति डॉलर पर था, जबकि स्टर्लिंग 0.35% बढ़कर 1.2192 डॉलर और यूरो 0.18% बढ़कर 1.0589 डॉलर हो गया.

Undefined
Share market: हरे निशान के साथ खुला बाजार, gift nifty से लेकर us policy तक इन 6 चीजों ने बदली मार्केट की दिशा 14

जीएसटी संग्रह सालाना 13% बढ़कर ₹1.72 लाख करोड़ हो गया

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) राजस्व संग्रह इस साल अक्टूबर में सालाना 13% बढ़कर ₹1.72 लाख करोड़ हो गया, जो अब तक का दूसरा सबसे बड़ा जीएसटी राजस्व संग्रह है. कुल सकल जीएसटी में से, ₹30,062 करोड़ सीजीएसटी है, ₹38,171 करोड़ एसजीएसटी है, ₹91,315 करोड़ आईजीएसटी है और ₹12,456 करोड़ उपकर है. अक्टूबर में केंद्र और राज्यों का कुल राजस्व सीजीएसटी के लिए ₹72,934 करोड़ और एसजीएसटी के लिए ₹74,785 करोड़ रहा.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें